Login to your account

Username *
Password *
Remember Me

करवाचौथ: दिल्ली में कब होगा चंद्रउदय, 70 सालों बाद बन रहा शुभ संयोग

पति पत्नी के प्यार का प्रतीक करवा चौथ का त्यौहार पूरे देश में धूमधाम से मनाया जा रहा है। महिलाएं इस बार 70 साल पर रोहिणी नक्षत्र के शुभ संयोग में पति की दीघार्यु की कामना करेंगी। पति की लंबी उम्र की कामना के साथ महिलाएं आज पूरे दिन निर्जला व्रत रख रही हैं करवा चौथ के व्रत में छलनी का विशेष महत्व है। बता दें कि इस साल व्रत की समय सीमा 14 घंटे की रहेगी।

Image result for karva chauth 2019

करवाचौथ का व्रत कब होता है जानिए

हिन्दू पंचांग के अनुसार, कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को करवा चौथ का त्यौहार होता है। इसमें भी विशेष रूप से चतुर्थी तिथि जिस दिन रात में चन्द्रमा उदय होने तक रहे, उस दिन करवा चौथ का व्रत होता है।

Image result for karva chauth 2019

ज्योतिषाचार्यों के अनुसार 70 सालों बाद बन रहा शुभ संयोग सुहागिनों के लिए फलदायी होगा। इस बार रोहिणी नक्षत्र के साथ मंगल का योग बेहद मंगलकारी रहेगा। करवा चौथ शब्द दो शब्दों से मिलकर बना है। पहला तो करवा और दूसरा चौथ। जिसमें करवा का मतलब मिट्टी के बरतन और चौथ यानि चतुर्थी है। इस दिन मिट्टी के पात्र यानी करवों की पूजा का विशेष महत्व है। करवाचौथ के मौके पर महिलाएं व युवतियों मेहंदी लगवाती हैं। दिनभर व्रत करने के बाद शाम को श्रृंगार से सजकर चंद्रमा को अर्घ्य देती हैं और भगवान गणेश की पूजा करती हैं। पति के हाथों से जल पीकर व्रत तोड़ती है।

Related imageImage result for mehndi pic

दिल्ली में चंद्रउदय सही वक्त

करीब 14 घंटे का व्रत रहेगा। इस बार उच्च राशि का चंद्रमा होने से अक्षत सुहाग के शुभ मांगलिक योग हैं। दिल्ली में चंद्रोदय गुरुवार रात 08.19 बजे होगा।

 

 

Rate this item
(0 votes)
Last modified on Thursday, 17 October 2019 11:44