Login to your account

Username *
Password *
Remember Me

जोधपुर रेलवे स्टेशन के पास दो भारतीय सैनिकों को हिरासत में लिया गया था, हालांकि अब रिपोर्ट के अनुसार उसमें से एक सैनिक को गिरफ्तार कर लिया गया है। पाकिस्तान की एक महिला आईएसआई एजेंट के साथ महत्वपूर्ण जानकारी साझा करने के आरोप में इन दोनों को हिरासत में लिया गया था, जिसमें से एक को गिरफ्तार कर लिया गया है और दूसरे सनिक को सबूतों के अभाव के चलते छोड़ दिया गया है।

इस पूरे मामले की छानबीन करने पर कई तथ्य सामने आए, जिसको देखते हुए इंटेलिजेंस के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक उमेश मिश्रा ने एक बयान जारी किया और कहा कि यह सैनिक सोशल मीडिया के माध्यम से देश की और सैनिकों की खुफिया जानकारी को पाकिस्तानी महिला एजेंट के साथ साझा करता था, और इस जानकारी को देने के बदले इनको पैसे मिला करते थे।

महानिदेशक ने आगे कहा कि वह सोशल मीडिया के माध्यम से ही उस महिला के संपर्क में आया था, उस महिला द्वारा भेजे गए प्रश्नों का विश्लेषण करते हुए यह पता चलता है कि वह पाकिस्तान की इंटेलीजेंस की सदस्य है।

छानबीन करने पर पता चला है कि गिरफ्तार किए गए सैनिक ने व्हाट्स ऐप के माध्यम से जानकारी भेजी थीं।

भारत और बांग्लादेश के बीच तीन टी20 मैचों की सीरीज का दूसरा मुकाबला आज राजकोट में खेला जाएगा। दिल्ली में खेले गए सीरीज के पहले मैच में बांग्लादेश ने भारत को हराकर मैच आसानी से अपने नाम किया था और साथ ही साथ सीरीज में 1-0 की बढ़त भी हासिल की थी। दूसरे मैच को जीतकर बांग्लादेश की नजर सीरीज पर कब्जा करने पर होगी और वहीं दूसरी तरफ भारतीय टीम सीरीज में बने रहने के लिए दूसरा मैच अपने नाम करने की कोशिश करेगी।

पहले मैच में करारी हार के बाद भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने भी कई चीजों को स्वीकार किया था, जिसमें उन्होंने कहा था कि दूसरे मैच में हमारे ऊपर अच्छा प्रदर्शन करने के लिए दवाब रहेगा, हम एक खिलाड़ी के तौर पर नहीं एक टीम के तौर पर हारे है। आगे उन्होंने यह भी कहा कि हमें गेंदबाजी और बल्लेबाजी पर और ध्यान देना होगा।

दूसरे मैच में टीम में बदलाव को लेकर भी रोहित ने अपने पक्ष रखे। उन्होंने कहा कि हम पिच को देख कर ही इस बात का निर्णय लेंगे कि हमारी सही आखिरी X1 क्या होगी। रोहित ने आगे कहा कि हमारी बल्लेबाजी में किसी तरह की कोई आशंका नजर नहीं आती, लेकिन गेंदबाजी को लेकर हम पिच के अनुसार टीम में बदलाव करेंगे।

दूसरी ओर इतिहास रचने के करीब खड़ी बांग्लादेश की टीम दूसरे टी20 मैच को जीतकर भारत में भारत में पहली बार किसी द्विपक्षीय सीरीज में हराकर सीरीज को अपने नाम करने के इरादे से उतरेगी।

पहला मैच जीतने वाली बांग्लादेश की टीम की तरफ से दूसरे मैच में शायद किसी करह का बदलाव ना दिखने को मिले और वहीं दूसरी ओर भारतीय टीम ने इस बात के संकेत पहले ही दे दिए कि दूसरे मैच में गेंदबाजी को लेकर बदलाव देखने को मिल सकता है।

दोनों टीमों की संभावित प्लेइंग X1:

भारत: 1.रोहित शर्मा (कप्तान), 2.शिखर धवन, 3.संजु सैमसन , 4.श्रेयस अय्यर, 5.ऋषभ पंत, 6.क्रुणाल पांड्या, 7.शिवम दुबे, 8.वॉशिंगटन सुंदर, 9.दीपक चहर, 10.युजवेंद्र चहल, 11.शार्दुल ठाकुर।
बांग्लादेश: 1.महमूदुल्लाह (कप्तान), 2.लिटन दास, 3.सौम्य सरकार, 4.मोहम्मद नईम, 5.मुशफिकुर रहीम, 6.अफिफ हुसैन, 7.मोसद्देक हुसैन, 8.अमीनुल इस्लाम, 9.शफीउल इस्लाम, 10.मुस्तफिजुर रहमान, 11.अल-अमीन हुसैन।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने तीन दिनों की थाईलैंड यात्रा के दौरान बैंकॉक में आयोजित भारत-आसियान सम्मेलन 2019 पर ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मोरीसन  से मुलाकात की। इस मुलाकात में दोनों ही नेताओं के बीच कई विषयों पर बातचीत हुई।

दोनों ही नेताओं ने एक-दूसरे देशों के बीच आपसी संबंधों को लेकर बातचीत की, जिसके बाद आपसी संबंध और सहयोग को और मजबूत बनाने के लिए दोनों ही देशों ने इच्छा जताई।

इसके बाद दोनों ही देश के प्रधानमंत्रियों ने शांति और सुरक्षा को प्रोत्साहन देने के लिए खुली सोच को लेकर बातचीत की। आगे इस बात पर भी सहमति जताई गई कि दोनों देशों के रणनीतिक और आर्थिक हित साझा करते है, जिसके चलते इन्हीं सब आधारों पर दोनों देशों द्वारा एक दूसरे के साथ काम करने को लेकर पता चलता है।

विश्वभर में फैले आतंकवाद और उसको पालने वालों को लेकर दोनों ही देशों ने निपटने के लिए आपसी सहयोग को बढ़ाने को लेकर बातचीत की और साथ ही साथ समुद्री क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने पर सुरक्षा को लेकर बातचीत की।

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली आज अपना 31वां जन्मदिन मना रहे है। इस मौके पर कप्तान कोहली को विश्व भर में फैले उनके करोड़ो फैन्स के साथ-साथ क्रिकेट के पूर्व दिग्गज खिलाड़ी भी जन्मदिन की शुभकामनाएं दे रहे हैं। इन शुभकामनाओं के साथ वे विराट कोहली से रन मशीन की गति में और भी ज्यादा बढ़ोतरी के लिए और साथ ही उसी जुनून से खेलने की उम्मीद भी विराट से लगा रहे हैं।

भारत के महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने भी विराट को उनके बर्थडे पर मुबारकबाद दी। इसके अलावा और भी कई दिग्गज खिलाड़ियों ने विराट को अपने ही अंदाज में जन्मदिन की मुबारकबाद दी। हालांकि जन्मदिन के मौके पर विराट कोहली अपनी पत्नी अनुष्का शर्मा के साथ भूटान में हैं।

बता दें कि विराट कोहली ने अपने जन्मदिन पर मिलने वाली सभी विशेज के लिए अपने सोशल मीडिया पर पोस्ट शेयर किया था, जिसमें उन्होंने कई सारी बातों को लिखा था और लोगों से शुक्रिया भी कहा था।

आइए आपको दिखाते है कि विराट कोहली को किन हस्तियों उनके बर्थडे पर किया विश।

सचिन तेंदुलकर ने कुछ इस करह कोहली को जन्मदिन मुबारकबाद दी -

वीरेंदर सहवाग ने हर बार की तरह अपने अनोखे अंदाज में विश किया -

वीवीएस लक्ष्मण ने कोहली के 31वें जन्मदिन पर कुछ इस तरह लिखा -

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली आज अपना 31वां जन्मदिन मना रहे है। इस मौके पर कप्तान कोहली को विश्व भर में फैले उनके करोड़ो फैन्स के साथ-साथ क्रिकेट के पूर्व दिग्गज खिलाड़ी भी जन्मदिन की शुभकामनाएं दे रहे हैं। इन शुभकामनाओं के साथ वे विराट कोहली से रन मशीन की गति में और भी ज्यादा बढ़ोतरी के लिए और साथ ही उसी जुनून से खेलने की उम्मीद भी विराट से लगा रहे हैं।

भारत के महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने भी विराट को उनके बर्थडे पर मुबारकबाद दी। इसके अलावा और भी कई दिग्गज खिलाड़ियों ने विराट को अपने ही अंदाज में जन्मदिन की मुबारकबाद दी। हालांकि जन्मदिन के मौके पर विराट कोहली अपनी पत्नी अनुष्का शर्मा के साथ भूटान में हैं।

बता दें कि विराट कोहली ने अपने जन्मदिन पर मिलने वाली सभी विशेज के लिए अपने सोशल मीडिया पर पोस्ट शेयर किया था, जिसमें उन्होंने कई सारी बातों को लिखा था और लोगों से शुक्रिया भी कहा था।

आइए आपको दिखाते है कि विराट कोहली को किन हस्तियों उनके बर्थडे पर किया विश।

सचिन तेंदुलकर ने कुछ इस करह कोहली को जन्मदिन मुबारकबाद दी -

वीरेंदर सहवाग ने हर बार की तरह अपने अनोखे अंदाज में विश किया

वीवीएस लक्ष्मण ने कोहली के 31वें जन्मदिन पर कुछ इस तरह लिखा

देश की राजधानी दिल्ली, हरियाणा और यूपी समेत समस्त उत्तर भारत में प्रदूषण की स्थिति भयावह हो गई। राजधानी का आलम तो ये हो गया है कि यहां लोगों का सांस लेना भी दूभर हो गया है। वहीं बढ़ते प्रदूषण से निपटने के लिए उत्तर प्रदेश में योगी सरकार के मंत्री ने एक अनोखा हल सुझाया है। योगी के मंत्री सुनील भराला का मानना है कि यज्ञ से भगवान इंद्र प्रसन्न होंगे, जिससे बारिश होगी और प्रदूषण में कमी आएगी।

#WATCH Uttar Pradesh minister Sunil Bharala: Farmers have always practiced stubble burning, it's a natural system. Repeated criticism of it is unfortunate. Govts should hold 'Yagya' to please Lord Indra (God of rain), as done traditionally. He (Lord Indra) will set things right. pic.twitter.com/EcImGAbVrl

— ANI UP (@ANINewsUP) November 3, 2019 />हरियाणा, पंजाब में पराली जलाए जाने पर सुनील भराला ने कहा कि पराली जलाना किसान की प्राकृतिक प्रकिया है और इससे इस हद तक प्रदूषण नहीं होता। उन्होंने कहा, किसानों ने हमेशा से पराली जलाने का कार्य किया है और प्राकृतिक प्रक्रिया की बार-बार आलोचना दुर्भाग्यपूर्ण है।
आपको बता दें कि भराला श्रम कल्याण बोर्ड के चेयरमैन हैं और उन्हें राज्य मंत्री का दर्जा प्राप्त है। भराला ने कहा कि सरकार को भगवान इंद्र (बारिश के देवता) को प्रसन्न करने के लिए यज्ञ करवाना चाहिए, यह पारंपरिक तौर पर होता रहा है। भगवान इंद्र चीजों को सही कर देंगे।

भारत और बांग्लादेश के बीच दिल्ली में तीन टी20 मैचों की सीरीज का पहला मुकाबला खेला जाना है। दिल्ली में मौसम की बात करे तो कई दिनों से हवा की गुणवत्ता बहुत ही ज्यादा खराब है, जिसके चलते सोमवार को होने वाले मैच पर प्रदूषण की वजह से संकट के बादल मंडरा रहे हैं।

ऐसा अनुमान लगाया गया था कि दिल्ली में बारिश होने से प्रदूषण थोड़ा हद तक कम हो जाएगा, लेकिन शनिवार को दिल्ली में हुई हल्की बारिश के बाद स्मॉग और भी ज्यादा बढ़ गया है। शनिवार को धुंध की वजह हालात और भी खराब नजर आ रहे थे। लगातार बढ़ रहे स्मॉग ने दिल्ली क्रिकेट एसोसिएशन (DDCA) की परेशानी को और भी ज्यादा बढ़ा दिया है।

दिल्ली के अरुण जेटली स्टेडियम में तीन टी20 मैचों की सीरीज का पहला मैच को करवाने के लिए हर तरह की कोशिश की जा रही है। डीडीसीए के अधिकारी ने बताया कि मैच को कराने के लिए हर तरह की कोशिश की जा रही है, ग्राउंड स्टाफ भी पूरी कोशिश कर रहे हैं, सूरज निकलने पर देखना होगा कि स्मॉग कम होगा या नहीं।

अधिकारी ने आगे यह भी बताया कि बारिश होने से हालात बेहतर होने आसार थे, लेकिन बारिश के बाद स्थिति और भी ज्यादा बेकार हो गई, अब देखना होगा कि खिलाड़ियों को इस पर क्या निर्णय लेना है।

थाईलैंड के तीन दिन के दौरे पर गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आदित्य बिरला ग्रुप के एक कार्यक्रम में अन्य देशों को भारत में निवेश करने पर संबोधित किया था और कहा था कि भारत में इस समय निवेश करने का सबसे सही समय है, इसके साथ ही साथ पीएम मोदी ने भारत की अर्थव्यवस्था को लेकर भी बड़ा बयान दिया था, जिसमें उन्होंने बताया था कि भारत का अब अगला लक्ष्य 5 ट्रिलियन डॉलर की ईकोनॉमी बनने पर है।

इसके बाद पीएम मोदी आसियान-भारत के सम्मेलन में भी शामिल हुए, जहां उन्होंने कई बातों को साझा किया। इस सम्मेलन में उन्होंने कहा कि भारत की ऐक्ट ईस्ट नीति (Act East Policy) हमारे हिंद-प्रशांत विजन का बहुत ही महत्वपूर्ण अंग है और इसमें साथ देने के लिए आसियान इसके मूल में है।

आसियान संगठन को लेकर पीएम मोदी ने कहा कि एकीकृत, मजबूत और समृ्द्ध आसियान भारत के हित में है और साथ ही साथ भारत को यहां से पूरा साथ मिलेगा।

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इस दौरे से जुड़े एक अधिकारी ने बताया था कि पीएम मोदी के इस दौरे पर सबसे ज्यादा ध्यान अन्य देशों को भारत में निवेश करने और आपसी व्यापार को बढ़ाने पर होगा।

थाईलैंड के तीन दिन के दौरे पर गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आयोजित ‘आदित्य बिरला ग्रुप’ के एक कार्यक्रम में कहा कि भारत में अन्य देशों द्वारा निवेश करने का यह सबसे अच्छा मौका है। उन्होंने आगे यह भी कहा कि कई ऐसे चीजे और संगठन है, जिनमें भारत हर दिन ऊपर जा रहा है। साथ ही साथ भारत में कुछ ऐसी चीजे भी है जो कि लगातार नीचे आ रही है, जिनमें भ्रष्टाचार और टैक्स की दरे शामिल है।

पीएम मोदी ने कार्यक्रम में भारत की भविष्य की योजनओं के बारे में भी बताया, जिसमें उन्होंने कहा कि भारत का अब अगला लक्ष्य 5 ट्रिलियन डॉलर (5 Trillion Dollar) की इकोनॉमी बनना है। 2014 तक भारत की इकोनॉमी 2 ट्रिलियन डॉलर की थी, इसके बाद हमारी सरकार सत्ता में आई और 5 सालों के अंदर ही अंदर हमने अर्थव्यवस्था को 3 ट्रिलियन डॉलर तक पहुंचा दिया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले पांच सालों में भारत के विकास और सफलता के बारे में भी लोगों को बताया। साथ ही साथ उन्होंने यह भी कहा कि गरीबों का पैसा गरीबों तक नहीं पहुंचता था, लेकिन हमने इसको बदला जिसके बाद इनका पैसा सीधे इनके पास जाने लगा।

देश की राजधानी दिल्ली के तीस हजारी कोर्ट के पास उस वक्त अफरा-तफरी मच गई, जब पुलिस और वकीलों के बीच पार्किंग जैसे मामूली विवाद को लेकर झड़प हो गई। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक ये विवाद इतना बढ़ गया कि गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया गया है। इस हिंसक झड़प में एक वकील घायल हो गया है।

आपको बता दें कि दोनों ही गुटों में झपड़ इतनी बड़ी हुई थी कि पुलिस ने फायरिंग कर दी। पुलिस के फायरिंग करने पर बवाल बढ़ गया और मौके पर मौजूद वकील भड़क गए, जिसके बाद वकिलों ने वहां खड़ी पुलिस की गाड़ियों में आग लगा दी। इसके बाद वकीलों ने पुलिस के कुछ अधिकारियों के साथ मारपीट भी की।

जानकारी के मुताबिक वकीलों ने पुलिस के फायरिंग करने के बाद जवाब में उनकी गाड़ियों के साथ तोड़फोड़ की।

इस पूरी घटना की जानकारी मिलने के बाद मौके पर पहुंचे अधिकारियों ने इस पूरे मामले की छानबीन शुरु कर दी है।

दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण के बीच केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधाते हुए कहा कि यह बहुत ही दुखद है कि एक राज्य का मुख्यमंत्री किसी समस्या का हल निकालने की जगह दूसरो पर आरोप लगाने की राजनीति कर रहा है।

उन्होंने आगे यह भी कहा कि दिल्ली सरकार ने अपने विज्ञापनों के लिए 1500 से ज्यादा रुपये खर्च कर दिए और अगर ये ही रुपये वो पंजाब और हरियाणा के किसानों की दे देते तो कितना अच्छा होता और किसानों द्वारा पराली जलाने जैसी समस्या भी न होती।

प्रदूषण को लेकर मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा था कि मौजूदा समय में दिल्ली के ऊपर चारों तरफ पंजाब और हरियाणा में पराली जलने से पैदा हुआ धुआं छाया हुआ है। केजरीवाल ने कहा था कि दिल्ली की जनता अब खट्टर, कैप्टन और केंद्र सरकार से साफ करना चाहती है कि वो पराली जलाने जैसी समस्या से निजात पाने के लिए क्या करेंगे।

आपको बता दें कि दिवाली के बाद से राजधानी दिल्ली और उसके आसपास के इलाकों में दम घोट देने वाला धुंआ छाया हुआ है। इसको लेकर ईपीसीए द्वारा दिल्ली-NCR में पब्लिक हेल्थ इमरजेंसी घोषित कर दी गई थी, साथ ही साथ दिल्ली के सभी स्कूलों को 5 नवंबर तक बंद करने के आदेश भी दिए थे।

जम्मू-कश्मीर में सेना के ऑपरेशन ऑल आउट के मद्दे नजर बारामुला के सोपोर में सेना को बड़ी सफलता मिली है। यहां सुरक्षाबलों ने लश्कर-ए-तैयबा के एक आतंकी को गिरफ्तार कर लिया है। पकड़े गए आतंकी का नाम दानिश चन्ना है। दानिश के पास से सुरक्षाबलों ने भारी मात्रा में हथियार बरामद किए हैं और उससे पूछताछ जारी है।

इस मामले पुलिस के अधिकारी ने बताया कि सोपोर का रहने वाला दानिश चन्ना कुछ महीने पहले ही लश्कर-ए-ताईबा का हिस्सा बना था। उसने ही बीते माह बारामुला में बंद का उल्लंघन कर दुकान खोलने वाले सुनार की हत्या का प्रयास किया था। 

उन्होंने बताया कि दानिश चन्ना चार आतंकियों के एक गुट की अगुआई कर रहा था। इस गुट को बारामुला, सोपोर और पटटन के इलाके में पुलिसकर्मियों, एसपीओ और पंच-सरपंचों को निशाना बनाने का जिम्मा सरहद पार बैठे आतंकी सरगनाओं ने सौंपा था। दानिश चन्ना और उसके साथी बारामुला और सोपोर में कई व्यापारियों को भी उनके घर जाकर , अपने सभी कारोबार बंद रखने काफरमान सुना चुके हैं।

छठ का त्योहार देश के कई जगहों पर बड़े ही उत्साह के साथ मनाया जाता है। ये त्योहार लंबे समय से मनाया जाता रहा है। साथ ही साथ ये 4 दिनों तक चलता है। यह उत्सव सुर्यदेव को लेकर उपासना करने के साथ मनाया जाता है। यह भी कहा जाता है कि छठ पूजा को धूमधाम से करने पर जीवन में चल रही सभी परेशानियों से निजात मिल जाता है।

पूजा को करने के लिए इसकी विधि को भी ठीक से पूरा करना होता है। छठ पूजा को मंदिरों में नहीं किया जाता है। इसके लिए कुछ इस तरह की विधि अपनानी पड़ती है, जिसमें कि छठ पूजा के तीसरे दिन सुबह जल्दी उठ कर संकल्प लिया जाता है और इसको करने के लिए विधि के अनुसार मंत्र का उच्चारण करना होता है।

तीसरे दिन सुबह की विधि को पूरा करने के बाद फिर पूरे दिन बिना खाना पानी के रहने के साथ-साथ शाम के समय नदी के पास डूबते सूर्य का अर्घ्य किया जाता है।

इस विधि में सूर्य देव को जल और दूध चढ़ाया जाता है, वहीं इसके बाद प्रसाद भरे सूप से छठी मईया की पूजा की जाती है। साथ ही साथ इसके बाद रात में गीत गाए जाते है।

छठ पूजा की विधि को अपनाते हुए अगले दिन सुबह के समय उगते सूर्य को नदी में खड़े रहकर एक बार फिर से वही विधि अपनानी होती है। इसके बाद परेशानियों को दूर करने को लेकर पूजा की जाती है, आगे जाकर शाम में सभी कुछ खाकर और जल पीकर अपना व्रत तोड़ते है।

दिवाली के बाद हवा की गुणवत्ता में प्रदूषण को लेकर जैसा अनुमान लगाया गया था, ठीक वैसा ही देखने को मिला। हालांकि हालात इतने बिगड़ जाएंगे कि राजधानी दिल्ली में पब्लिक हेल्थ आपातकाल लगाया जाएगा किसी ने नहीं सोचा था। बता दें कि दिल्ली के साथ-साथ इसके आसपास के इलाके भी प्रदूषण की चपेट में बुरी तरह लिपटे हुए है, जिसके चलते स्थिति बेहद गंभीर हो गई है।

इसका एक मुख्य कारण हरियाणा और पंजाब में लगातार जल रही पराली है, जिसके चलते दिल्ली की हवा में भी भारी बदलाव देखने को मिला है। अब वहीं इसी कड़ी में पराली जलाए जाने से निजात पाने के लिए हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने पराली जलाने वालों के बारे में खबर देने वालों के लिए इनाम रख दिया है।

मुख्यमंत्री खट्टर ने अपने अधिकारियों को इस बात को लेकर निर्देश भी दिए है कि वे किसानों से मिले और उन्हें समझाए कि पराली जलाने के अलावा वे कोई अन्य विकल्प खोजे। साथ ही साथ अधिकारियों को उन क्षेत्रों का दौरा भी करने को बोला गया है, जहां भारी मात्रा में पराली जलाई जा रही है।

पराली जलाए जाने की सूचना देने वालों के लिए इनाम रखा गया गया है और इनाम की राशि करीब 1000 रुपये रखी गई है। साथ ही साथ सूचना देने वाले की पहचान को उजागर नहीं किया जाएगा, इस बात की भी पुष्टि कर दी गई है।

दिल्ली की हवा की गुणवत्ता में पिछले 18 घंटों में भारी बदलाव देखने को मिला है, जिसके चलते स्थिति बहुत ज्यादा गंभीर बन गई है। दिल्ली में अलग-अलग जगहों पर एयर क्वालिटी इंडेक्स ‘AQI’ से हवा कितनी खराब है इसका अनुमान लगाया जा रहा है।

दूसरी तरफ उत्तर प्रदेश में आने वाले नोएडा और गाजियाबाद में अंकों के मुताबिक हवा की गुणवत्ता में ज्यादा खराबी देखी गई है, जिसको ध्यान में रखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आपातकाल बैठक बुलाई है। इस बैठक में नोएडा और गाजियाबाद की हवा में बदलाव को लेकर बातचीत होनी है।

बैठक में मुख्यमंत्री योगी के साथ-साथ उनके मंत्रीमंडल के सदस्य भी शामिल होंगे। यब बैठक आज रात करीब 8 बजे होगी।

राजधानी दिल्ली की हवा में बदलाव को लेकर जैसा अनुमान लगाया गया था ठीक वैसा ही बदलाव देखने को मिला रहा है। हर साल दिवाली के बाद दिल्ली की हवा में भारी मात्रा में खराबी देखने को मिलती है और ठीक इस साल भी वैसा ही हुआ। हालांकि गरुवार को इसमें भारी बदलाव देखने को मिला है।

दिवाली के बाद से ही दिल्ली की हवा में बदलाव देखने को मिला है और वहीं दिल्ली-एनसीआर (Delhi-NCR) में हवा की गुणवत्ता गुरुवार रात को और भी ज्यादा खराब हो गई, जिसके चलते स्थिति बहुत ही गंभीर बन गई है। इसी को देखते हुए सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के एक पैनल ने शुक्रवार को दिल्ली-एनसीआर में लोगों के स्वास्थ्य को देखते हुए पब्लिक हेल्थ इमरजेंसी (PHE) की घोषणा कर दी है।

सुप्रीम कोर्ट ने साथ ही साथ अगले पांच दिनों के लिए चल रहे निर्माण कार्यों पर प्रतिबंध लगा दिया है और इस बात को भी साफ कर दिया है कि छठ-पूजा पर किसी तरह के कोई आतिशबाजी नहीं की जाएगी।

प्रदूषण की रोकथाम करने वाले पर्यावरण प्रदूषण प्राधिकरण (EPCA) के चेयरपर्सन भूरे लाल ने उत्तर प्रदेश, हरियाणा और दिल्ली के मुख्य सचिवों को खत भी लिखा है। लगातार पराली जलाए जाने के विरोध और प्रतिबंधों के बाद भी हरियणा और पंजाब में इसे जलाया जा रहा है, जिसके चलते दिल्ली की हवा और भी ज्यादा बिगड़ गई है।

दिल्ली की हवा की गुणवत्ता में खतरनाक बदलाव देखने के बाद के बाद दिल्ली सरकार ने पूरी दिल्ली के स्कूलों को अगले 4-5 दिनों तक बंद करने के आदेश दिए है।

राजधानी दिल्ली की हवा में बदलाव को लेकर जैसा अनुमान लगाया गया था ठीक वैसा ही बदलाव देखने को मिला रहा है। हर साल दिवाली के बाद दिल्ली की हवा में भारी मात्रा में खराबी देखने को मिलती है और ठीक इस साल भी वैसा ही हुआ। इसी कड़ी में दिल्ली सरकार द्वारा कई तरह के कदम उदाए जा रहे है जो कि पर्याप्त नजर नहीं आ रहे है।

दिल्ली में दिवाली के बाद पिछले 2-3 दिनों में बढ़े प्रदूषण को ध्यान में रखते हुए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने हरियाणा और पंजाब को जिम्मेदार ठहराया है। केजरीवाल ने कहा कि पंजाब और हरियाणा में लगातार जलाई जा रही पराली की वजह से दिल्ली में प्रदूषण बढ़ गया है। वहां जलने वाली पराली की सारी गंदी हवा दिल्ली की तरफ आती है, जिसके चलते दिल्ली की हवा में इस बार और भी ज्यादा परेशानी बढ़ गई है।

प्रदूषण को कम करने वाली योजनाओं के बारे में बताते हुए अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पिछले करीब पांच सालों में हमने दिल्ली की हवा को बेहतर बनाने के लिए प्रदूषण को बहुत कम किया है, और इसे करने के लिए हमने लाखों जेनरेटर को बंद करवाया, दिल्ली में पेड़ लगाने के लिए लोगों को प्रेरित किया और हजारों पेड़ भी लगाए। इन सबके चलते दिल्ली की हवा को बेहतर बनाया।

प्रदूषण को कम करने के लिए दिल्ली सरकार भी कई करह की मुहिम चला रही है। इसी को ध्यान में रखते हुए दिल्ली सरकार ने दिल्ली के कई स्कूलों में मास्क बांटने शुरु कर दिए है। इस योजना में दिल्ली सरकार करीब पचास लाख मास्क बांटेगी। इस योजना का मुख्य कार्य बच्चों तक मास्क पहुंचाना है और इसकी शुरुआत मुख्यमंत्री केजरीवाल ने सिविल लाइंस में स्थित एक स्कूल से की।

योजना के साथ-साथ स्कूल के बच्चों को यह भी करने के लिए बोला गया कि प्रदूषण कम करने के लिए कैप्टन अंकल और खट्टर अंकल को एक पत्र लिखना और उनसे बोलना कि पराली मत जलने दो, इसके लिए कड़े से कड़े कदम उठाओ।

करतारपुर कॉरिडोर (Kartarpur Corridor) के उद्घाटन से पहले पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने करतारपुर साहिब गुरुद्वारे में दर्शन करने के लिए आने वाले भारतीय श्रद्धालुओं के लिए बड़ा ऐलान किया है।

इमरान खान ने शुक्रवार को ट्वीट करते हुए लिखा कि भारत से करतारपुर के दर्शन करने के लिए आने वाले सिख श्रद्धालुओं के लिए हमने दो बातों को हटा दिया है, जिसमें पहला कि यहां आने के लिए उनके पास पासपोर्ट होना जरूरी नहीं है, हालांकि एक वैद्य आईडी कार्ड लाना अनिवार्य होगा और वहीं दूसरा उन्हें 10 दिन पहले एडवांस में बुकिंग कराने जैसी प्रक्रिया की कोई जरुरत नहीं होगी।

बता दें कि 12 नवंबर को बाबा गुरु नानक का 550वां जन्मदिन मनाया जाएगा और उससे ठीक तीन दिन पहले इमरान खान 9 नवंबर को पंजाब के नरोवाल जिले में स्थित करतारपुर कॉरिडोर का उद्घाटन करेंगे और इसी कड़ी में भारत के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी 9 नवंबर को करतारपुर कॉरिडोर का उद्घाटन करेंगे। पीएम मोदी भारत की तरफ निर्माण के गए नए टर्मिलन पर होने वाले कार्यक्रम में भी शामिल होंगे।

इमरान खान ने इस बात को भी साफ किया है कि  उद्घाटन के दिन किसी तरह की कोई फीस नहीं ली जाएगी और साथ ही साथ गुरु नानक देव जी के 550वें जन्मदिन पर हिस्सा और दर्शन के लिए आने वाले श्रद्धालुओं से कोई फीस नहीं ली जाएगी। हालांकि इसके बाद यहां आने वाले श्रद्धालुओं से शुल्क लिया जाएगा, जिसे पहले ही निर्धारित कर दिया गया है।

करतारपुर कॉरिडोर हमेशा से ही सिखों के लिए आगमन का स्थान रहा है साथ ही साथ यह गुरुद्वारा सिखों के लिए काफी पवित्र है, क्योंकि गुरु नानक देव (Guru Nanak dev) ने अपने जीवन के 18 साल और अपना अंतिम समय भी यहीं बिताया था। इसी कारण से सिखों द्वारा इस स्थान को हमेशा से ही प्राथमिकता दी जाती रही है।

हरियाणा की आदमपुर विधानसभा चुनाव से भाजपा उम्मीदवार और टिकटॉक स्टार सोनाली फोगाट को इस चुनाव के चलते बड़ी हार का सामना करना पड़ा । लेकिन उनको इस हार का इतना बड़ा सदमा लग गया है कि, जो कि उनकी इस वीडियो में साफ तौर पर नजर आ रहा है ।

दरअसल, सोनाली फोगाट की सोशल मीडिया पर तेजी से एक वीडियो वायरल हो रही है । जिसमे में फूट-फूट कर रोती हुई नज़र आ रही हैं । लेकिन ये वीडियो चुनाव से पहले की है लेकिन उनकी हार के बाद सोशल मीडिया यूजर्स ने उनके इस पूराने वीडियो को खूब शेयर किया ।

इस वीडियो में सोनाली दुखी चेहरे के साथ सैड सॉन्ग खुशी के पल कहां ढूंढूं...गाती दिख रही हैं। यूजर इस वीडियो को उनकी विधानसभा चुनावों में मिली हार से जोड़कर देख रहे हैं। आपको बता दें कि, सोनाली टीवी कलाकार होने के साथ साथ भाजपा महिला मोर्चा की प्रदेश उपाध्यक्ष भी थीं, जिसका उन्हें लाभ मिलना तय माना जा रहा था। सोनाली को उम्मीद थी कि टिक टॉक पर उनके लगभग 1.30 लाख फॉलोअर उन्हें वोट देंगे लेकिन उन्हें टिक-टॉक की लोकप्रियता किसी काम नहीं आई ।

कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान का समर्थन और भारत का विरोध करने वाले मलेशिया के प्रधानमंत्री महाथिर मोहम्मद ने इस मुद्दे को लेकर एक बार फिर से बड़ा बयान दिया है। उन्होंने मंगलवार को कहा कि मैंने कश्मीर को लेकर संयुक्त राष्ट्र संघ (UNGA) की बैठक में जो भी बात बोली थी मैं उस पर अभी भी कायम हूं। साथ ही साथ आगे यह भी कहा कि  हम बिना डर के अपनी बात को रखते है और उसके बाद पीछे नहीं हटते।

आपको बता दें कि मलेशिया के पीएम ने भारत के खिलाफ UNGA में बोलते हुए यह कहा था कि जम्मू-कश्मीर पर संयुक्त राष्ट्र के प्रस्ताव के बावजूद इस पर चढ़ाई की गई और कब्जा कर लिया गया, इस कार्रवाई के भले ही कई कारण हो सकते हैं, लेकिन यह गलत है। उन्होंने यह भी कहा था कि भारत को इस समस्या के समाधान के लिए पाकिस्तान के साथ काम करना चाहिए, संयुक्त राष्ट्र को नजरअंदाज करना संयुक्त राष्ट्र और कानून के नियम के अनादर के दूसरे रूपों को बढ़ावा देना है।

भारत के साथ अपने संबंधों में उतार-चढ़ाव के मुद्दे पर महाथिर ने कहा कि ऐसे मुद्दों पर बोलना जरूरी होता है, भले ही इसे कुछ लोग नापसंद करें।

गौरतलब है कि तुर्की और चीन के साथ मलेशिया ने भी पाकिस्तान को फाइनैंशल एक्शन टास्क फोर्स (FATF) की हुई बैठक द्वारा ब्लैकलिस्ट होने से बचाने के लिए अपना समर्थन दिया था और साथ ही साथ पाकिस्तान द्वारा अपनाई जा रही नीतियों को भी सही ठहराया था।

भारत और पाकिस्तान के बीच करतारपुर कॉरिडोर (Kartarpur Corridor) को लेकर आज समझौता हो गया है। दोनों देशों के बीच जीरो प्वांइट के तहत समझौता हुआ, जिसके बाद इस प्रक्रिया को आगे बढ़ाने के लिए दोनों पक्षों द्वारा हस्ताक्षर किया गया।

भारत और पाकिस्तान के बीच करतारपुर कॉरिडोर को लेकर सहमति के लिए बुधवार को समझौते की अधिकारिक घोषणा की जानी थी, लेकिन दोनों देशों के अधिकारियों के बीच एक तारीख पर सहमति नहीं बन पाई, जिसके बाद दोनों ही देशों के पक्षों ने 24 अक्टूबर को इस विषय को लेकर मुलाकात की और सहमति से समझौता किया।

हालांकि भारत द्वारा एक जगह असहमति बनी रही, जिसके तहत भारत ने पाकिस्तान द्वारा करतारपुर कॉरिडोर के प्रयोग करने वाले तीर्थयात्रियों से शुल्क वसुलने को लेकर अपना पक्ष रखा। हालांकि इसी कड़ी में श्रद्धालुओं की भावनाओं को ध्यान में रखते हुए भारत ने इस समझोते पर सहमति बनाई।

करतारपुर कॉरिडोर का उद्घाटन अगले महिने 9 नवंबर को होगा।

राष्ट्रीय राजधानी की हवा एक बार फिर से बिगड़ गई है। हालांकि इस पर पर्यावरण से जुड़े एक अधिकारी ने कहा है कि दिवाली को देखते हुए इस साल की हवा की गुणवत्ता पिछले कुछ सालों में दिवाली के आसपास रहने वाली हवा से बेहतर है।

मौसम और हवा को ध्यान में रखते हुए बताया गया है कि हवा की तेज गति से दिल्ली की वायु गुणवत्ता पर सही असर पड़ेगा। पिछले 24 घंटे में हरियाणा तथा पंजाब में पराली जलाने की स्तर में थोड़ी कमी भी देखी गई है। इन सब बातों को ध्यान में रखते हुए इसका अनुमान लगाया गया है कि दिवाली के आसपास दिल्ली की हवा ज्यादा नहीं बिगडेगी।

आपको बता दें कि हर साल दिवाली के आसपास दिल्ली की हवा में भारी परिवर्तन देखने को मिलता है, जिसके चलते आम जनता समेत कई लोगों को बहुत सी परेशानियां होती है।

पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (POK) में लगातार जगह-जगह हो रहे आजादी को लेकर धरने और प्रदर्शन के चलते पाकिस्तान सेना और पुलिस कई तरह के कदम उठा रही है। इसी कड़ी में हाल ही में जोर पकड़े विरोध और आजादी के नारों के चलते पाकिस्तान की सेना ने मुजफ्फराबाद में आपातकाल लगा दिया है। धरने-प्रदर्शन को रोकने के लिए पाक सेना ने प्रेस क्लब में आंसू गैस के गोलों का भी प्रयोग किया।

बता दें कि मंगलवार को इमरान खान की सरकार के नेता पीओके गए थे, लेकिन इसी दौरान मुजफ्फराबाद में स्थानीय लोगों ने भीड़ जमा करके बड़ा विरोध प्रदर्शन किया। इन सभी लोगों द्वारा किए जा रहे विरोध का कारण पाकिस्तान द्वारा पीओके पर अवैध रुप से कब्जा करना था। इसके बाद यहां कि पुलिस हरकत में आ गई और विरोध कर रहे लोगों को शांत करने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े और लगातार फायरिंग भी की, जिसमें 2 लोगों की मौत हो गई और 100 से ज्यादा लोग घायल हो गए।

आपको बता दें कि हर साल 22 अक्टूबर के दिन POK में ब्लैक डे के रुप में मनाया जाता है, जिसका कारण 22 अक्टूबर 1947 में पाकिस्तान सेना द्वारा जम्मू-कश्मीर पर हमला करना था।

पाकिस्तान में मौजूदा सरकार के इमरान खान को प्रधानमंत्री पद से हटाने के पक्ष मार्च और धरने-प्रदर्शन किया जा रहा है। कई जगहों पर जमीयते उलेमाए इस्लाम-फजल (JUI-F) की आजादी नाम पर और सरकार को हटाने को लेकर धरने-प्रदर्शन किए जा रहे है। इसी कड़ी में लोगों को रोकने के लिए पुलिस द्वारा हर तरह की कोशिश की जा रही है, जिसके चलते धरना देने वालों लोगों को लेकर देश के अलग-अलग हिस्सों में गिरफ्तारियां शुरू हो गई हैं।

जानकारी के अनुसार सरकार के खिलाफ लोगों को भड़काने और इमरान खान को प्रधानमंत्री पद से हटाने के लिए बनवाए गए पोस्टर वाले 2 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। कराची शहर में में भी जेयूआई-एफ के कई सदस्यों को गिरफ्तार किया गया है। पार्टी सदस्यों पर फैसलाबाद में भी मुकदमे दर्ज किए गए हैं।

विरोध के बढ़ने के बाद सरकार हरतक में आई, जिसमें संघीय सरकार ने गृह मंत्रालय में कंट्रोल रूम बनाने और जरूरत पड़ने पर मोबाइल फोन सेवा के संचालन को बंद करने का फैसला कर लिया है। साथ ही साथ प्रशासन को और भी कड़े आदेश दिए गए है।

इन सभी धरनों और मार्चों को रोकने के लिए भारी मात्रा में पुलिस की तैनाती कर दी गई है। और रिपोर्ट के अनुसार जेयूआई-एफ की लाठियों से लैस मिलीशिया अंसार उल इस्लाम को गृह मंत्रालय द्वारा देश की सत्ता के प्राधिकार को चुनौती देने के आरोप में बैन कर दिया गया है।

लंबे समय से भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) को लेकर चल रहे विवाद में आज विराम लग जाएगा। बीसीसीआई का पद संभालने के लिए आज भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली (Sourav Ganguly)  के नाम की अधिकारिक घोषणा हो गई है। बता दें कि बुधवार को हुई बीसीसीआई की एनुअल जनरल मीटिंग (AGM) में गांगुली के पद की आधिकारिक घोषणा होने के बाद वह बीसीसीआई के 39वें अध्यक्ष के रूप में पदभाग ग्रहण करने जा रहे है।

सौरव गांगुली के अध्यक्ष बनने के बाद ही करीब तीन साल से बीसीसीआई को चलाने वाली प्रशासकों की समिति (Committee of Administrators) की भी छुट्टी हो जाएगी। इसको लेकर सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को कहा कि जैसे ही बीसीसीआई के नए अधिकारी अपना कार्यभार सम्भाल लेंगे, COA का कोई काम नहीं रहेगा।

पिछले तीन सालों में बीसीसीआई को लेकर काफी विवाद हुआ है, जिसकी वजह से भारतीय क्रिकेट में खिलाड़ियों की मनमानी से लेकर बीसीसीआई को चलाने जैसे मामले भी सामने आए है। हालांकि इसी पर सौरव गांगुली ने बयान देते हुए कहा कि था कि हमने इन सभी चीजों को पटरी पर लाने के लिए कई तरह के लक्ष्यों को दिमाग में रखा है। गांगुली ने यह भी कहा था कि हमारे लिए फर्स्ट क्लास क्रिकेट को और ज्यादा बेहतर बनाने और इसकी फीस में बढोतरी पर ध्यान देना पहली प्राथमिकता होगी।

गौरतलब है कि सौरव गांगुली ऐसे समय पर बीसीसीआई (BCCI) की कमान संभालने जा रहे हैं, जब BCCI को लेकर लगातार सवाल उठते रहे है। गांगुली ने इसी कड़ी में कई बाते कही है जिसमें BCCI की छवि को ठीक करना भी प्राथमिकता बताया है।

आज ही निपटा ले अपने बैंक से संबंधित सभी जरुरी काम नहीं तो आने वाले 4-5 दिनों में हो सकती है बड़ी परेशानियां। बता दें कि मंगलवार यानी 22 अक्टूबर को बैंको की हड़ताल होने वाली है और वहीं उसके बाद दिवाली के चलते 4 दिन की छुट्टी रहेगी, जिससे सभी बैंक बंद रहेंगे।

धीमी पड़ी अर्थव्यवस्था में गति लाने के लिए सरकार द्वारा कई तरह के प्रयास किए जा रहे है, और इसी कड़ी में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इसमें तेजी लाने के लिए कई तरह की नीतियों के बारे में बताया है। अर्थव्यवस्था को देखते हुए वित्त मंत्री ने 10 बैंको को 4 बड़े बैंकों में शामिल करने की नीति को भी सामने रखा। इसी नीति से नाखुश बैंकों द्वारा लगातार हड़ताल हो रही है। ऑल इंडिया बैंक इंप्लॉइज एसोसिएशन (AIBEA) एंव बैंक इंप्लॉइज फेडरेशन ऑफ इंडिया (BEFI) ने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा की गई 10 सरकारी बैंकों को 4 बड़े बैंको में परिवर्तित करने की घोषणा के विरोध में 22 अक्टूबर को एक बार फिर से देशव्यापी बैंक हड़ताल के लिए कहा है।

हड़ताल के कुछ दिनों बाद बैंकों की लगातार चार दिन की छुट्टी रहेगी, जिसका कारण दिवाली और उसके आसपास के दिन है। ऐसी परेशानियों से बचने के लिए आज ही के दिन निपटा लें अपने सारे काम।

आपको बता दें कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने दो महिनें पहले अगस्त में बैंक की नई नीतियों से अवगत कराते हुए करीब 10 बैंकों को 4 बड़े बैंको में मिलाने की घोषणा की थी, जिसके चलते देश में सरकारी बैंकों की संख्या 27 से घटकर 12 रह जाएगी।

इसी घोषणा को ध्यान में रखते हुए वित्त मंत्री ने यह बयान दिया था कि नई नीतियों के चलते बैंकों की संख्या मात्र 12 रह जाएगी, धीमे-धीमे चल रही देश की अर्थव्यवस्था में तेजी लाने के लिए यह कदम उठाया गया है। आगे निर्मला सीतारमण ने कहा कि भविष्य में आने वाले 5 सालों में देश को पांच लाख करोड़ डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने के लिए ऐसे बैंकों का होना जरुरी है।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद पांच दिन की यात्रा के लिए फिलीपींस गए हुए है। इस यात्रा में वह कई मुद्दों पर बात करने के लिए गए है। राष्ट्रपति कोविंद ने फिलीपींस के राष्ट्रपति रोड्रिगो दुर्तेते से मुलाकात की। दोनों देशों के बीच कई मुद्दों पर बातचीत हुई और दोनों देशों ने मजबूत साझेदारी को लेकर अहम चर्चा की। पूरे विश्व का खतरा बन रहे आतंकवाद को लेकर भारत और फिलीपींस ने कड़ी निंदा करते हुए इससे निपटने के लिए एक दूसरे के सहयोग को जारी रखने पर बातचीत की।

इसी बैठक में बातचीत के दौरान दोनों देशों ने एक-दूसरे के साथ संबंध को और बेहतर बनाने पर जोर दिया और साथ ही साथ भविष्य में आपसी सहयोग को लेकर भरोसा जताया।

इसके अलावा कई ऐसे मुद्दे थे, जिसको लेकर दोनों देशो ने एक दूसरे को ध्यान दिलाते हुए रक्षा और समुद्री सुरक्षा को महत्वपूर्ण बताते हुए इस पर ज्यादा ध्यान देने को लेकर बातचीत की।

पाकिस्तान को ब्लैकलिस्ट होने से बचाने में चीन, मलेशिया और तुर्की का हाथ था। पाकिस्तान जो फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (FATF) की हुई बैठक में लगभग ब्लैकलिस्ट हो गया था, उसे इन तीन देशों के समर्थन के चलते अपनी नीतियों में सुधार करने के लिए 4 महिनें का समय मिल गया।

आपको बता दें कि तुर्की द्वारा जम्मू-कश्मीर के मुद्दे पर संयुक्त राष्ट्र महासभा (UN) में पाकिस्तान का पूरा समर्थन करने और हाल ही में हुई FATF की बैठक में पाकिस्तान को ब्लैकलिस्ट होने से बचाते हुए उसके द्वारा अपनाई गई नीतियों के समर्थन के चलते भारत और तुर्की के रिश्तों में पिछले दो महिनों में लगातार उतार-चड़ाव देखने को मिल रहा है।

बता दें कि पीएम मोदी 27-28 अक्टूबर को सऊदी अरब में होने वाले बड़े निवेश सम्मेलन में भाग लेने जा रहे है। इसी सम्मेलन के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को तुर्की के लिए भी रवाना होना था। तुर्की के पाकिस्तान को लगातार समर्थन को देखते हुए पीएम मोदी का यह दौरा रद्द हो गया है।

भारत और तुर्की के बीच कभी किसी तरह का कोई मतभेद देखने को नहीं मिला है, लेकिन पीएम मोदी की यात्रा रद्द होना इस बात का संकेत देती है कि इन दोनों देशों के बीच तनाव देखने को मिल रहा है। इस यात्रा में कई मुद्दों पर बात होनी थी, जिसमें दोनों देशों में व्यापार बढ़ाने और एक-दूसरे की रक्षा सहयोग शामिल है।

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच खेले जा रहे तीन टेस्ट मैचों की सीरीज का तीसरा और आखिरी मैच रांची के JSCA के स्टेडियम में खेले जा रहा है। पहले दिन के खेल में बेकार रोशनी के चलते खेल को समय से पहले ही समाप्त कर दिया गया और वहीं भारत ने 3 विकेट के नुकसान पर 224 रन बनाए। रोहित शर्मा 117 रन और अजिंक्या रहाणे 83 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद है।

भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का निर्णय लिया। भारतीय टीम प्लेइंग X1 में एक बदलाव के साथ उतरी, जिसमें ईशांत शर्मा की जगह लेफ्ट आर्म स्पिनर शाहबाज नदीम को टीम में जगह दी गई। और वहीं दूसरी ओर दक्षिण अफ्रीका इस मैच में पांच बदलाव के साथ उतरी।

पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत बहुत ही खराब रही। टीम इंडिया को पहला झटका 12 रन के स्कोर पर मयंक अग्रवाल के रुप में लगा जिन्होंने मात्र 10 रन बनाकर कसिगो रबाड़ा को अपना विकेट थमाया। उसके बाद दूसरा झटका 16 रन पर चेतेश्वर पुजारा के रुप में लगा जो बिना खाता खोले रबाड़ा की गेंद पर LBW आउट हुए।

दूसरा विकेट गिरने के बाद भारतीय कप्तान विराट कोहली क्रीज पर आए। हालांकि कोहली भी सस्ते में आउट होकर चलते बने। कोहली ने मात्र 12 रन की पारी खेली और भारत का तीसरा विकेट 39 रन पर गिरा।

तीसरा विकेट गिरने के बाद क्रीज पर आए अजिंक्या रहाणे जिन्होंने रोहित शर्मा के साथ चौथे विकेट के लिए 185 रनों का साझेदारी की।

रोहित और रहाणे की साझेदारी के चलते दिन का खेल खत्म होने तक भारत ने तीन विकेट खोने के बाद कोई और विकेट नहीं खोया। रोहित शर्मा ने शानदार फॉर्म दिखाते हुए सीरीज का तीसरा शतक जड़ा और क्रीज पर 117 रन बनाकर मौजूद है और वहीं रहाणे ने भी शानदार फॉर्म दिखाते हुए 83 रनों की पारी खेलकर क्रीज पर मौजूद है।

रोहित ने शानदार शतक जड़ा और इस दौरान उन्होंने 13 चौके और 4 शानदार छक्के जड़े। रोहित शर्मा ने रिकॉर्ड की जड़ी लगाते हुए कई रिकॉर्ड अपने नाम किए, जिसमें उन्होंने किसी एक टेस्ट सीरीज में सबसे ज्यादा(17) छक्के लगाने का रिकॉर्ड भी अपने नाम कर लिया है। इससे पहले ये रिकॉर्ड वेस्ट-इंडिज के सिमरेन हेटमायर के नाम था, जिन्होंने एक टेस्ट सीरीज में 15 छक्के लगाए थे।

पहले दिन के खेल में बेकार रोशनी के चलते खेल को समय से पहले ही समाप्त कर दिया गया और वहीं भारत ने 3 विकेट के नुकसान पर 224 रन बना लिए है। रोहित शर्मा 117 रन और अजिंक्या रहाणे 83 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद है।

चुनाव प्रचार के आखिरी दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हरियाणा के सिरसा में लोगों को संबोधित किया। पीएम मोदी ने यहां के लोगों को अपनी आने वाली योजनाओं के बारे में बताया। साथ ही साथ एक बार फिर से पीएम मोदी ने कांग्रेस को निशाना बनाया। प्रचार कर रहे पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस ने सत्ता में रह कर अपनी बेकार और गलत नीतियों से पूरे देश को बर्बाद कर दिया।

पीएम मोदी ने जम्मू-कश्मीर को लेकर कांग्रेस पर एक बार फिर से निशाना साधा, जिसमें उन्होंने कहा कि कांग्रेस के राज में जम्मू-कश्मीर के साथ लगातार अन्याय हुआ, 70 वर्षों तक कांग्रेस ने जम्मू-कश्मीर में चली आ रही परेशानियों के संबंध में कुछ नहीं किया, जो हो रहा था उसे होने दिया।

प्रधानमंत्री मोदी ने करतारपुर कॉरिडोर को लेकर भी कांग्रेस को दोषी ठहराया। उन्होंने कहा कि विभाजन के समय करतारपुर कॉरिडोर साहिब गुरुद्वारे को भारत में शामिल नहीं कर पाना एक बहुत बड़ी गलती थी। जिसके चलते 70 सालों तक श्रद्धालुओं को दूरबीन से करतारपुर साहिब गुरुद्वारे के दर्शन करने पड़े।

हरियाणा में 21 अक्टूबर को 90 सीटों पर विधानसभा के चुनाव होने है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पाकिस्तान द्वारा पानी मुद्दे को लेकर दी गई चेतावनी का जवाब देते हुए कहा कि वो एक बार जिस बात का फैसला कर लेते है वो करके ही रहते है। चुनाव के प्रचार में लगे पीएम मोदी ने शुक्रवार को हरियाणा में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए रहे थे। बता दें कि पाकिस्तान ने गुरुवार को भारत को चेतावनी दी थी कि पानी की दिशा को किसी और स्थान में मोड़ने जैसी किसी भी प्रकार की कोशिश को आक्रामक कार्रवाई माना जाएगा।

पाकिस्तान की चेतावनी का जवाब देते हुए पीएम मोदी ने कहा है कि मैंने एक बार जो ठान लिया, उसे करके ही रहता हूं, मैं अपने हिसार के भाइयों और बहनों से यह वादा करता हूं कि आप के हक का पानी अब पाकिस्तान में नहीं बहेगा और मैं यह करके रहुंगा और इसके लिए हर जरूरी कदम उठाने शुरू कर दिए हैं।

पीएम मोदी ने जनता को संबोधित करते हुए अपनी अगली योजना के बारे में बताया, जिसमें उन्होंने कहा कि हमारी सरकार आने वाले पांच सालों में पीने के पानी के लिए और खेतों की सिंचाई के लिए करीब 3.5 लाख करोड़ रुपये खर्च करने जा रही है। हरियाणा के हिसार में पीएम मोदी ने कहा कि हमारे मिशन जल जीवन के तहत अगले पांच सालों में पानी को लेकर हर तह के प्रयास किए जाएंगे और इसके लिए हमने इस योजना के लिए 3.5 लाख करोड़ रुपये खर्च करने जा रहे है।

पानी को लेकर योजना को लेकर पीएम मोदी ने कहा कि हमने उम्मीद जताई कि 2024 तक यह योजना देश में सफल हो सके, जिससे पानी की समस्या को खत्म किया जा सके।

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच खेली जा रही 3 टेस्ट मैचों की सीरीज का तीसरा एंव आखिरी मैच 19 अक्टूबर से रांची के स्टेडियम में खेला जाएगा। रांची टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का शहर है, जिसके चलते धोनी भी स्टेडियम में नजर आएंगे। इस बात की जानकारी झारखंड क्रिकेट एसोसिएशन (JCA) और उनके कोच केशव बनर्जी ने भी की है। धोनी के कोच ने कहा कि धोनी कल रांची आएंगे और मैच के पहले दिन ही वो यहां स्टेडियम में जरूर आएंगे।

आपको बता दें कि झारखंड क्रिकेट एसोसिएशन ने महेंद्र सिंह धोनी को भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच खेले जाने वाले तीसरे टेस्ट मैच में आने का आमंत्रण भेजा था और इसका जवाब देते हुए धोनी इसे स्वीकार कर लिया है। धोनी के आने की खबर से क्रिकेट फैन्स को स्टेडियम में खींच लाएगी और यह अनुनाम भी लगाया जा रहा है की मैदान में दर्शकों की संख्या में काफी बढोतरी होगी।

विश्व कप 2019 के बाद से धोनी ने कोई भी मैच नहीं खेला है। उन्होंने वेस्टइंडीज दौरे से अपना नाम वापस ले लिया था और अपनी बटालियन के साथ आर्मी ट्रेनिंग के लिए के लिए चले गए थे। उसके बाद धोनी ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ हुई टी20 में भी खेलने से मना कर दिया था। हालांकि सूत्रों से इस बात की पूष्टि की गई थी कि धोनी अभी और क्रिकेट खेलते नजर आएंगे।

ब्रिटेन और यूरोपीय संघ की नई ब्रेक्जिट डील दलाल स्ट्रीट तक पहुंचने की खबर के बाद निवेशकों ने गुरुवार को भारी मात्रा में टाटा मोटर्स के शेयर खरीदे।

जानकारी के मुताबिक ब्रसेल्स में यूरोपीय नेताओं की बैठक से पहले यूके और यूरोपीय संघ की बातचीत करने वाली टीमों के बीच एक ब्रेक्जिट डील को लेकर सहमति हुई है, जिसके बाद बेंचमार्क सेंसेक्स 453 अंक तकत आते-आते बंद हो गया, और इसका फायदा टाटा मोटर्स को मिला जिसके चलते बीएसई पर 9.82 रुपये प्रति शेयर से बढ़कर 138.15 रुपये प्रति शेयर पर पहुंच गया है।

इसकी जानकारी देते हुए अधिकारी दीपक जसानी ने कहा कि ब्रेक्जिट सौदे को संसद द्वारा पारित किया जाना बाकी है, लेकिन यदि ये समाप्त हो जाती है, तो यह ऑटो उद्योग और IET कंपनियों के लिए यह बहुत ही फायदेमंद साबित होगा जिसके चलते उन्हें इसका पूरा लाभ मिलेगा।

मौजूदा मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई (Chief Justice Ranjan Gogoi) ने अगला न्यायधीश बनाने के लिए केंद्र सरकार से सिफारिश की है, जिसमें उन्होंने शरद अरविंद बोबडे को अगला मुख्य न्यायाधीश बनाने को लेकर कहा है। रंजन गोगोई का कार्यकाल 17 नवंबर 2019 में खत्म हो रहा है और नियमों के मुताबिक मौजूदा मुख्य न्यायाधीश के पास यह हक होता है जिसमें वह अगले मुख्य न्यायधीश को चुनने के लिए सरकार से सिफारिश करता है। इसी को देखते हुए रंजन गोगोई ने अगले मुख्य न्यायधीश के लिए जस्टिस शरद अरविंद बोबडे की सिफारिश की थी।

रंजन गोगोई की सिफारिश के बाद जस्टिस शरद अरविंद बोबडे उच्चतम न्यायालय के नए मुख्य न्यायाधीश होंगे। वे 18 नवंबर को मुख्य न्यायाधीश के पद की शपथ लेंगे और उनका कार्यकाल 23 अप्रैल 2021 तक होगा।

जस्टिस शरद अरविंद बोबडे का जन्म 1956 में नागपुर में हुआ था और वहीं से उन्होंने अपनी LLB की डिग्री हासिल की है। इसके बाद वे 1978 में बार काउंसिल के सदस्य बने और बॉम्बे हाईकोर्ट “Bombay High Court” की नागपुर बेंच में प्रैक्टिस करने लगे। वहीं साल 2010 में उन्हें बॉम्बे हाईकोर्ट का अतिरिक्त जज नियुक्त किया गया था। साल 2012 मे वह मध्य प्रदेश के हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश बने। साल 2013 में वे सुप्रीम कोर्ट के जज  बने।

अब वे 18 नवंबर को मुख्य न्यायाधीश के पद की शपथ लेंगे और उनका कार्यकाल 23 अप्रैल 2021 तक होगा।

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने भारत और चीन को लेकर एक बड़ा बयान दिया है। ट्रंप ने कहा है कि भारत और चीन अब अविकसित देश नहीं रहे हैं। इन दोनों देशों ने इतना विकास कर लिया है कि इन्हें अविकसित सूची का नहीं कहा जा सकता, इसके बाद भी दोनों ही देश विश्व व्यापार संगठन (WTO) से विकासशील दर्जे के तहत मिलने वाले सभी फायदे ले रहे हैं।

अमेरिकी राष्ट्रपति ने आगे कहा कि उनके प्रशासन ने WTO को इस विषय पर चर्चा करते हुए पत्र लिखकर इस बात की गुजारिश की है कि भारत और चीन को इस संगठन के तहत आने वाले फायदे को बंद किया जाए।

ट्रंप ने कहा कि हमारे प्रशासन ने WTO को चिट्ठी लिखी है और उसमें कहा है कि इन दोनों देशों को इस दर्जे से अलग किया जाए, डब्ल्यूटीओ के लिए आज भी चीन एक विकासशील देश है, डब्ल्यूटीओ को अब ये बंद करना होगा। वहीं भारत को लेकर ट्रंप ने कहा कि हम भारत को अब विकासशील देश के दर्जे में नहीं रख सकते क्योंकि चीन के साथ-साथ भारत भी अमेरिका को कड़ी टक्कर दे रहा हैं, जिसके चलते हम ने इस बात को ध्यान में रखते हुए इस बात का फैसला लिया है कि आगे हम यह फायदा नहीं दे सकते।

इससे पहले करीब तीन महिने पहले जुलाई में ट्रंप ने इस मुद्दे को उठाते हुए डब्ल्यूटीओ से यह साफ करने के लिए कहा था कि वह किस आधार पर अन्य देशों को WTO में विकासशील देश का दर्जा देता है।

आपको बता दें विश्व व्यापार संगठन (WTO) का कार्य विकासशील देशों को विश्व स्तर पर व्यापार में आने वाले नियमों के तहत रियायत मिलती है। ट्रंप ने इस बात को साफ करते हुए यह भी कहा था कि यदि कोई विकसित अर्थव्यवस्था डब्ल्यूटीओ से मिलने वाले फायदें का लाभ उठाती है तो वह उसके खिलाफ विश्व स्तर दंडात्मक कार्रवाई शुरू करे।

बॉलीवुड “Bollywood” की आवाज़ कहे जाने वाले महानायक अभिनेता अमिताभ बच्चन की सेहत को लेकर एक बड़ी खबर आ रही है। जिसमें पता चला है कि वो अस्वस्थ हैं और मुंबई में स्थित नानावटी अस्पताल में भर्ती हैं। जानकारी के मुताबिक Big B लीवर की समस्या से लगातार झूंझते रहे है और एक बार फिर से इसके चलते उन्हें अस्पताल में भर्ती होना पड़ा है। जहां उनका इलाज किया जा रहा है।

आपको बता दें कि अपनी इस बीमारी को लेकर अमिताभ बच्चन हमेशा से बोलते रहे है, और इसी को लेकर एक बार उन्होंने इस बात का खुलासा भी किया था कि उनका केवल 25% लीवर काम करता है।

इस परेशानी के चलते करीब तीन दिन पहले मंगलवार को बिग बी को अस्पताल ले जाया गया था। जानकारी के मुताबिक बिग बी की हालत में थोड़ा सुधार आया है। हर बार की तरह डॉ बर्वे की रेख-देख में उनका इलाज किया जा रहा है, जो हमेशा से ही बच्चन के स्वास्थ्य की निगरानी करते हैं। हालांकि अमिताभ बच्चन के स्वास्थ्य के बारे में पूछे जाने पर कोई भी खुल कर नहीं बोल रहा है।

जब से ये खबर सुर्खियों में आई है, अमिताभ बच्चन को हर भारतीय और दुनिया के अन्य हिस्सों से लोगों की दुआएं मिल रही हैं। अमिताभ बच्चन इन दिनों “Kaun Banega Crorepati” की शूटिंग कर रहे है जिसमें वे शो को होस्ट कर रहे हैं। इसके अलावा वह फिल्म ब्रह्मास्त्र की शूटिंग में भी व्यस्त हैl

पेरिस में 13 अक्टूबर से 18 अक्टूबर तक चल रही फाइनेंसियल एक्शन टास्क फोर्स (FATF) की बैठक में पाकिस्तान को लेकर बड़ा फैसला ले ना था। हालांकि अब रिपोर्ट की माने तो पाकिस्तान के ऊपर अब FATF द्वारा ब्लैकलिस्ट होने का खतरा मंडराने लगा है।

आपको बता दें कि पाकिस्तान द्वारा एक बार फिर से कश्मीर मुद्दे को लेकर तीसरे पक्ष को शामिल करने जैसी नाकाम कोशिश की गई थी। इसी पर FATF की चल रही बैठक में किसी भी देश ने पाकिस्तान का साथ नहीं दिया, और इतना ही नहीं पाकिस्तान को आतंकवादियों को पनाह देने और उन्हें फंडिंग करने को लकेर FATF ने चेतावनी देते हुए सुधरने का आखिरी मौका दिया था।

जांच के बाद सबके सामने ये साबित हो गया है कि पाकिस्तान ने आतंकियों के खिलाफ कोई कदम नहीं उठाया और साथ ही साथ दुनिया में शांति को लेकर झूठा खेल खेला है। इन्हीं सबके चलते पाकिस्तान पर ब्लैक लिस्ट होने का खतरा मंडराने लगा है। बता दें कि पाकिस्तान को पहले से ही ग्रे लिस्ट में रखा गया है, पाकिस्तान द्वारा इससे बाहर निकलने के हर तरह के प्रयास किए जा रहे है। इसकी को देखते हुए एफएटीएफ ने पाकिस्तान को 4 महीने का समय दिया है, और अगर दिए गए समय भी पाकिस्तान नहीं सुधरता है वो ब्लैकलिस्ट हो जाएगा।

पाकिस्तान से हर कोई देश दूरी बनाए हुए है तो ठीक वहीं दूसरी ओर चीन, तुर्की और मलेशिया ने पाकिस्तान के समर्थन में आगे बढ़ते हुए उसके द्वारा उठाए गए कदमों की सराहना की। हालांकि भारत ने पाकिस्तान द्वारा आतंकवाद को चलाने वाले हाफिज सईद को अपने खातों से फंडिंग की अनुमति देने को लेकर FATF से पाक को ब्लैकलिस्ट करने की सिफारिश की है।

इन तीन देशों के चलते बचा पाकिस्तान

पाकिस्तान को चीन, तुर्की और मलेशिया द्वारा एक साथ दिए गए समर्थन के आधार पर एफएटीएफ ने पाकिस्तान को ब्लैकलिस्ट जैसा निर्णय नहीं लिया। आपको बता दें कि FATF द्वारा बनाए गए नियमों के मुताबिक 36 देशों वाले इस संगठन में यदि किसी भी देश को ब्लैकलिस्ट करने जैसा स्थिति आती है तो उसे कम से कम तीन देशों के समर्थन मिलने पर छोड़ा जा सकता है, ठीक ऐसा पाकिस्तान के साथ भी हुआ।

हालांकि पाकिस्तान को FATF की तरफ से कड़ी चेतावनी दी गई है, जिसमें उसे जल्द से जल्द कई जगहों पर सुधार करने का आदेश दिया गया है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को कहा कि ऑड-ईवन (ODD-EVEN) स्कीम को दिव्यांग लोगों के दायरे से बाहर रखा जाएगा, जिसके चलते ऑड-ईवन उन पर लागू नहीं होगी। बता दें कि बढ़ते प्रदूषण के चलते राष्ट्रीय राजधानी में एक बार फिर से 4 से 15 नवम्बर के बीच ऑड-ईवन स्कीम को लागू किया जाएगा। यह तीसरी बार है जब ऑड-ईवन स्कीम को दिल्ली में लागू किया जाएगा।

केजरीवाल ने इस बात की जानकारी देते हुए एक ट्वीट किया, जिसमें उन्होंने लिखा है कि दिव्यांग लोगों को ऑड-ईवन स्कीम के दायरे से बाहर रखा जाएगा।

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने ऑड-ईवन के लिए पिछले सप्ताह हुई एक प्रेस कांफ्रेंस में महिलाओं को इस स्कीम के दायरे से बाहर रखने को लेकर घोषणा की थी। दिल्ली में प्रदूषण की समस्या को ध्यान में रखते हुए अरविंद केजरीवाल ने यह भी कहा था कि इससे पहले निजी सीएनजी गाड़ियों को छूट दी गई थी, लेकिन इस बार CNG वाहनों को भी इससे के तहत रखा जाएगा और उन्हें किसी तरह की छूट नहीं दी जाएगी।

हालांकि नए मोटर वीइकल ऐक्ट के तहत सभी जुर्मानों को दोगुना कर दिया गया है, जिसे देखते हुए ऑड-ईवन को लेकर हुई बैठक में यातायात विभाग ने इस बात की सलाह दी थी कि जो भी इस नियम का पालन नहीं करेगा या उल्लंघन करता पाया जाए, उस पर जुर्माना 2,000 रुपये के जुर्माने को बढ़ाकर 4,000 रुपये कर दिया जाए।

जुर्माने को दोगुना करने को लेकर अभी कोई अधिकारिक घोषणा नहीं हुई है। वहीं दिल्ली में प्रदूषण को देखते हुए दिल्ली सरकार द्वारा लोगों को इसका उल्लंघन करने से रोकने के लिए जुर्माना बढ़ाया भी जा सकता है।

बीसीसीआई (BCCI) के नए अध्यक्ष के रुप में भारतीय टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली को चुने जाने को लेकर अधिकारिक घोषणा होनी है। हालांकि यह मात्र एक औपचारिकता होगी, क्योंकि नए अध्यक्ष के रुप में सौरव गांगुली पद संभालने के लिए तैयार है।

इसकी जिम्मेदारियों को देखते हुए सौरव गांगुली ने मंगलवार को कहा कि वे चाहते हैं कि भारतीय टीम आने वाले समय में आईसीसी द्वारा आयोजित बड़े टूर्मामेंट्स में जीत हासिल करने पर अपना सारा ध्यान लगाए। गांगुली ने भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली को सलाह देते हुए कहा कि विराट कोहली ICC के टूर्नामेंट को जीतने को लेकर गंभीरता से सोचें।

कोलकाता में गांगुली ने ईडन गार्डन्स स्टेडियम (Eden Garden Stadium) में अध्यक्ष बनने को लेकर कई सवालों के जवाब दिए, साथ ही साथ उन्होंने यह भी कहा कि हमें अब बड़े टूर्नामेंट्स जीतने पर ध्यान लगाना होगा, मैं जानता हूं कि हम हर टूर्नामेंट नहीं जीत सकते, लेकिन यह भी सच है कि हमने कई टूर्नामेंट्स में नाकामी भी झेली है।

मौजूदा भारतीय टीम की तारिफ करते हुए पूर्व कप्तान ने कहा कि आज की टीम उनके समय में खेलने वाली टीम से ज्यादा बेहतर है, क्योंकि समय के साथ टीम मानसिक रूप से ताकतवर हुई है, इसका फायदा हमें उठाने की जरुरत है और आईसीसी टूर्नामेंट में अच्छा प्रदर्शन कर टूर्नामेंट को जीतने की जरुरत है।

भारतीय टीम के आखिरी आईसीसी टूर्नामेंट को अपने नाम करने को लेकर गांगुली ने कहा कि भारत ने अपना आखिरी आईसीसी टूर्नामेंट महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में 2013 में जीता था। तब से हम कुछ भी नहीं जीते है, इस साल विश्वकप में भी हम सेमीफाइनल हार गए थे और टूर्नामेंट से बहार हो गए थे, वहीं अब इसको लेकर अपनी मानस्किता बदलनी पड़ेगी और आईसीसी द्वारा आयोजित टूर्नामेंट्स में अच्छा कर उन्हें अपने नाम करना होगा।

दिल्ली में हाल ही में लगातार बढ़ रहे प्रदूषण को देखते हुए कई तरह के कदम उठाए जा रहे है, और इसी पर पर्यावरण प्रदूषण प्राधिकरण (Environmental Pollution Control Authority) ने बड़ा फैसला लिया है। पर्यावरण प्रदूषण प्राधिकरण ने प्रदूषण को कम करने के लिए दिल्ली-एनसीआर (Delhi-NCR) में आज से डीजल जनरेटर पर बैन लगा दिया है और यह नियम अब से 15 मार्च 2020 तक लागू रहेगा।

नए नियम के तहत डीजल जनरेटर का इस्तेमाल नहीं किया जा सकेगा। इससे जनता को होने वाली परेशानियों के चलते EPCA  ने स्टेट इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड (SEB) को इस बात का ध्यान रखने का आदेश भी दिया गया है, जिसमे उन्हें कहा गया है कि जिन जगहों पर कामकाज को लेकर बीजली की ज़रूरत है, वहां इलेक्ट्रिसिटी की उपलब्धता ठीक तरह से की जाए ताकि लोगों के कामकाजों में किसी तरह की परेशानी ना हो। पर्यावरण प्रदूषण नियंत्रण और संरक्षण प्राधिकरण के ये नियम लागू करने की वजह दिल्ली-एनसीआर की हवा की एयर क्वॉलिटी (Air Quality) इंडेक्स का रेड जोन तक आना है।

डीजल जनरेटर के इस्तेमाल न होने को लेकर अधिकारियों को इस बात की हिदायत दी गई है कि इस प्रक्रिया में किसी तरह की लापरवाही नहीं हो और कोई इसकी आवेहलना न करें, साथ ही साथ इस बात का भी ध्यान रखने को कहा गया है कि होटल और ढाबों में कोयला और लकड़ी नहीं जलाई जा सकेगी।

आपको बता दें कि दिल्ली में हर साल शर्दियों के मौसम के आसपास दिल्ली की हवा में बहुत अंतर देखा जाता है, जिसमें लोगों को सांस लेने जैसी समस्या का सामना करना पड़ता है। इसी को ध्यान में रखते हुए दिल्ली सरकार द्वारा कई तरह के कदम उठाएं जा रहे है, जिसमें ऑड-ईवन स्कीम को एक बार फिर से लागू किया जा रहा है।

अंतरराष्ट्रीय मंच पर लगातार सहायता मांगने वाले पाकिस्तान को एक बार फिर से बड़ा झटका लगा है। हर जगह से अलग-थलग पड़े पाकिस्तान को 6 दिनों के लिए चल रही फाइनैंशल एक्शन टास्क फोर्स (FATF) की बैठक में किसी का समर्थन नहीं मिल रहा है।

13 अक्टूबर से 18 अक्टूबर तक चल रही FATF की बैठक में पाकिस्तान को किसी भी देश द्वारा किसी भी तरह का समर्थन और सहायता नहीं मिल पा रही है। इतना ही नहीं आतंकवाद गतिविधियों को पनाह देने, आतंकी फंडिंग को न रोकने और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अन्य देशों के साथ संबंधों को देखते हुए पाकिस्तान को FATF संगठन के 'डार्क ग्रे' लिस्ट में डाला जा सकता है, जिसका मतलब होता किसी भी देश को सुधरने के लिए आखिरी चेतावनी देना। बता दें 18 अक्टूबर तक चलने वाली बैठक में 200 से अधिक देशों और संगठनों के प्रतिनिधि भाग ले रहे हैं।

बैठक में हो रही चर्चा के तहत एक अधिकारी ने कहा कि पाकिस्तान को 'डार्क ग्रे' लिस्ट में डाला जा सकता है, क्योंकि जांच के बाद जो आंकड़ा मिला हैं उसमें पाकिस्तान 27 पॉइंट में से सिर्फ 6 पर ही खरा पाया गया है। इसी को ध्यान में रखते हुए संगठन पाकिस्तान पर कड़ी कार्रवाई कर सकता है। पाकिस्तान को लेकर FATF द्वारा बैठक के अंतिम दिन 18 अक्टूबर को फैसला लिया जाएगा।

आपको बता दें FATF के नियमों में तीन वर्ग आते है जिसमें ग्रे सूची, डार्क ग्रे सूची और ब्लैक सूची शामिल है और वहीं पाकिस्तान मात्र 27 पॉइंट में से सिर्फ 6 पर ही खरा पाया गया है, जिसके चलते इन तीन वर्गों में आने वाली 'डार्क ग्रे’ सूची के तहत पाकिस्तान को कड़ी कार्रवाई का सामना करना पड़ सकता है।

Cricket: विश्व कप 2019 में न्यूजीलैंड और इंग्लैंड के बीच खेले गए फाइनल के टाई होने पर सुपर ओवर में भी दोनों टीमों के बराबर रन बनाने के बाद इंग्लैंड को विजेता घेषित करने पर विश्व भर में हुए विवाद ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) को इस नियम पर विचार विर्मश करने पर मजबूर कर दिया था। हालांकि अब इसी को देखते हुए ICC ने सोमवार को सभी बड़े टूर्नामेंटों के लिए सुपर ओवर के नियमों में बदलाव किया है।

न्यूजीलैंड और इंग्लैंड के बीच खेले गये फाइनल में दोनों टीमों ने 241 रन बनाये थे, जिसके बाद विजेता चुनने के लिए सुपर ओवर किया गया। सुपर ओवर में भी दोनों टीमों ने 15-15 रन बनाये और मैच टाई रहा। इसके बाद मैच में ज्यादा बाउंड्री लगाने के कारण इंग्लैंड को विजेता घोषित किया गया था। इसके बाद ICC को कड़ी आलोचना का सामना करना पड़ा था।

विश्व भर में फैले किक्रेट के करोड़ों फैन्स के साथ-साथ किक्रेट के कई दिग्गजों ने इस नियम पर सवाल उठाए थे। इसी को देखते हुए आईसीसी ने ऐसे नियमों में बदलाव किया है जिसके तहत अब से ज्यादा बाउंड्री लगाने वाली टीम को विजेता घोषित करने वाले नियम को पूरी तरह से हटा दिया गया है, और नए नियम के अनुसार अगर सेमीफाइनल और फाइनल मुकाबले में सुपर ओवर में भी दोनों टीमें बराबर रन बनाती है तो फिर से सुपर ओवर होगा, यदि इसमें भी हमे विजेता नहीं मिला तो एक और सुपर ओवर होगा, जब तक कोई एक टीम विजेता नहीं बनती सुपर ओवर खेला जाता रहेगा।

इस नए नियम के बारे में जानकारी देते हुए ICC की बोर्ड की बैठक के बाद जारी बयान में कहा गया कि आईसीसी क्रिकेट समिति, मुख्य कार्यकारी अधिकारियों (CEC) की समिति की सिफारिश के बाद इस पर विचार किया गया था और यह निर्णय लिया गया है, जिसमें सभी सहमत है। सुपर ओवर के चलते रोमांच बना रहेगा।। यह नियम आईसीसी के मैचों में जारी रहेगा और इसे तब तक किया जाएगा जब तक टूर्नामेंट के मैच का परिणाम साफ तरीके से नहीं मिलता।

चुनावों के लिए अपने उम्मीदवारों के प्रचार प्रसार में लगे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने सोमवार को भाजपा उम्मीदवार नरेंद्र मेहता के पक्ष में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए राफेल विमानों की ताकत के बारे में लोगों को बताते हुए बालाकोट एयर स्ट्राइक को लेकर बड़ा बयान दिया है। रक्षा मंत्री ने कहा कि अगर भारत के पास पहले से राफेल युद्धक विमान होते तो भारतीय वायुसेना को आतंकी अड्डो पर निशाना बनाने के लिए पाकिस्तान के बालाकोट में घुसने की जरूरत नहीं होती।

राजनाथ सिंह ने कहा कि अगर हमारे पास राफेल युद्धक विमान होते तो हमें बालाकोट में घुसने और हमला करने की आवश्यकता नहीं होती। राफेल विनामों के चलते हम भारत में बैठकर बालाकोट में हमला कर सकते थे और वहां चल रहे आतंकी अड्डो को आतंकवादियों के साथ ही नष्ट कर सकते थे। हालांकि उन्होंने ये भी कहा कि ऐसे खतरनाक लड़ाकू विमान केवल आत्मरक्षा के लिए हैं न कि आक्रमण के लिए।

आपको बता दें कि राफेल विमानों की पूजा करने पर विरोध करने वालों को राजनाथ सिंह ने करारा जवाब दिया था, जिसमें उन्होंने कांग्रेस के नेताओं पर निशाना साधते हुए कहा था कि विमान पर ऊं लिख दिया तो विपक्ष ने इस पर भी विवाद पैदा कर दिया है, कांग्रेस हर बार बिना सोचे समझे आरोप लगाती है और वहीं एक चुनावी सभा में बोलते हुए  राजनाथ सिंह ने सभा में आए लोगों से ये भी कहा था कि मैं आप लोगों से पूछना चाहता हूं कि क्या आपके घरों में ऊं नहीं लिखा होता।

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच खेले जा रहे 3 टेस्ट मैचों की सीरीज का दूसरा टेस्ट मैच पुणे के MCA स्टेडियम में खेले गए दूसरे टेस्ट मैच में भारत ने द.अफ्रीका को पारी और 137 रनों से मात देकर तीन मैचों की टेस्ट सीरीज में 2-0 से अजेय बढ़त बना ली है। पहली पारी में भारत के 610-5 पहाड़ जैसे स्कोर का पीछा करने उतरी द.अफ्रीका को टेस्ट के तीसरे दिन के आखिरी सत्र में खेल खत्म होने तक अश्विन ने रबाडा को LBW कर द.अफ्रीका की टीम को 275 रनों पर समेट दिया, जिससे पहली पारी के चलते भारत के पास 326 रनों की बढ़त थी।

326 रनों की अजय बढ़त के साथ भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने Follow on के चलते चौथे दिन एक बार फिर से द.अफ्रीका को खेलने के लिए आमंत्रित किया। दूसरी पारी में खेलने उतरी दक्षिण अफ्रीका की टीम एक बार फिर से लड़खड़ाई और पहले सत्र में लंच तक 74 रन पर 4 विकेट खो दिए। द.अफ्रीका के पहला विकेट एडेन मार्कराम के रुप में गिरा जो दूसरी पारी में भी बिना खाता खोले इशांत शर्मा की गेंद पर आउट हुए। इसके बाद छठे ओवर में 21 के स्कोर पर थ्यूनिस डी ब्रुइन भी 8 रन बनाकर उमेश यादव की गेंद पर आउट हो गए।

दो विकेट खोने के बाद डीन एल्गर ने कप्तान फाफ डू प्लेसी के साथ तीसरे विकेट के लिए 49 रन जोड़े, लेकिन लंच से पहले भारतीय टीम ने दोनों बल्लेबाजों को पवेलियन भेजकर दक्षिण अफ्रीका को बड़े झटके दिए। अश्विन ने 70 के स्कोर पर डू प्लेसी 5 रन और 71 के स्कोर पर डीन एल्गर को 48 रन पर आउट किया।

लंच के बाद खेलने आई द.अफ्रीका की टीम को 5वां झटका 79 रन पर क्वींटन डी कॉक के रुप में लगा जो मात्र 5 रन पर जडेजा का शिकार बने। इसके बाद क्रीज पर मौजूद तेंबा बवूमा और सेनूरन मुत्तुस्वामी के छोटी सी 46 रनों की साझेदारी हुई और इस साझेदारी को जडेजा ने तेंबा बवूमा को 38 रन पर आउट करके तोड़ा और 125 रन पर अफ्रीका को छटा झटका दिया, इसके बाद ही मोहम्मद शमी ने सेनूरन मुत्तुस्वामी 9 रन पर आउट कर 129 रन पर 7वां झटका दिया।

जीत से 3 विकेट दूर भारतीय टीम को एक बार फिर से द.अफ्रीका के नीचले क्रम के बल्लेबाजों ने परेशान किया। फिर एक के बाद एक तीनों खिलाड़ियों को आउट कर भारत ने टेस्ट सीरीज अपने नाम कर ली है और साथ ही साथ 3 टेस्ट मैचों की सीरीज में 2-0 की बढ़त भी हासिल कर ली है।

फॉलोऑन मिलने के बाद दूसरी पारी में दक्षिण अफ्रीका 189 रनों पर ढेर हो गई। भारत के लिए दूसरी पारी में रवींद्र जडेजा और उमेश यादव ने तीन-तीन विकेट लिए, जबकि रविचंद्रन अश्विन को दो सफलताएं मिलीं और मोहम्मद शमी और ईशांत शर्मा ने एक-एक विकेट झटके। दूसरी पारी में अफ्रीका के लिए डीन एल्गर ने सबसे अधिक 48 रन बनाए, जबकि टेम्बा बावूमा ने 38 तथा वर्नोन फिलैंडर ने 37 रनों की पारी खेली।

राफेल विमानों की पूजा करने पर विरोध करने वालों को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने करारा जवाब दिया है। राजनाथ सिंह ने विरोधियों पर निशाना साधते हुए कहा कि सालों से चली आ रही भारतीय संस्कृति और परंपरा का पालन करना कोई गुनाह हैं क्या?

आपको बता दें कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह 7 अक्टूबर को फ्रांस के दौरे पर गए थे, जहां उन्हें भारत और फ्रांस की डील के मुताबिक राजधानी पेरिस में राफेल विमान मिलने थे। इसके बाद राजनाथ सिंह को 8 अक्टूबर दशहरा के दिन पेरिस में पहला राफेल विमान मिला था, जिसके बाद उन्होंने भारतीय संस्कृति और परंपरा के तहत विमान पर ऊं लिख कर उसकी पूजा की थी। हालांकि विमानों की पूजा करने की बात कुछ लोगों को रास नहीं आई, जिसके चलते लोगों ने इस पर सवाल उठाने शुरु कर दिए थे।

इसका जवाब देते हुए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि विमान पर ऊं लिख दिया तो विपक्ष ने इस पर भी विवाद पैदा कर दिया है। रक्षा मंत्री ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस हर बार बिना सोचे समझे आरोप लगाती है। एक चुनावी सभा में बोलते हुए  राजनाथ सिंह ने सभा में आए लोगों से कहा कि मैं आप लोगों से पूछना चाहता हूं कि क्या आपके घरों में ऊं नहीं लिखा होता।

यूं तो जापान में भूकंप आना बहुत ही आम बात है। लगातार भूकंप की खबरों का अड्डा बने जापान ने इसको इस कदर अपनाया है कि इसके प्रभाव से बचने के लिए वहां के घरों को इस तरह से बनाया है जिसमें भूकंप मात्र हाजरी के समान लगता है और चला जाता है।

हालांकि जापान के इन्हीं मजबूत इरादों के बीच रोड़ा बने बड़े तूफान जिसको लेकर लोगों को लगातार चेतावनी दी जा रही थी और इससे निपटने के लिए कई तरह के कदम उठाए जा रहे थे। उसके बाद भी जापान में भीषण तूफान हेजिबीस (Hagibis) ने शनिवार को अपने आगमन के साथ ही कई लोगों को घायल कर दिया। जानकारी के मुताबिक यह जापान में आने वाला पिछले 60 सालों में सबसे खराब तूफान है। इसको लेकर लोगों को पहले से ही चेतावनी दी गई थी और साथ ही साथ जापान में इसका सामना करने के लिए कई तरह के कदम उठाए गए, उसके बाद भी शनिवार हेजिबीस तूफान के चलते को दो लोगों की मौत हो गई, सैकड़ों घायल हो गए और इस घटना में कई लोग लापता भी हो गए है। मृत लोगों का आंकड़ा बढ़ भी सकता है।

साथ ही साथ तूफान की वजह से कई इलाकों में भारी बारिश भी हुई है। जापान के रेलवे स्टेशन ठप हो गए, गलियां सुनसान हो गईं और लोग अपने घरों में दुबक गए। जापान के मौसम विभाग के मुताबिक शनिवार शाम को वहां करीब 150 किलोमीटर की गति से हवाएं चल रही थीं।

खेले जा रहे रग्बी विश्व कप के दो मैचों को भी रद्द कर दिया गया है। तूफान को लेकर जापान में पहले से ही तेज बारिश की चेतावनी दी थी औऱ इसी को देखते हुए प्रशासन ने लाखों लोगों को सुरक्षित स्थानों पर जाने की सलाह दी है। इवन सब घटनाओं के बीच समंदर में भूकंप भी आया था जिसकी तीव्रता 5.2 थी लेकिन इसका असर ज्यादा नहीं हुआ क्योंकि सेंटर काफी नीचे था।

क्या है हेजिबीस Hagibis ?

Hagibis को हिंदी भाषा में “गति” के नाम से जाना जाता है, जिसका मतलब होता है किसी को नष्ट करने के लिए गति से चलने वाली प्राकृतिक आपदा।

शनिवार आए इस तूफान की गति के चलते समंदर के पानी में कारें भी तैरती देखी गईं समंदर में बड़ी-बड़ी लहरें देखी गईं और दूर तक की चीजें समंदर में चली गईं। जापान की मीडिया के मुताबिक नदियों में भारी लहरे उठ रही है, जिससे लोगों को ऐसे स्थानों से दूर रहने की चेतावनी दी गई है।

आपको बता दें कि जापान के टोक्यो में 1958 में ऐसा ही तूफान आया था जिसमें 1200 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई थी और सैकडों लोग घायल हो गए थे। 1958 में आए भीषण तूफान के चलते हजारों घरों में पानी भर गया था। शनिवार को आए हेजिबीस तूफान को जापान के 1958 में आए तूफान जैसा बताया जा रहा है।

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच खेले जा रहे 3 टेस्ट मैचों की सीरीज का दूसरा टेस्ट मैच पूणे के MCA स्टेडियम में खेला जा रहा है। टेस्ट के दूसरे दिन के खेल में 5 विकेट के नुकसान पर भारत ने 601 रनों पर अपनी पारी को घोषित कर दिया था, जिसके बाद खेलने आई द.अफ्रीका की टीम दिन का खेल खत्म होने तक 36 रन बनाकर 3 विकेट गंवा दी थी।

दूसरे दिन के खेल खत्म होने के बाद तीसरे दिन खेल को आगे बढ़ाने उतरी द.अफ्रीका की टीम ने पहले सत्र में लंच से पहले 6 विकेट के नुकसान पर 136 बनाए। फाफ डू प्लेसी (52) और सेनूरन मुत्तुस्वामी (6) रन बनाकर क्रीज पर मौजूद है। तीसरे दिन खेल को आगे बढ़ाने उतरी द.अफ्रीका की टीम ने चौथा विकेट 41 के स्कोर पर अनरिच नार्टि के रुप में खोया, जिन्होंने मात्र 3 रन बनाए और मोहम्मद शमी का शिकार बने। इसके बाद द.अफीका का 5वां विकेट थ्युनिस डि ब्रुइन के रुप में 53 के स्कोर पर गिरा, जिन्होंने 30 रन बनाए और उमेश यादव के तीसरे शिकार बने।

पांच विकेट खोने के बाद क्रीज पर मौजूद द.अफ्रीका के कप्तान फाफ डू प्लेसी और विकेटकीपर क्वींटन डी कॉक के बीच छटे विकेट के लिए 75 रन की साझदारी हुई, तभी रविचंद्रन अश्विन ने डी कॉक को अपने जाल में फंसाया और 31 रन के निजी स्कोर पर क्लीन बोल्ड कर दिया, जिसके चलते अफ्रीका को 128 रन पर छटा झटका लगा।

लंच के बाद खेलने उतरी द.अफ्रीका की टीम स्कोर 6 विकेट के नुकसान पर 136 था और वहीं उम्मीद की जा रही थी की टीम इंडिया दूसरे सत्र में टी ब्रेक से पहले अंतिम चार विकेट ले ही लेगी, लेकिन इस सत्र में वेह केवल दो ही विकेट गिरा सकी।

162 के स्कोर पर मेहमान टीम के 8 विकेट गिर चुके थे। फिलेंडर का साथ देने केशव महाराज क्रीज पर आए. यहां से दोनों ने पारी को संभाला और टीम इंडिया के दिग्गज गेंदबाजों के लिए इन्हें आउट करना मुश्किल हो गया। दूसरे सत्र में दोनों ने अपनी टीम का स्कोर 197 तक पहुंचाया और 35 रन की साझेदारी भी की।

मेजबान गेंदबाजों की मुसीबत केश्व महाराज और फिलेंडर ने बढाई जब दोनों ने 9वें विकेट के लिए 109 रन की साझेदारी कर ली और अपनी टीम का स्कोर 271 रन कर दिया। उस समय दिन का खेल खत्म होने वाला था। उसके बाद अश्विन ने रबाडा के LBW कर द.अफ्रीका की टीम को 275 रनों पर समेट दिया।

पहली पारी के चलते भारत के पास अब 326 रनों की बढ़त है और चौथे दिन के खेल में यह देखने वाली बात होगी कि कप्तान कोहली दूसरी पारी में भारतीय टीम को एक बार फिर से बल्लेबाजी के लिए के लिए भेजेंगे और मेहनान टीम के सामने पहाड़ जैसा लक्ष्य रखेंगे या Follow on के चलते अफ्रीका को एक बार फिर से बल्लेबाजी करने के आमंत्रित करेंगे और जल्दी से आउट कर टेस्ट सीरीज को अपने नाम कर 2-0 से बढ़त हासिल करेंगे।

जम्मू कश्मीर के श्रीनगर के हरि सिंह पर रोड पर हुआ ग्रेनेड से हमला। कड़ी सुरक्षा के बावजूद हरि सिंह हाइट स्ट्रीट के पास आतंकियों ने खतरनाक ग्रेनेड फेंका है। ग्रेनेड हमले में कई गाड़ियों के शीशें टूट गए। इस हमले में 7 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। इस हमले को अंजाम तब दिया गया जब घाटी में सुरक्षा को लेकर लगातार व्यवस्था के इंतजाम बहुत ही सख्त हैं और हर जगह जवानों की तैनाती की गई है।

श्रीनगर के हाई सिक्योरिटी जोन में इस हमले को अंजाम दिया गया है। वहीं हमले के बाद से ही स्थानीय पुलिस ने इसकी जांच शुरु कर दी है। ग्रेनेड हमले से करीब 5 से 7 लोग घायल हो गए है।

आपको बता दें कि जम्मू-कश्मीर में लगातार आतंकी हमले को लेकर खबर आ रही है और इससे पहले भी श्रीनगर में डीजी ऑफिस के पास में एक और आतंकी हमले को अंजाम दिया गया था, जिसमें 4 से 5 लोग घायल हो गए थे।

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव की सरगर्मियों के बीच शनिवार को शिवसेना ने अपना घोषणा पत्र जारी कर दिया। इस घोषणा पत्र में शिवसेना का मेन फोकस किसानों पर रहा है। जिसमें उन्होंने किसानों की कर्जमाफी, गरीब किसानों को 10 हजार रुपये की आर्थिक सहायता जैसे कई वादे जनता से किए हैं।

साथ ही शिवसेना ने ये भी वादा किया कि 10 रुपए में भोजन दिया जाएगा और  इसके लिए राज्य भर में जाएंगे 1000 भोजनालय बनाए जाएंगे। इसके अलावा शिवसेना ने अपने घोषणा पत्र में ग्रामीण राज्य के छात्रों के लिए उन्होंने विशेष ध्यान दिया है। इसके लिए उन्होंने छात्रों के लिए मुफ्त बस सुविधा देने की बात कही है।

इसके साथ ही 15 लाख ग्रेजुएट 'युवा सरकार फेलोशिप' दी जाएगी. भूमिपुत्रों को नौकरी मंए 80 फीसदी आरक्षण दिया जाएगा और  इस कानून का सख्ती से किया पालन जाएगा। नॉन रेजिडेंट एरिया में शुरू की जाएगी नाईट लाइफ।

कुछ समय पहले दिल्ली सरकार ने ऑड-ईवन (Odd Even) स्कीम को एक बार फिर से लागू करने की अधिकारिक घोषणा की थी, जिसके बाद इसका परिणाम यह निकला की सरकार ने एक बार फिर से ऑड-ईवन स्कीम को लागू करने का निर्णय लिया और इसको लागू करने के लिए नंवबर के महिने को चुना। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में इस बात की जानकारी दी और यह भी बताया कि महिलाओं की सुरक्षा को देखते हुए उन्हें ऑड-ईवन स्कीम के दायरे से बहार रखा जाएगा।

बता दें कि प्रदूषण से निपटने के लिए दिल्ली सरकार 4 नवंबर से 15 नवंबर तक ऑड-ईवन स्कीम एक बार फिर से लागू करने जा रही है। पिछली बार लागू हुई यह स्कीम जिसमें प्राइवेट CNG गाड़ियों को इसके प्रतिबंधों के दायरे से बाहर रखा गया था, जिसमें उन्हें सरकार की तरफ से अपने वाहन को बिना किसी रोक टोक के चलाने की अनुमति दी गई थी, लेकिन इस बार दिल्ली सरकार ने CNG गाड़ियों के चालकों को बड़ा झटका दिया है, जिसमें उनको भी इस स्कीम का पालन करने के लिए आदेश दिए गए है।

बता दें कि ऑड-ईवन स्कीम के तहत महिलाएं और 12 साल की उम्र से नीचे के बच्चे के साथ रहने वाली महिलाओं को छूट दी जाएगी। सरकार द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक ऑड-ईवन स्कीम सुबह 8 बजे से रात 8 बजे तक लागू होगी और वहीं इससे होने वाली परेशानियों के लिए जनता के लिए सरकार 2,000 प्राइवेट बसों की भी सेवाएं देगी।

जम्मू-कश्मीर के मुख्य सचीव रोहित कंसल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर जानकारी दी है कि राज्य में पोस्टपेड मोबाइल फोन सेवाएं सोमवार से बहाल कर दी जाएंगी और साथ ही साथ आने जाने पर भी पूरी तरह से पाबंदी हटा ली गई हैं। सोमवार दोपहर 12 बजे से मोबाइल सेवाओं पर लगी पाबंदी को हटा लिया जाएगा।

इस बात की जानकारी देते हुए रोहित कंसल ने कहा है कि जम्मू-कश्मीर में हालात ठीक हो रहे हैं, और इसी को ध्यान में रखते हुए प्रशासन ने पोस्टपेड मोबाइल सेवाएं बहाल करने का फैसला लिया है। कंसल ने आगे कहा कि हिरासत में बंद नेताओं को एक प्रक्रिया के तहत रिहा किया जा रहा हैं।

बता दें कि केंद्र सरकार ने 5 अगस्त को जम्मू-कश्मीर को मिले विशेष राज्य का दर्जे को खत्म दिया था। केंद्र सरकार ने इस पर कहा था कि इस फैसले से राज्य की जनता की स्थिति और बेहतर होगी साथ ही केंद्र सरकार की योजनाओं का सीधा लाभ मिल सकेगा।

इस फैसले की गंभीरता को देखते हुए सरकार ने साथ ही कई अहम अन्य कदम भी उठाए थे, जिसमें भारी संख्या में सुरक्षाबलों की तैनाती की गई, मोबाइल फोन और इंटरनेट सेवाओं पर पूरी तरह से रोक लगा दी गई थी और राज्य के नेताओं को नजरबंद कर दिया गया था।

ये सभी कदम उठाने के पीछे सरकार ने कारण बताते हुए कहा था कि ऐसे हालातों में नेताओं की बयानबाजी से स्थिति और भी बिगड़ सकती है, साथ ही साथ फोन सेवाओं और इंटरनेट सेवाओं का आतंकवादी गलत इस्तेमाल कर सकते हैं, जिससे ये कदम उठाने जरुरी है। सुरक्षा के चलते राज्य में स्कूल और कॉलेजों को भी बंद कर दिया गया था।

साउदी अरब के तेल ठिकानों पर लगातार हो रहे हमलों के पीछे अमेरिका द्वारा ईरान को ही दोषी ठहराया जाता रहा है। इसी कड़ी में अमेरिका के रक्षा मंत्री मार्क एस्पर (Mark Esper) ने बताया था कि सऊदी अरब ने हमसे इन हमलों को रोकने के लिए अंतरराष्ट्रीय सहायता मांगी हैं, जिसके बाद अमेरिकी रक्षा मंत्री ने इस पर जवाब देते हुए कहा था कि हमें साउदी अरब को सैन्य सहायता देने के लिए राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से मंजूरी मिल गई है। इसके बाद अमेरिका ने सैन्य सहायता की प्रक्रिया को पूरा किया था।

हांलाकि एक बार फिर से अमेरिकी रक्षा मंत्री मार्क एस्पर  ने सऊदी अरब  में अतिरिक्त सैन्य बलों की तैनाती को लेकर मंजूरी दे दी है, जिससे देश की रक्षा को बढ़ाया जा सके। रिपोर्ट के मुताबिक पेंटागन (Pentagon) ने शुक्रवार को एक बयान में कहा कि नएरक्षा सुदृढ़ीकरण में दो फाइटर स्क्वाड्रन, एक एयर एक्सपीडिशनरी विंग (एईडब्ल्यू), दो पैट्रियॉट बैटरी और एक टर्मिनल हाई आल्टीट्यूड एरिया डिफेंस सिस्टम (टीएचएएडी) शामिल हैं।

आपको बता दें कि अमेरिका और ईरान लंबे समय से चल रहे तनाव में हाल ही के दिनों में बढ़ोतरी देखने को मिली है, जो क्षेत्र को सैन्य संघर्षों की ओर धकेल रहा है। वॉशिंगटन ने पिछले महीने पूर्वी सऊदी अरब में तेल के कई ठिकानों पर हुए ड्रोन हमलों के लिए तेहरान को जिम्मेदार ठहराया, इसी का जवाब देते तेहरान ने इस आरोप को सिरे से नकार दिया।

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच खेले जा रहे 3 टेस्ट मैचों की सीरीज का दूसरा टेस्ट मैच पूणे के MCA स्टेडियम में खेला जा रहा है। टेस्ट के दूसरे दिन के खेल में 5 विकेट के नुकसान पर भारत ने 601 रनों पर अपनी पारी को घोषित कर दिया था, जिसके बाद खेलने आई द.अफ्रीका की टीम ने दिन का खेल खत्म होने तक 36 रन बनाकर अपने 3 विकेट गंवा दिए थे।

दूसरे दिन के खेल खत्म होने के बाद तीसरे दिन खेल को आगे बढ़ाने उतरी द.अफ्रीका की टीम ने पहले सत्र में लंच से पहले 6 विकेट के नुकसान पर 136 बनाए। फाफ डू प्लेसी (52) और सेनूरन मुत्तुस्वामी (6) रन बनाकर क्रीज पर मौजूद है। तीसरे दिन खेल को आगे बढ़ाने उतरी द.अफ्रीका की टीम ने चौथा विकेट 41 के स्कोर पर अनरिच नार्टि के रुप में खोया, जिन्होंने मात्र 3 रन बनाए और मोहम्मद शमी का शिकार बने। इसके बाद द.अफीका का 5वां विकेट थ्युनिस डि ब्रुइन के रुप में 53 के स्कोर पर गिरा, जिन्होंने 30 रन बनाए और उमेश यादव के तीसरे शिकार बने।

पांच विकेट खोने के बाद क्रीज पर मौजूद द.अफ्रीका के कप्तान फाफ डू प्लेसी और विकेटकीपर क्वींटन डी कॉक के बीच छटे विकेट के लिए 75 रन की साझदारी हुई, तभी रविचंद्रन अश्विन ने डी कॉक को अपने जाल में फंसाया और 31 रन के निजी स्कोर पर क्लीन बोल्ड कर दिया, जिसके चलते अफ्रीका को 128 रन पर छटा झटका लगा।

बिहार की राजधानी पटना में डेंगू की चपेट में लोग बुरी तरह फंसे हुए है। रिपोर्ट के अनुसार पटना में मरीजों की संख्या करीब 1217 पहुंच गई है। Patna Medical College and Hospital और पटना के कई अन्य बड़े निजी हॉस्पिटलों के आंकड़ो ने स्वास्थ्य विभाग की परेशानी को और भी ज्यादा बढ़ा दिया है। लगातार डायरिया की बीमारी से झूंझ रहे मरीजों की संख्या में भी भारी बढोतरी हुई है और वहीं गुरुवार को डायरिया की बीमारी की चपेट में चल रहे करीब 70 से ज्यादा लोग PMCH के OPD में इलाज के लिए पहुंचे थे।

पटना के साथ-साथ बिहार के हर जिले में डेंगू के चलते लोग परेशान हैं। बिहार में करीब 1217 लोग डेंगू की बीमारी से झूंझ रहे है, जिसमें अकेले पटना के करीब 815 लोग है। इस समस्या से राहत देने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने डेंगू को दूर करने के लिए कई तरह की योजना चलाई जा रही हैं और जगह-जगह कैंप लगा रही हैं, जिसमें मरीजों को बीमारी के अनुसार दवाईयां दी जा रही है।

डेंगू से निजात पाने के लिए करीब 80 हजार से ज्यादा घरों को क्लोरीन (Chlorine) की टेबलेट और ब्लीचिंग पाउडर (Bleaching Powder) पहुंचाने की ज्यादा से ज्यादा कोशिश की जी रही है, जिसको लेकर कई जगहों पर दवाईओं को लेकर सेंटर लगाए जा रहे हैं।

भारतीय टीम के कप्तान और “द रन मशीन” विराट कोहली ने शानदार फॉर्म दिखाते हुए दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मैच में दोहरा शतक जड़ मैच को अपने नाम कर लिया है। यह विराट कोहली का सातवां दोहरा शतक है, जो भारतीय टेस्ट टीम में अपने आप में ही एक रिकॉर्ड है। दोहरा शतक जड़ने के साथ ही कोहली पहले भारतीय खिलाड़ी हैं, जिन्होंने सात दोहरे शतक लगाए हैं, और विश्व में मात्र तीन ही ऐसे खिलाड़ी ही जिनसे विराट कोहली अब पीछे है।

आपको बता दें कि विराट कोहली के लिए साल 2019 टेस्ट क्रिकेट के लिहाज से ज्यादा अच्छा नहीं जा रहा था। कोहली इससे पहले 2019 में चार टेस्ट मैच खेल चुके थे, लेकिन एक भी मैच में शतक नहीं जड़ पाए थे। यह 2019 में कोहली का पहला टेस्ट शतक भी है। विराट ने पिछला शतक पिछले साल दिसंबर में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ लगाया था और वहीं पिछला दोहरा शतक 2017 में श्रीलंका के खिालाफ दिल्ली में लगाया था, जिसमें उन्होंने 243 रनों की पारी खेली थी।

विश्व क्रिकेट में विराट कोहली मात्र छठे ऐसे खिलाड़ी हैं, जिनके नाम अब टेस्ट क्रिकेट में सात या इससे अधिक दोहरे शतक है। सबसे अधिक दोहरे शतक लगाने का रिकॉर्ड ऑस्ट्रेलिया के डॉन ब्रैडमैन (12 दोहरे शतक) के नाम है, दूसरे नंबर पर इस सूची में श्रीलंका के कुमार संगकारा आते है जिन्होंने टेस्ट करियर में 11 दोहरे शतक लगाए थे और तीसरे खिलाड़ी वेस्टइंडीज के ब्रायन लारा है, जिनके नाम 9 दोहरें शतक है।

भारत और द.अफ्रीका के बीच खेले जा रहे दूसर टेस्ट के पहले दिन पहले दिन गुरुवार को भारत ने तीन विकेट के नुकसान पर 273 रन बनाए थे। दिन का खेल खत्म होने के समय विराट कोहली 63 रन पर नाबाद थे। वहीं दूसरे दिन खेल को आगे बढ़ाते हुए लंच से पहले शतक जड़ा और आक्रमकता दिखाते हुए 200 रन का आंकड़ा भी पार किया और पारी घोषित करने से पहले शानदार 254 रन बनाकर अपने टेस्ट करियर का सर्वोच्च स्कोर प्राप्त किया।

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच खेले जा रहे 3 टेस्ट मैचों की सीरीज का दूसरा टेस्ट मैच पूणे के MCA स्टेडियम में खेला जा रहा है। पहले दिन के (273-3) खेल को दूसरे दिन आगे बढ़ाने उतरी टीम इंडिया ने दूसरे दिन के पहले सत्र में लंच तक 3 विकेट विकेट के नुकसान पर 356 रन बना लिए हैं और वहीं विराट कोहली (104 रन) और अजिंक्य रहाणे (58 रन) क्रीज पर मौजूद हैं।

198 के स्कोर पर भारतीय टीम को तीसरा झटका मयंक अग्रवाल के रुप में लगा जिन्होंने 108 रन बनाए। इसके बाद खेलने आए अजिंक्य रहाणे जिन्होंने कोहली के साथ मिल कर 158 रनों की साझेदारी कर ली है। कप्तान कोहली अपने टेस्ट करियर का 26वां शतक लगा लिया है। 

इससे पहले भारत के लिए पहली पारी में सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल ने 195 गेंद में 108 रन बनाए। पुजारा ने 112 गेंदों पर नौ चौकों की मदद से 58 रन बनाए। अग्रवाल और पुजारा के बीच दूसरे विकेट के लिए 138 रन की साझेदारी हुई। दक्षिण अफ्रीका की ओर से केवल तेज गेंदबाज कगिसो रबाडा को सफलता मिली उन्होंने भारतीय टीम के तीन विकेट लिए।

क्रीज पर कोहली और रहाणे अभी भी मौजूद है और भारत को एक बड़े स्कोर की तरफ ले जा रहे है।

चुनावों को लेकर पहले खबर आ रही थी कि देश की राजधानी दिल्ली और झारखंड में विधानसभा के चुनाव एक साथ होंगे। हालांकि अब मिल रही जानकारी के मुताबिक दिल्ली विधानसभा चुनाव और झारखंड विधानसभा चुनाव एक साथ नहीं होंगे। सूत्रों से मिल रही खबरों की मानें तो दिल्‍ली में विधानसभा चुनावों की तारीख की घोषणा अगले साल जनवरी के महिने में होगी, जबकि मतदान फरवरी में होगा।

2015 हुए दिल्ली विधानसभा के चुनावों में अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली आम आदमी पार्टी ने बड़े बहुमत से जीत हासिल की थी, जिसमें AAP पार्टी दिल्ली की 70 विधानसभा सीटों में से 67 सीटों पर जीत हासिल करने में कामयाब हुई थी और वहीं भाजपा केवल तीन विधानसभा सीटें जीतने में ही कामयाब हो पाई थी।

आपको बता दें कि दिल्ली विधानसभा का कार्यकाल फरवरी 2020 में पूरा हो रहा है और खबरों की माने तो चुनाव आयोग इस साल के अंत में दिल्ली के चुनाव को लेकर घोषणा कर सकता है।

2020 में दिल्ली में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर AAP पार्टी और BJP पार्टी के बीच मुकाबला देखने को मिल सकता है।

छह बार की चैंपियन एमसी मेरी कॉम (MC Mary Kom) ने गुरुवार को वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप के सेमीफाइनल में पहुंचकर अपना 8वां पदक पक्का कर इतिहास रच दिया है। मेरी कॉम ने क्वॉर्टर फाइनल में रियो ओलिंपिक की ब्रॉन्ज मेडलिस्ट कोलंबिया की इनग्रिट वैलेंसिया (Ingrit Valencia) को 5-0 से शिकस्त दी। मेरी कॉम 51 किग्रा वर्ग में पहला विश्व पदक जीतने के लिए खेल रही हैं। इसके साथ ही वे विश्व की एकमात्र ऐसी बॉक्सर बन जाएंगी, जिसने विश्व चैंपियनशिप में 8 मेडल जीते है।

48 किलोग्राम वर्ग में छह बार विश्व चैम्पियन रह चुकीं मैरी का यह 51 किलोग्राम भार वर्ग में वर्ल्ड चैंपियनशिप में पहला पदक होगा। बता दें कि इसी वर्ग में 2014 में एशियाई खेलों में गोल्ड और 2018 एशियाई खेलों में कांस्य पदक भी जीत चुकी हैं। साथ ही साथ इसी वर्ग में मैरी ने London Olympics 2012 में कांस्य पदक जीता था।

क्वार्टर फाइनल के मुकाबले में अच्छी शुरुआत करते हुए मैरीकॉम ने इनग्रिट वैलेंसिया दूरी बनाए रखी और दाएं जैब का इस्तेमाल किया, साथ ही साथ हाथों का इस्तेमाल करते हुए दाएं हाथ से हुक भी लगा रही थीं। बीच-बीच में वैलेंसिया को चकमा देकर बाएं जैब से सटीक पंच लगाने में भी सफल रहीं। कोलंबिया की इंगोट वालेंसिया इस रणनीति को समझ रही थी और इसलिए समझ के साथ खेल रही थी। आखिरी में दोनों ही खिलाड़ी एक दूसरे को लेकर आक्रामक हो गईं।

दूसरे दौर में दोनों मुक्केबाजों ने अच्छा किया, लेकिन मैरी ने और भी ज्यादा अच्छा खेल दिखाते हुए अपनी विपक्षी से थोड़ा आगे रहीं। तीसरे दौर में भी मैरी ने अपने प्रदर्शन को जारी रखते हुए यही किया और जीत अपने नाम की।

प्याज के बाद अब टमाटर के दामों में भी लगातार बढोतरी हो रही है। प्याज के बढ़ते दामों से राहत पाने के बाद टमाटर ने भी अब महंगाई की गाड़ी पकड़ ली है। राजधानी दिल्ली के बाजारों में टमाटर 60 से 80 रुपये किलो के भाव से बिक रहा है। मंडी में सब्जी बेचनेवालों का कहना है कि कई राज्यों में भारी बारिश के कारण टमाटर की फसल खराब हो गई है,  जिसके चलते टमाटर की पूर्ति नहीं हो पा रही है। यही कारण है कि टमाटर की कीमतों में लगातार इतनी तेजी आ रही है।

भारत के कई पहाड़ी इलाकों में कुछ दिनों से लगातार बारिश हो रही है, जिसके चलते टमाटर की फसल को भारी नुकसान पहुंच रहा है। ज्यादा मांग के चलते टमाटर की पूर्ति नहीं हो पा रही है। टमाटर के रेट बढ़ने के साथ-साथ लोगों को एक बार फिर से समस्या का सामना करना पड़ रहा है। टमाटर और प्याज को खरीदने के लिए लोगों की भीड़ लगी हुई ही है। आम जनता को राहत देने के लिए कई इलाकों में दिल्ली सरकार की ओर से योजनाएं चलाई जा रही है जिसमें कम दामों में प्याज मिल रही है।

इस पर लोगों का कहना है कि टमाटर और प्याज के दामों में लगातार बढोतरी से परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है, और जब तक इसकी कीमतों में गिरावट नहीं आती हम इन्हें कम ही इस्तेमाल करेंगे। कम दानों को लेकर आम जनता का कहना है कि टमाटर और प्याज लेने के लिए हम बहार की मंडियों में जा रहे हैं क्योंकि यहां मार्केट से 10 से 15 रुपये किलो तक टमाटर और प्याज सस्ते रेट पर मिल रहे हैं।

आपको बता दें कि हर साल सितंबर और अक्टूबर के महिनों में आम जनता को प्याज और टमाटर की बढ़ती कीमतों से झूंझना पड़ता है, जिससे इन्हीं महिनों में आने वाले त्योहारों पर अन्य चीजों को लेकर प्रभाव पड़ता है।

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच खेले जा रहे 3 टेस्ट मैचों की सीरीज का दूसरा टेस्ट मैच पूणे के के MCA स्टेडियम में खेला जा रहा है। भारतीय कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का निर्णय लिया। भारतीय टीम ने प्लेइंग इलेवन में एक बदलाव किया है और दक्षिण अफ्रीका की टीम भी एक बदलाव के साथ मैदान पर उतर रही है।

भारतीय टीम ने दूसरे टेस्ट में हनुमा विहारी की जगह टीम में तेज गेंदबाज उमेश यादव को मौका दिया है और वहीं द.अफ्रीका ने डेन पिट की जगह एनरिक नोर्टजे को प्लेइंग इलेवन में जगह दी है।

पहले बल्लेबाजी करने उतरी टीम इंडिया ने दूसरे टेस्ट के पहले दिन के पहले सत्र में लंच तक 1 विकेट गवा कर 77 रन बना लिए है। भारतीय टीम का पहला विकेट 25 रन पर रोहित शर्मा के रुप में गिरा। क्रीज पर मयंक अग्रवाल (34) और चेतेश्वर पुजारा (19) रन बनाकर मौजूद है। पिछले मैच के हीरो रोहित शर्मा 14 रन बनाकर आउट हो गए। रोहित शर्मा को कैगिसो रबाडा ने विकेट के पीछे क्विंटन डि कॉक के हाथों कैच आउट करा कर पवेलियन वापस भेज दिया।

दूसरे विकेट के लिए मयंक और पुजारा के बीच 52 रनों की साझेदारी कर ली है।

Reliance Jio नेटवर्क यूज करने वाले ग्राहकों को दूसरी कंपनी के नेटवर्क पर कॉल करने पर अब 6 पैसे प्रति मिनट देने होंगे। जियों के ग्राहकों को इसके लिए इंटरकनेक्ट यूसेज चार्ज (IUC) टॉप-अप रिचार्ज करवाना होगा। जियो ने इसकी घोषणा करते हुए यह भी कहा कि ग्राहक जितने का टॉप-अप करवाएंगे उतने रुपयों का फ्री डेटा देकर इस भुगतान को बराबर भी कर दिया जाएगा। कंपनी ने बुधवार को इसकी जानकारी देते हुए कहा कि यह नियम 10 अक्टूबर से लागू हो जाएगा।

IUC की बात करें तो टेलीकॉम कंपनियों को एक-दूसरे को आईयूसी चार्ज का भुगतान करना पड़ता है। यह चार्ज ग्राहकों द्वारा एक-दूसरे नेटवर्क पर कॉल करने की वजह से लगता है। अगर जियो के ग्राहक वोडाफोन पर कॉल करेंगे तो जियो को वोडाफोन को आईयूसी चार्ज के तहत जो भी दर है वह चुकानी पड़ेगी। अन्य कंपनी को भुगतान की दर टेलीकॉम रेग्युलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (TRAI) द्वारा तय किया जाता है।

इसकी जानकारी देते हुए जियो ने कहा है कि पिछले तीन सालों में वे IUC चार्ज के चलते दूसरे नेटवर्क को करीब 13,500 करोड़ रुपए का भुगतान कर चुके है। इसकी वजह जियो पर पिछले तीन सालों में आई अरबों मिस कॉल है जिसके चलते जियो यूजर्स द्वारा वापस कॉल करना है, जिससे हम अपने ग्राहकों के साथ-साथ दूसरे ऑपरेटरों के ग्राहकों को भी बिना खेद के सुविधा दे रहे थे। आगे जियो ने कहा कि हम अब तक इसको लेकर अपने यूजर्स को कोई परेशानी नहीं दे रहे थे, लेकिन अन्य नेटवर्क को देने वाला यह भुगतान और भी बढ़ सकता है जिसके चलते हम ये फैसला लेना पड़ा।

जियो नेटवर्क से अन्य नेटवर्क पर बात करने के लिए आपको अब IUC टॉप-अप रिचार्ज करना होगा और इसकी शुरुआती कीमत 10 रुपये है। हालांकि जियो ने यह भी कहा है कि ये कदम कुछ समय के लिए ही लिया गया है और वहीं IUC के खत्म होते ही कॉलिंग को फिर से फ्री कर दिया जाएगा।

केंद्र सरकार की तरफ से देश के 6 करोड़ किसानों के लिए अच्छी खबर है। कागजों और आधार की समस्याओं से झूंझ रहे किसानों को बड़ी राहत देते हुए केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में बड़ा फैसला लिया गया है। सरकार ने इसी साल में 30 नवंबर तक पीएम किसान सम्मान निधि की अगली किस्त किसानों के खातों में डालने का फैसला किया है।

बुधवार को हुई केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में किसानों को लेकर फैसला लिया गया है जिसमें पीएम किसान सम्मान निधी के तहत हर किसान परिवार के खाते में हर साल 6000 रुपए जमा किए जाने को लेकर सहमति जताई गई है, साथ ही साथ 6000 रुपए में से नवंबर अंत तक 6 करोड़ किसानों के खाते में 2000 रुपए जमा होंगे। प्रधानमंत्री किसान योजना के तहत छह हजार रुपए का लाभ लेने के लिए आधार जोड़ने की समयसीमा 30 नवंबर तक बढ़ा दी गई है।

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधी की अगली किस्त में जो भी देरी हुई है वह कागजों की गड़बड़ी और किसानों बैंक खातों को आधार से नहीं जोड़े जाने की वजह से हुई है, लेकिन अभी परेशान होने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि अगली किस्त को लेकर खाता अगर अभी भी आधार से जुड़ा नहीं होगा तो भी 30 नवंबर तक किसानों के खातों में किस्त आ जाएगी।

आरबीआई (RBI) के बाद देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ने अपने ग्राहकों को दिवाली का बड़ा तोहफा दिया है। 4 अकटूबर को RBI की तरफ से रेपो रेट में कटौती किए जाने के बाद अब स्टेट बैंक ने भी ग्राहकों को बड़ी राहत देते हुए लोन सस्ता कर दिया है।

SBI ने Marginal Cost of funds based Lending Rate (MCLR) की दरें 0.10 फीसदी तक घटा दी हैं और वहीं अब एक वर्ष के लिए नई MCLR दरें 8.15% से घटकर 8.05% कर दी गई है। नई दरें 10 अक्टूबर से लागू हो जाएंगी। इसके चलते अब होम लोन, ऑटो रोजगार के लिए लोन और पर्सनल लोन लेने वालों को सस्ती दरों पर कर्ज मिल जाएगा।

त्योहारों के सीजन को देखते हुए SBI द्वारा सभी ग्राहकों को ज्यादा फायदा पहुंचाने के लिए बैंक ने मौजूदा वित्त वर्ष में लगातार छठी बार दरें घटा कर MCLR दरें 0.10% तक घटाईं दी है।

चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग (Xi Jinping) 11 अक्टूबर को दो दिन के दौरे के लिए भारत आ रहे हैं। दो दिनों की यात्रा के दौरान चिनफिंग चेन्‍नई में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ एक बार फिर से अनौपचारिक शिखर वार्ता के कार्यक्रम में शामिल होंगे। यह शिखर वार्ता चेन्‍नई के शहर मामल्लापुरम में होगी।

विदेश मंत्रालय ने बुधवार को चीन के राष्‍ट्रपति के कार्यक्रम को लेकर जानकारी दी। मंत्रालय ने कहा कि प्रधानमंत्री के आमंत्रण पर शी चिनफिंग अनौपचारिक शिखर वार्ता के लिए 11 -12 अक्टूबर 2019 को भारतीय दौरे पर रहेंगे और चेन्‍नई के शहर मामल्लापुरम में शिखर वार्ता के लिए होने वाले कार्यक्रम में शामिल होंगे।

घोषणा के बाद मंत्रालय ने कहा कि शिखर वार्ता के दौरान भारत-चीन एक दूसरे की विकास साझेदारी को गहरा करने पर बातचीत करेंगे। शिखर वार्ता दोनों नेताओं को द्विपक्षीय, क्षेत्रीय और वैश्विक महत्व के विस्तृत मुद्दों पर बातचीत करने का अवसर प्रदान करेगी।

गौरतलब है कि राष्ट्रपति शी चिनफिंग के भारत दौरे से पहले विदेश मंत्रालय के प्रतिनिधि गेंग शुआंग ने मंगलवार को कश्मीर मुद्दे को लेकर बड़ा बयान दिया है, उन्होंने कहा कि कश्मीर भारत-पाकिस्तान के बीच दो देशों का मुद्दा है और दोनों देशों को आपसी बातचीत से इसको सुलझाने की जरुरत है।

जम्मू-कश्मीर को अंतरराष्ट्रीय मुद्दा बनाने की कोशिशों में पाकिस्तान को एक बार फिर से बड़ा झटका मिला है। यह झटका किसी और देश ने नहीं बल्कि खुद उसी के मित्र देश चीन ने दिया है। कश्मीर मुद्दे को लेकर बीजिंग पहुंचे पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान  को चीन ने जोरदार झटका देते हुए पीठ दिखा दी है।

लगातार कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान का साथ दे रहे चीन ने अपने स्टैंड से यू-टर्न लेते हुए कश्मीर को भारत-पाकिस्तान के बीच दो देशों का मुद्दा माना है। बता दें कि कश्मीर का एजेंडा फैलाने वाले पाकिसतान को हर जगह से आपसी बातचीत की नसीहत दी गई है, ठीक ऐसा चीन ने भी कहा कि दोनों देशों को आपसी बातचीत से इसको सुलझाने की जरुरत है। चीन के विदेश मंत्रालय ने राष्ट्रपति शी जिनपिंग के भारत दौरे से पहले ये बड़ा ही चौंकाने वाला बयान दिया है। 

चीन के विदेश मंत्रालय के प्रतिनिधि गेंग शुआंग ने मंगलवार को कश्मीर मुद्दे को लेकर कहा कि चीन ने भारत और पाकिस्तान से आपसी विश्वास बढ़ाने और संबंधों को सुधारने के लिए कश्मीर सहित सभी विवादों पर बातचीत को मजबूत करने की मांग की है। यह भारत और पाकिस्तान दोनों के साझा हितों के तहत है और देशों और अंतर्राष्ट्रीय समुदाय की अपेक्षा है।

आपको बता दें कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री  चीन के दौरे के लिए मंगलवार को बीजिंग पहुंचे थे। इमरान खान के साथ उनके प्रतिनिधिमंडल के मंत्री भी मौजूद थे। वे यहां चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग और अपने समकक्ष ली क्यांग के साथ क्षेत्रीय और द्विपक्षीय मुद्दों के साथ-साथ कश्मीर मुद्दे को लेकर बातचीत करने पहुंचे है।

गौरतलब है कि अगस्त 2018 में प्रधानमंत्री बनने के बाद इमरान खान की यह तीसरी अधिकारिक चीन यात्रा थी। इससे पहले वे इसी साल अप्रैल में दूसरी बेल्ट एंड रोड फोरम में शामिल होने और चीन के नेतृत्व से सीपीईसी के विस्तार पर चर्चा करने के लिए गए थे। उनकी पहली आधिकारिक चीन यात्रा नवंबर 2018 में हुई थी।

Indian Air Force Day: आज भारतीय वायुसेना का 87वां स्थापना दिवस है। इस मौके पर आज ग़ाज़ियाबाद के हिंडन एयरफ़ोर्स स्टेशन पर भारतीय वायुसेना ने अपनी ताक़त को दिखाया। इस कार्यक्रम में भारतीय वायुसेना के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ कई दूसरे देशों के सैन्य अधिकारी भी शामिल हुए। पाकिस्तान के F-16 विमान को उसी के घर में घुसकर मात देने वाले विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान ने जब अपनी ताकत का प्रर्दशन करते हुए मिग-21 (MiG-21) विमान को उड़ाया किया तो कार्यक्रम में शामिल होने वाले सभी लोगों ने इसका आनंद उठाया साथ ही साथ पूरा एयरबेस तालियों की गड़गड़ाहट से गूंज उठा।

आपको बता दें कि विंग कमांडर अभिनंदन ने पाकिस्तान के F-16 विमान को मात दी थी, जो टेक्नोलॉजी के मामले में MiG विमानों से काफी ज्यादा शक्तिशाली है। इसी बहादुरी के लिए वायुसेना ने कमांडर अभिनंदन को सम्मानित भी किया था। एयरफोर्स डे पर आज अभिनंदन ने 3 मिग-21 विमानों के साथ उड़ान भरी। उनका नेतृत्व वीर चक्र से सम्मानित अभिनंदन कर रहे थे। जैसे ही अभिनंदन के फ्लाई पास्ट की घोषणा हुई पूरा एयरबेस तालियों की आवाज से गुंज उठा।

कार्यक्रम को शुरू करने से पहले एयरफोर्स के प्रमुख राकेश भदौरिया ने संबोधित भी किया जिसमें उन्होंने शहीद जवानों को याद किया और साथ ही साथ एयरफोर्स द्वारा हासिल की गईं विभिन्न उपलब्धियों से भी अवगत कराया।

इस कार्यक्रम में मिग विमान के अलावा तेजस, सारंग हेलिकॉप्टर, सुखोई और ग्लोबमास्टर जैसे घातक विमानों ने हवा में कई तरह के करतब कर लोगों का  मनोरंजन किया। इस खास मौके का लुप्त उठाने के लिए यहां दर्शकों के बैठने का इंतजाम भी किया गया। एयर शो में टीम सारंग ने आसमान पर दिल की आकृति बनाकर आए दर्शकों का दिल जीता।

दशहरा के अवसर पर लोगों ने पिछले साल अमृतसर में दशहरा पर हुई घटना की उस भयानक शाम को याद किया है जिसमें रावण के साथ-साथ 60 लोग बली चढ़ गए थे। बता दें कि ठीक एक साल पहले दशहरे के ही दिन पंजाब के अमृतसर में एक भयानक ट्रेन दुर्घटना हुई थी जिसने देखते ही देखते 60 लोगों की जान को अपनी चपेट में ले लिया था और करीब 100 से ज्यादा लोगों को घायल कर दिया था। उस शाम रावण जल रहा था और इसकी खुशी मनाने के लिए आए लोग जिनमें बच्चे, बूढ़े और जवान शामिल थे। अचानक, वो घटना हुई जिसका किसी ने सोचा भी नहीं था।

अमृतसर जौड़ा फाटक के पास दशहरा का आयोजन हो रहा था, उस शाम रावण जल रहा था और इसके जश्न में डुबे लोग इसका आनंद उठा रहे थे। आयोजन देखने आए कई लोग रेलवे ट्रेक पर झूंड बना कर खड़े हुए थे, लेकिन तभी तेज रफ्तार से ट्रेन आ गई और रेलवे ट्रैक पर खड़े 60  लोग एक ही पल में लाश बन गए। पठानकोट से आ रही DMU ट्रेन सभी को रौंदते हुए चली गई।

19 अक्‍टूबर 2018 को जौड़ा फाटक रेल फाटक के पास ट्रैक पर खड़े होकर रावण दहन देख रहे लोगों को तेज रफ़्तार से आ रही ट्रेन रौंदती चली गई थी। मौके पर जश्न मना रहे लोगों के बीच अचानक से चीख-पुकार मच गई। इस दर्दनाक घटना ने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया था।

उस दौरान घटनास्थल पर मौजूद लोगों ने बताया था कि ट्रेन की गति बहुत ज्यादा थी जिससे किसी को कुछ भी पता नहीं चला। लोग पटाखों की आवाज और रावण दहन की रोशनी के बीच ट्रैक पर पड़ी लाशों में अपनों को ढूंढ रहे थे। इसके बाद इस पूरी घटना को लेकर जांच-पड़ताल हुई, कई नेताओं के दौरे हुए और लोगों को मिले इतने भयानक दर्द को कम करने के लिए मृतकों और घायलों के परिजनों लिए कई तरह की घोषणाएं हुईं।

एक साल बाद भी इस हादसे की चपेट में आने वाले लोगों के परिवारों का दर्द कम नहीं हुआ है। मंगलवार को एक बार फिर पूरा देश दशहरा उत्सव मनाने की तैयारियों में जुटा है और वहीं पीड़ित परिवारों के लिए यह दिन एक बुरे सपने की तरह है।

भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह 7 अक्टूबर को तीन दिनों की यात्रा के लिए फ्रांस रवाना होंगे, साथ ही साथ राजनाथ सिंह 8 अक्टूबर को विजय दशमी के दिन फ्रांस मे शस्त्र पूजन भी करेंगे। राजनाथ फ्रांस से राफेल लड़ाकू विमान लाने जा रहे हैं।

बता दें कि 2016 में भारत ने फ्रांस के साथ करीब 58 हजार करोड़ रुपये में 36 लड़ाकू विमान खरीदने के लिए डील साइन की थी, जिसके चलते भारत को पैरिस में 8 अक्टूबर को पहला राफेल विमान मिलेगा। विमान मिलने के बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह उसी दिन राफेल में फ्रांसीसी एयरफोर्स के बेस पर से उड़ान भी भरेंगे। 8 अक्टूबर को भारतीय वायुसेना के स्थापना दिवस पर भारत को पहला राफेल लड़ाकू विमान सौंपा जाएगा।

डील के अनुसार फ्रांस को भारत को 36 लड़ाकू विमान सौंपने है। इसको लेकर होने वाले कार्यक्रम में फ्रांस के सर्वोच्च सैन्य अधिकारियों के साथ-साथ राफेल विमान की कंपनी के वरिष्ट अधिकारी भी मौजूद रहेंगे। ये सभी विमान बड़ी मात्रा में शक्तिशाली हथियार और मिसाइल आसानी से ले जाने में सक्षम होंगे। इसके बाद राजनाथ सिंह सर्वोच्च सैन्य अधिकारियों से दोनों देशों की रक्षा और सुरक्षा को लेकर बात करेंगे।

रविवार को विशाखापट्टनम टेस्ट के पांचवें दिन विराट एंड कंपनी ने साउथ अफ्रीका को 203 रनों से हरा दिया है। 395 रनों के बड़े लक्ष्य का पीछा करते हुए अफ्रीकी टीम लंच के बाद 191 रनों पर ऑल आउट हो गई। इस जीत के साथ ही भारत ने 3 टेस्ट मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली है। सीरीज का दूसरा टेस्ट मैच 10 अक्टूबर को पुणे में से खेला जाएगा।

सीरीज के पहले में मैच में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए भारतीय टीम ने 7 विकेट खो कर 502 रन बनाए और अपनी पहली पारी घोषित कर दी और वहीं जवाब में दक्षिण अफ्रीका अपनी पहली पारी में 431 रनों पर ऑल आउट हो गई जिसके बाद पहली पारी के आधार पर भारत को 71 रनों की बढ़त मिली। दूसरी पारी में भारत ने 4 विकेट पर 323 रन बनाकर पारी घोषित की और दक्षिण अफ्रीका के सामने 395 रनों का विशाल लक्ष्य रखा। बड़े लक्ष्य का पीछा करने उतरी दक्षिण अफ्रीका 191 रनों पर ढेर हो गई और भारत ने यह मुकाबल 203 रनों से जीत लिया।

टेस्ट के चौथे दिन के स्कोर 11/1 को आगे बढ़ाने के लिए पांचवे दिन खेलने उतरी दक्षिण अफ्रीका को दूसरा झटका 19 के स्कोर थ्यूनिस डी ब्रुइन के रूप में लगा जो 10 रन बनाकर अश्विन के शिकार बने। इसके बाद टेम्बा बवुमा बिना खाता खोले शमी की गेंद पर आउट हुए। उसके बाद एडेन मार्कराम ने कप्तान फाफ डू प्लेसी के साथ मिलकर टीम को 50 के पार पहुंचाया, लेकिन ममोहम्म्द शमी ने 52 के स्कोर पर डू प्लेसी और 60 के स्कोर पर क्विंटन डी कॉक के बिना खाता खोले आउट कर दक्षिण अफ्रीका को बड़े झटके दिए।

अफ्रीका ने 60 के स्कोर पर 5 विकेट गवाएं दिए उसके बाद 27वें ओवर में रविंद्र जडेजा घातक गेंदबाजी दिखाते हुए एक ही ओवर में तीन विकेट लेकर मेहमान टीम की बची हुई उम्मीदों को भी पूरू तरह से खत्म कर दिया। जडेजा ने 70 के स्कोर पर मार्कराम 39 और वर्नन फिलैंडर-केशव महाराज को बिना खाता खोले वापस पवेलियन भेज दिया। इसके बाद डेन पीट और सेनुरन मुथुसामी ने लंच तक टीम के स्कोर को आगे बढ़ाया और कोई झटका नहीं लगने दिया और पहले सत्र के बाद दक्षिण अफ्रीका का स्कोर 42 ओवर में 117/8 था।

लंच के बाद दूसरे सत्र में डेन पीट और मुथुसामी की साझेदारी आगे बढ़ती रही और नौवें विकेट के लिए इन दोनों ही खिलाड़ियो ने 81 रन जोड़े। अर्धशतक लगाने के बाद डेन पीट ने लगाया 56 के स्कोर मोहम्मद शमी का शिकार बने। इसके बाद जीत से एक कदम दूर भारतीय टीम को आखिरी विकेट शमी ने दिलाया और कगिसो रबाडा 18 के स्कोर पर आउट कर द.अफ्रीका को 191 के स्कोर पर ऑल आउट कर भारतीय टीम को जीत के साथ सीरीज में 1-0 से बढ़त भी दिलाई दी। सेनुरन मुथसामी 49 रन बनाकर नाबाद रहे। शमी के अलावा भारत की तरफ से रविंद्र जडेजा ने चार और अश्विन ने एक विकेट लिया।

दोनों पारियों में शतक जड़ने वाले जीत के हीरो रोहित शर्मा को मैन ऑफ द मैच चुना गया।

लगातार चौथे दिन भी पेट्रोल और डीजल के कीमतों में गिरावट देखने को मिली। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में रविवार को एक बार फिर से पेट्रोल और डीजल के दामों में कमी आई है। कुछ दिनों पहले तक लगातार तेल के रेटों में बढ़ोतरी हो रही थी वहीं पिछले 4 दिनों में पेट्रोल और डीजल के दामों में गिरावट के चलते करीब दो सप्ताह बाद पेट्रोल 74 रुपये लीटर और डीजल 67.10 रुपये लीटर से कम दाम पर मिलने लगा है।

तेल के दामों में चौथे दिन आई कमी के बाद अब दिल्ली में पेट्रोल का दाम 73.89 रुपये और डीजल का 67.03 रुपये लीटर हो गया है। तेल कंपनियों ने देश के चार प्रमुख महानगरों में पेट्रोल और डीजल के दाम में रविवार को 12 से लेकर 16 पैसे लीटर की कटौती की है। पिछले चार दिनों में तेल के रेटों में कटौती के बाद दिल्ली में पेट्रोल 72 पैसे लीटर सस्ता हो गया है और डीजल के भाव में भी 47 पैसे प्रति लीटर की गिरावट आई है।

दिल्ली में पेट्रोल 73.89 रुपये, कोलकता में 76.53 रुपये, चेन्नई में 76.74 रुपये और वहीं मुंबई में 79.50 रुपये प्रति लीटर से मिल रहा है। चारों महानगरों में डीजल के दाम भी घटकर 67.03 रुपये, 69.39 रुपये, 71.81 रुपये और 70.27 रुपये प्रति लीटर से मिल रहा है।

इन चार दिनों में लगातार पेट्रोल और डीजल के दामों में गिरावट आई है और वहीं तेल बाजार की माने तो तेल के दामों में अभी और भी गिरावट आ सकती है।

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में बड़ा रेल हादसा टला, जब लखनऊ-आनंद विहार डबल डेकर ट्रेन के 2 डिब्बे पटरी से उतर गए। राहत की बात यह हे कि इस हादसे में किसी भी यात्री के हताहत होने की खबर नहीं है, लेकिन इस घटना के बाद ट्रेन में बैठे यात्रियों में हड़कंप मच गया, जिसके बाद सभी यात्रियों को ट्रेन से सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है और साथ ही साथ मुरादाबाद रेल मंडल और बचाव दल सहित स्थानीय पुलिस को भी घटना के बारे में जानकारी दी गई।

जानकारी के मुताबिक लखनऊ से दिल्ली के आनंद विहार टर्मिनल को जाने वाली डबल डेकर ट्रेन मुरादाबाद से गुजर रही थी और इसी दौरान ट्रेन के दो डब्बों के पहिए पटरी से उतर गए, बताया जा रहा है कि आपातकालीन ब्रेक लगाने से बड़ा हादसा टल गया।

आपको बता दें यह पहली बार नहीं है जब रेल की घटना सामने आई है, अभी बीते शनिवार को भी मुरादाबाद रेल मंडल के धनेटा में से गुजर रही एक मिलिट्री स्पेशल ट्रेन का एक डिब्बा पटरी से उतर गया था, जिसकी जानकारी मिलने पर रेल प्रशासन में हड़कंप मच गया था। घटना के बाद ही ट्रेनों का संचालन को बंद करा दिया गया था। ऐसे में पिछने 24 घंटों में यह ट्रेन के पटरी से उतरने की दूसरी घटना सामने आ रही है।

ट्रेन के पटरी से उतरने के बाद संचालन कई घंटे तक बंद रहा। रेल प्रशासन के घंटों प्रयासो के बाद संचालन फिर से शुरु किया गया, साथ ही साथ प्रबंधन ने इस पूरी घटना की जांच के लिए आदेश भी दिए है।

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की सरकार में विदेश मंत्री रहे ख्वाजा मोहम्मद आसिफ ने प्रधानमंत्री इमरान खान सरकार को झूठी सरकार बताया है। इतना ही नहीं उन्होंने इमरान खान सरकार को लकर कई बड़ी बाते कही और साथ ही साथ नाराजगी जताते हुए यह भी कहा कि इनको अपनी गलती पर बिल्कुल पछतावा नहीं होता।

ख्वाजा ने कहा कि पिछले करीब एख साल में पाक प्रधानमंत्री ने बहुत सारे बेतुके ट्वीट किए हैं। आगे यह भी कहा कि पीएम ने कई झूठे ट्वीट किए हैं और जब इसको लेकर उनसे पूछा जाता तो वो इस बात से मुकर जाते है।

कश्मीर मुद्दे को लेकर जब उनसे पूछा गया कि इमरान खान और विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा था कि हमें करीब 58 देशों के समर्थन मिला हुआ है, तो पाकिस्तान 16 सदस्य देशों को इकट्ठा नहीं क्यों नहीं कर सका? जब प्रस्ताव पेश करने की बारी आई तो पीछे हट गए। इस पर पूर्व विदेश मंत्री आसिफ ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद् में इमरान सरकार के सारी उम्मीदें पूरी तरह से पानी फिर गया जिसके चलते हमारी कूटनीतिक अलगाव विश्व के सामने आ गया है और दुनिया में अब हमारे साथ कोई नहीं खड़ा है।

ख्वाजा मोहम्मद आसिफ से इमरान खान की सरकार को लेकर जब पूछा गया तो उन्होंने इसके जवाब में कहा कि नौकरी करते हुए ट्रेनिंग नहीं की जा सकती, ट्रेनिंग पहले होनी चाहिए थी।  उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री इमरान ने अपनी पार्टी से इतर लोगों को भी सरकार में जगह दी है, लेकिन काम फिर भी नहीं चल रहा है, जो भी इन्होंने कदम उठाए हैं, वो सभी बुरी तरह फेल हुए हैं।

आपको बता दें कि इमरान खान के सभी तरीके फेल होने के बाद पाकिस्तान में एक बार फिर से सैनिक शासन की तैयारी हो चुकी है।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को राम मंदिर निर्माण को लेकर कार्य का आरंभ करने को लेकर बड़ा संकेत दिया है। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि राम मंदिर को लेकर लोगों को बड़ी जल्दी अच्छी खबर मिलने वाली है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ब्रह्मलीन महंत अवेद्यनाथ जी महाराज की मूर्ति में गोरखपुर के चंपादेवी पार्क, तारामंडल में आयोजित मोरारी बापू द्वारा राम कथा की शुरुआत की।

योगी आदित्यनाथ ने मोरारी बापू द्वारा राम कथा का आरंभ करने के बाद कहा कि यह गोरखपुरवासियों के लोगों के लिए एक बड़ी बात है कि शारदीय नवरात्रि के पावन पर्व पर शिवस्वरूप भगवान गोरक्षनाथ जी की पावन धरती पर मोरारी बापू का आगमन हुआ है। साथ ही साथ मुख्यमंत्री ने कहा कि भगवान राम तो हम सब की रग-रग में बसे हैं और भगवान राम के हम सभी भक्त हैं और भक्ति में ही शक्ति है। भगवान राम को लेकर लोगों के मन में हमेशा से ही भक्ति रही है, इसलिए हर बार इनकी बड़ी धूमधाम से पूजा की जाती है।

सीएम योगी ने राम मंदिर निर्माण कार्य का नाम लिए बिना संकेत दिया कि बहुत जल्द बड़ी खुशखबरी मिलने वाली है। इस मौके पर मोरारी बापू ने नाथ परंपरा के सभी संतों को याद करते हुए कहा कि आज मैं परम पूज्य योगी जी महाराज का आशीर्वाद लेकर श्रीराम कथा आरंभ कर रहा हूँ। उन्होंने कहा मुझे बहुत खुशी है कि योगी के शासनकाल में मुझे भगवान गोरक्षनाथ की धरती पर कई सालों बाद श्रीराम की कथा कहने का मौका मिला।

भारतीय टीम के स्टार ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या की लंदन में पीठ की सर्जरी कामयाब रही। इसकी जानकारी देते हुए पांड्या ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर एक फोटो शेयर किया और इसके साथ यह भी लिखा कि सर्जरी कामयाब रही। आप सभी की दुआओं के लिए धन्यवाद। मैं जल्द ही वापसी भी करूंगा। तब तक मुझे मिस करते रहिए।

पांड्या को करीब एक साल से पीठ के निचले हिस्से में दर्द की समस्या थी।, जिसके चलते वो भारतीय टीम में लगातार अंदर और बहार हो रहे थे। हालांकि पांड्या ने इसके बाद भी विश्व कप खेला, जिसके बाद यह चोट काफी बढ़ गई थी। इसके बाद से ही वो टीम से बाहर चल रहे हैं। पिछले साल के शुरुआत में हार्दिक को लोअर बैक की इंजरी हुई थी। सलाह लेने के बाद वो इसकी जांच कराने के लिए लंदन गए थे। ठीक होने के बाद उन्होंने टीम इंडिया में वापसी की। विश्व कप में यह चौट काफी बढ़ गई जिसके बाद उन्हें एक बार फिर से लंदन मजा कर  चेकअप करवाया। पांड्या की इंजरी को लेकर डॉक्टरों ने सर्जरी की सलाह दी। बुधवार को वो लंदन पहुंचे और वहां सर्जरी कराई।

हार्दिक को सर्जरी के बाद वापसी में कुछ समय लग सकता हैं। इस दौरान वो नेशनल क्रिकेट एकेडमी (NCA) भी जाएंगे। आपको बता दें कि चोट की वजह से वो दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज से बाहर हैं और वहीं अब माना जा रहा है कि बांग्लादेश के खिलाफ अगले महीने होने वाली टी20 सीरीज से भी यह पांड्या बहार रहेंगे। माना जा रहा है कि वो अगले साल ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 विश्व कप से पहले पूरी तरह फिट हो जाएंगे।

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने इस बात को पहले से ही साफ कर दिया है कि हार्दिक पांड्या ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 विश्व कप के लिए मुख्य खिलाड़ी होंगे।

भारतीय टीम के सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेली जा रही 3 मैचों की सीरीज के पहले टेस्ट मैच के चौथे दिन छक्कें लगाने का एक अनोखा कीर्तिमान अपने नाम दर्ज किया है।

बता दें कि रोहित शर्मा अंतरराष्ट्रीय टेस्ट, वनडे और टी-20 तीनों ही प्रारुपों के हर एक मैच में सबसे ज्यादा छक्के लगाने वाले बल्लेबाज बन गए हैं। रोहित शर्मा ने 2013 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले गए एक वनडे मैच में 16 छक्के लगाए थे। इसके बाद उन्होंने 2017 में श्रीलंका के खिलाफ खेले गए एक टी-20 मैच में 10 छक्के जड़ दिए थे।

रोहित ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेले जा रहे है पहले टेस्ट मैच में अब तक 10 छक्के जड़ दिए हैं जिसके चलते वो भारत के लिए तीनों ही फॉर्मेट के एक-एक मैच में सबसे ज्यादा छक्के लगाने वाले एकमात्र बल्लेबाज बन गए हैं।

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ विशाखापत्तनम में खेले जा रहे पहले टेस्ट की पहली पारी में रोहित ने 6 छक्के लगाए थे और वहीं दूसरी पारी में बल्लेबाजी कर रहे है रोहित शर्मा ने अब तक 4 छक्के लगा दिए हैं जिसके साथ ही वो किसी भी एक टेस्ट मैच में भारत की ओर से सबसे ज्यादा 10 छक्के लगाने वाले बल्लेबाज बन गए हैं।

लगातार तीसरे दिन पेट्रोल और डीजल ने वाहन चालकों को बड़ी राहत दी है । कुछ दिनों पहले तेल के दामों में लगातार बढ़ोतरी हो रही थी, जिसके चलते आम जनता को अन्य कार्यो में भी कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ रहा था, लेकिन अब पिछले तीन दिनों में तेल मार्केट से बड़ी राहत मिल रही है। बता दें कि देश के अलग-अलग शहरों में पेट्रोल और डीजल एक बार फिर से सस्ता हो गया है। पेट्रोल 28 से 31 पैसे जबकि डीजल 20 से 22 पैसै प्रति लीटर सस्ता हो गया है। बता दें कि अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के रेट में कमी आने के बाद तेल कपंनियों ने लगातार तीसरे दिन पेट्रोल और डीजल के दाम घटाए हैं।

पिछले तीन दिनों में देश की राजधानी दिल्ली में पेट्रोल 57 पैसे प्रति लीटर और वहीं डीजल 34 पैसे प्रति लीटर सस्ता हो गया है। दिल्ली में पेट्रोल 74.04 रुपये, कोलकता में 76.67, चेन्नई में 76.90 और वहीं मुंबई में 79.65 प्रति लीटर के दाम से मिल रहा है। चारों महानगरों में डीजल के दाम भी घटकर 67.15 रुपये, 69.51 रुपये, 71.94 रुपये और 70.39 रुपये प्रति लीटर हो गए हैं।

पेट्रोल के दाम शनिवार को दिल्ली और कोलकाता में 29 पैसे, मुंबई में 28 पैसे और चेन्नई में 31 पैसे प्रति लीटर सस्ता किए गए है। वहीं डीजल के दाम दिल्ली और कोलकाता में 20 पैसे जबकि मुंबई में 22 पैसे और चेन्नई में 21 पैसे प्रति लीटर घट गए हैं।

इन तीन दिनों में लगतार पेट्रोल और डीजल के दामों में गिरावट आई है और वहीं तेल बाजार की माने तो तेल के दामों में अभी और भी गिरावट आ सकती है।

मुंबई की आरे “Aarey” कॉलोनी में पेड़ों की कटाई को लेकर लगातार बवाल जारी है। कल आधी रात को हुए हंगामे के चलते आज सुबह पूरे इलाके में धारा 144 लगा दी गई है। आरे कॉलोनी के रास्ते से जाने वाले लोगों पर पूरी तरह से रोक लगा दी गई है। Bombay High Court द्वारा जारी किए गए आदेश के बाद से ही आरे कॉलोनी की पेड़ों की कटाई को लकर का काम शुरू किया गया था। इस खबर की जानकारी मिलते ही स्थानीय लोग मौके पर पहुंच गए और झुंड बनाकर इसके विरोध में प्रदर्शन करने लगे, जिसके चलते आधी रात को सड़क पर जबरदस्त बवाल मचा। हंगामें को शांत करने के लिए पुलिस ने सभी प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया जिसके बाद हंगामा शांत हुआ।

आपको बता दें कि सोशल मीडिया पर यहां के पेड़ों को काटने का वीडियो वायरल हो गया था,  जिसके बाद से ही ट्वीटर पर #SaveAareyForest लगातार ट्रेंडिंग में बना हुआ है। लगातार चल रहे मेट्रो कार शेड के लिए तेजी से पेड़ों की कटाई शुरू हो गयी है और वहीं प्रस्तावित कार शेड स्थल पर बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया हैं जिसकी वजह शुक्रवार देर रात को स्थानीय लोगों का विरोध था।

लगातार चल रहे काम को रोकने को लेकर प्रदर्शनकारियों ने मेट्रो रेल साइट पर जमकर विरोध और नारेबाजी की। आरे कॉलोनी की ओर जाने वाली सभी सड़कों पर पुलिस ने बैरिकेड लगा दी है। कॉलोनी के तीन किलोमीटर तक के इलाके में किसी को पुलिस आने की इजाजत नहीं दे रही है। बताया जा रहा है कि 100 से ज्यादा लोगों को पुलिस ने हिरासत में लिया है।

इससे पहले Bombay High Court ने आरे कॉलोनी को वन क्षेत्र घोषित करने के साथ-साथ वहां के पेड़ों की कटाई को लेकर बृहन्मुंबई महानगरपालिका (BMC) द्वारा दिए फैसले को रद्द करने से इंकार कर दिया था और BMC ने हरित क्षेत्र में मेट्रो कार शेड के लिए करीब 2,646 पेड़ों को काटने की इजाजत दी थी, इतना ही नहीं BMC द्वारा दी गई मंजूरी के खिलाफ याचिका दायर करने वाले शिवसेना पार्षद यशवंत जाधव पर अदालत ने करीब 50 हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया।

केंद्र सरकार ने बिहार और कर्नाटक में जबरदस्त बारिश और बाढ़ से हुए भारी नुकसान को ध्यान में रखते हुए वहां की स्थिति को बेहतर करने के लिए इन दोनों राज्यों के लिए करीब 1813.75 करोड़ रुपये की वित्तीय सहायता को लेकर शुक्रवार को मंजूरू दे दी है। गृह मंत्री अमित शाह ने बाढ़ की चपेट में चल रहे सभी राज्यों में राहत और बचाव की समीक्षा करने के बाद ज्यादा से ज्यादा वित्तीय मदद को मंजूरी दी।

वित्तीय मदद को लेकर गृह मंत्रालय ने एक ब्यान जारी करते हुए कहा कि बाढ़ की वजह से हुए भारी नुकसान के चलते बिहार और कर्नाटक के राज्य आपदा कोष खातों में गृह मंत्रालय ने राष्ट्रीय आपदा राहत से बिहार के लिए करीब 400 करोड़ और कर्नाटक के लिए 1200 करोड़ रुपये की पहली राशि जारी करने की इजाजत दी।

आपको बता दें कि बिहार और कर्नाटक ने केन्द्र को SDRF खाते में धन की कमी होने की जानकारी दी थी, जिसके बाद केन्द्र सरकार बारिश और बाढ़ से प्रभावित लोगों को मदद पहुंचाने में समर्थ हुआ।

इन दोनों राज्यों ने National Disaster Response Fund से अग्रिम वित्तीय सहायता को लेकर राशि जारी करने का अनुरोध किया था। बिहार ने साल 2019-20 के लिए  State Disaster Response Fund को लेकर भारी नुकसान के चलते  केन्द्र के हिस्से की दूसरी किस्त की अग्रिम राशि जारी करने का भी अनुरोध किया था। इसी को लेकर अमित शाह ने साल 2019-20 के लिए बिहार को SDRF के लिए केन्द्र द्वारा करीब 213.75 करोड़ रुपये की दूसरी किस्त की अग्रिम राशि जारी करने को लेकर मंजूरी दी।

भारतीय वायुसेना ने शुक्रवार को पाकिस्तान के बालाकोट में घुसकर की गई Air Strike पर एक वीडियो जारी किया है। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों ने CRPF के जवानों पर आत्मघाती हमला किया था, जिसमें 45 जवान शहीद हो गए थे। इसके बाद पूरे देश में इसका जवाब देने के लिए गुस्सा भरा हुआ था। भारत का हर एक नागरिक पाकिस्तान की इस हरकत का बदला चाहता था। इसी के जवाब में भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान के बालाकोट में घुसकर इसका जवाब देते हुए एयरस्ट्राइक की थी। इस एयरस्ट्राइक में वायुसेना ने जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी अड्डों पर ताबड़तोड़ बम बरसाए थे। वायुसेना की तरफ से जारी की गई वीडियो में एयरस्ट्राइक की पूरी प्रक्रिया को दिखाया गया है।

जारी की गई 1.24 मिनट की वीडियो में दिखाया गया है कि किस तरह पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद देश में पाकिस्तानी आतंकवादियों के खिलाफ गुस्सा भरा हुआ था, जिसके बाद भारतीय वायुसेना ने बालाकोट में Air Strike करने की योजना बनाई और बालाकोट में स्थित आतंकी कैंपों पर बम गिराए थे और उन्हें पूरी तरह से तबाह कर दिया, जिसमें कई सारे आतंकी मारे गए थे।

आगे वीडियो में दिखाया गया है कि बालाकोट में आतंकी अड्डों को तबाह करने के बाद बौखलाए पाकिस्तान ने अगले दिन भारतीय वायुक्षेत्र में घुसने की कोशिश की, लेकिन भारतीय वायुसेना के जवानों ने उन्हें यहां भी पटकनी देकर बाहर कर दिया था।

आपको बता दें कि जब एयरस्ट्राइक हुई तो सबसे पहले पाकिस्तान की ओर से बालाकोट में आतंकी अड्डों की तबाही की कुछ तस्वीरें साझा की गई थी, फिर वायुसेना ने इस खबर की पूष्टि करते हए इसकी जानकारी दी थी।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने Air Strike के बाद ब्यान भी दिया था कि हमने जवाबी कार्यवाही भी की है जबकि भारतीय वायुसेना के जवानों ने उन्हें यहां भी खदेड़कर बाहर कर दिया था।

भारतीय वायुसेना ने इस मिशन से दुनिया को ये दिखा दिया था कि हमें जो भी आंख दिखाएगा उसे हम उसी के घर में घुसकर मारेंगे।

धीरे-धीरे चल रही अर्थव्यवस्था (Economy) में तेजी लाने के लिए मोदी सरकार की तरफ से लगातार कई तरह के प्रयास किए जा रहे है। त्योहारों का सीजन भी शुरू हो चुका है, ऐसे में हर साल की तरह बाजार में कई तरह डिमांड बढ़ाने के लिए आरबीआई (RBI) भी कोई बड़ा ऐलान कर सकता है। जानकारों की माने तो में मॉनिटरी पॉलिसी कमेटी (MPC) की बैठक के बाद 4 अक्‍टूबर को RBI की तरफ से कोई बड़ी घोषणा हो सकती है। हर बार की तरह इस बार भी RBI रेपो रेट  में 25 बेसिस प्‍वाइंट की कटौती का ऐलान कर सकता है। बता दें कि RBI के मॉनिटरी पॉलिसी कमेटी (MPC) की बैठक अभी भी जारी है जो 4 अक्‍टूबर को खत्‍म होगी।

रेपो रेट में कटौती से बाजार में भारी डिमांड पैदा होगी। कई तरह के लोन सस्‍ते हो जाएंगे जिनमें होम,कार और उपभोक्ता शामिल है। रेपो रेट में कटौती से इन सभी लोनों पर भारी असर देखने को मिलेगा, जिसके चलते आम लोग एक बार फिर से खरीदारी पर ध्यान लगाएंगे। इतना ही नहीं जानकारों का यह भी कहना है कि डिमांड पैदा करके ही सरकार इकोनॉमी में तेजी ला सकती है।

जानकारों के मुताबिक इस बार RBI लगभग 25 बेसिस प्‍वाइंट की कटौती कर सकता है। आपको बता दें कि पिछली बैठक में 35 बेसिस प्वाइंट की कटौती की गई थी। इस साल अब तक चार बैठक हो चुकी है जिसमें रेपो रेट को लेकर 110 बेसिस प्‍वाइंट की कटौती की जा चुकी है। अगर शुक्रवार को RBI की मौद्रिक समीक्षा में 25 बेसिस पॉइंट की कटौती की जाती है तो नया रेपो रेट 5.15 % हो जाएगी।

रिपोर्ट के अनुसार इसी साल दिसंबर के आखिरी में 5.15 % रेपो रेट में .15% और घटाया जा सकता है, जिसके बाद रेपो रेट 5 फीसदी ही बचेगा।

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच तीन मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला मुकाबला विशाखापत्तनम के एसीए-वीडीसीए स्टेडियम में खेला जा रहा है। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए भारतीय टीम ने 5 विकेट खो कर 4 रन बना लिए हैं। रविंद्र जडेजा (6 रन) और हनुमा विहारी (8 रन) बनाकर क्रीज पर हैं। भारत का पहला विकेट 317 रन के स्कोर पर रोहित शर्मा के रूप में गिरा जिन्होंने शानदार 176 रन बनाए, उसके बाद क्रीज पर आए चेतेश्वर पुजारा 6 रन के स्कोर पर आउट हो गए।

टीम इंडिया के रन मशीन कप्तान विराट कोहली भी मात्र 20 रन पर आउट हो गए, इसके बाद अजिंक्य रहाणे भी 15 के स्कोर पर आउट हो गए, वहीं लंच से पहले अपने टेस्ट करियर का पहला शतक लगाने वाले मयंक अग्रवाल ने टी ब्रेक से पहले ही शानदार दोहरा शतक जड़ दिया और 215 के स्कोर पर डीन एल्गर की गेंद पर आउट हो गए।

अग्रवाल ने अपना दोहरा शतक 358 गेंदों में पूरा किया। इस दौरान उन्होंने 22 चौके और 5 छक्के लगाए। बता दें कि मयंक अग्रवाल भारत में अपना पहला टेस्ट मैच खेल रहे हैं। मयंक अग्रवाल ने भारत में पहले ही टेस्ट की पहली ही पारी में दोहरा शतक जड़ दिया।

टेस्ट के दूसरे दिन चाय तक भारत ने 5 विकेट खो कर 450 रन बना लिए है और वहीं भारतीय टीम बड़े स्कोर की ओर आगे बढ़ रही है।

दिल्ली में दशहरा के आसपास बड़े आतंकी हमले की साजिश को लेकर खुलासा किया गया है। बताया जा रहा है कि राजधानी में 4 आत्मघाती आतंकवादी घुस आए है और इन सभी के पास हमले को अंजाम देने के लिए खतरनाक आधुनिक हथियार हैं। इंटेलिजेंस से मिली इस जानकारी के बाद दिल्ली पुलिस  की स्पेशल सेल कई इलाकों में छापेमारी कर रही है और सर्च ऑपरेशन जारी है।

सूत्रों के अनुसार आत्मघाती आतंकी जैश-ए-मोहम्मद से जुड़े हुए हैं जो पिछले हफ्ते ही शहर में बड़े आतंकी हमले को अंजाम देने के मकसद से घुसे हैं और रिपोर्ट के अनुसार हमले को अंजाम देने की प्लेनिंग करने वाला मुश्ताक अहमद जरगर है जो अल-उमर-मुजाहिदीन का मुख्य चीफ भी है।

पुलिस ने खबर मिलने पर जगह-जगह इसकी छानबीन शुरु कर दी है और वहीं आशंका जताई जा रही है कि आतंकी विस्फोटक के लिए सामान लादने वाली गाड़ी का प्रयोग कर बम या ग्रेनेड के जरिए हमला कर सकते हैं। इंटेलिजेंस इनपुट के बाद दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने सीलमपुर, जामिया, पहाड़गंज सहित शहर में तमाम जगहों पर छापेमारी कर रही है।

आपको बता दें कि इससे पहले जम्मू-कश्मीर में भी बड़े आतंकी हमले होने के कई सारे तथ्य मिले थे, जिसके बाद स्थानीय पुलिस ने आतमकियों को पकड़ने के लिए अभियान चलाया है जो अभी भी जारी है।

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच तीन मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला मुकाबला विशाखापत्तनम के एसीए-वीडीसीए स्टेडियम में खेला जा रहा है। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए भारतीय टीम ने 1 विकेट खोकर 324 रन बना लिए हैं। चेतेश्वर पुजारा (6 रन) और मयंक अग्रवाल (138 रन) क्रीज पर हैं। रोहित शर्मा 176 रन बनाकर आउट हुए और 317 रन के स्कोर पर भारत को पहला झटका लगा। बता दें कि खराब मौसम के कारण पहले दिन के आखिरी सेशन का खेल नहीं हो पाया था जिसके चलते समय से काफी पहले दिन के खेल समाप्ति की घोषणा कर दी गई थी।

टेस्ट के पहले दिन सिर्फ दो सेशन का ही खेल हो पाया था। भारत ने चाय तक 59.1 ओवरों में बिना कोई विकेट गवाएं 202 रन बना लिए थे, तभी बारिश आई और दूसरे सेशन का खेल खत्म करने की घोषणा कर दी गई। इसके बाद लगातार बारिश होती रही और अंपायरों ने आखिरी सेशन से पहले ही दिन का खेल खत्म करने की घोषणा कर दी।

मयंक अग्रवाल ने अपने टेस्ट करियर का पहला शतक जड़ दिया है। अग्रवाल ने अपना शतक 204 गेंदों में पूरा किया। शतक में उन्होंने 13 चौके और 2 छक्के लगाए। बता दें कि मयंक अग्रवाल भारत में अपना पहला टेस्ट मैच खेल रहे हैं। मयंक अग्रवाल ने भारत में पहली ही टेस्ट पारी में शानदार शतक जड़ दिया। बता दें कि मयंक ने पिछले साल दिसंबर में मेलबर्न में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ डेब्यू किया था, जिसमें उन्होंने कठिन परिस्थितियों में शानदार 76 रन की पारी खेली थी।

भारत की तरफ से टेस्ट में पहली बार ओपनिंग करने वाले रोहित शर्मा ने पहले दिन ही शानदार शतक लगा दिया था और वहीं दूसरे दिन भी उसी खेल को जारी रखते हुए रोहित ने अपने 150 रन भी पूरे किए और अंत में शानदार 176 रन की पारी खेलकर आउट हो गए। रोहित ने अपनी 176 रनों की पारी में 23 चौके और 6 छक्के जमाए।

टेस्ट के दूसरे दिन लंच से पहले भारत ने 1 विकेट खोकर 324 रन बना लिए है। भारत की नजर बड़े स्कोर पर है और वहीं 138 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद मयंक अग्रवाल की नजर भी पारी को आगे बढ़ा कर 200 रन पर होगी।

2 अक्टूबर गांधी जयंती पर रिलीज हुई Hrithik roshan और Tiger shroff की फिल्म 'War' ने Box Office में कमाई के मामले में सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। रिलीज के पहले ही दिन फ़िल्म ने धमाकेदार ओपनिंग की है। बॉक्स ऑफ़िस की रिपोर्ट के अनुसार फिल्म ने पहले ही दिन लगभग 50 करोड़ से ज्यादा की कमाई की है।

इस फ़िल्म का ट्रेलर आने का बाद से ही दर्शकों को लगने लगा था कि यह फिल्म कई सारे रिकॉर्ड अपने नाम करेगी। Yash Raj Films प्रोडक्शन द्वारा बनी यह फिल्म जब बॉक्स ऑफिस पर रिलीज हुई तो दर्शकों की उम्मीदों को हक़ीक़त में बदल दिया।

बॉक्स ऑफिस के अनुसार फिल्म ने लगभग 50 करोड़ की ओपनिंग ली है। बता दें कि फिल्म के रिलीज से पहले सभी सिनेमाघर पहले से ही बुक थे। गांधी जयंती की छुट्टी का फिल्म को पूरा फायदा मिला है जिससे स भी दर्शक सिनेमाघरों में टूट पड़े। वॉर ने 2019 में सलमान ख़ान की फ़िल्म भारत के सबसे बड़े ओपनिंग कलेक्शन के रिकॉर्ड को बहुत पीछे कर दिया है, ईद पर रिलीज़ हुई सलमान की फिल्म भारत ने रिलीज के पहले ही दिन लगभग 42.30 करोड़ की कमाई की थी। इसके साथ वॉर बॉलीवुड की सबसे अधिक ओपनिंग कलेक्शन करने वाली फिल्मों की लिस्ट में दूसरे स्थान पर आ गयी है। इस लिस्ट में पहले स्थान पर 2018 में 8 नवंबर को रिलीज हुई आमिर ख़ान की ठग्स ऑफ हिंदोस्तान, जिसने पहले ही दिन लगभग 50.75 करोड़ की कमाई की थी। हालांकि इतनी अच्छी ओपनिंग के बाद भी आमिर की यह फिल्म बॉक्स ऑफ़िस पर बुरी तरह से फ्लॉप हुई थी।

सिद्धार्थ आनंद के निर्देशक में बनी यह फिल्म एक एक्शन-थ्रिलर फ़िल्म है साथ ही साथ इसमें सस्पेंस का भी जबरदस्त तड़का लगाया गया है। सस्पेंस ऐसा है जिसको लेकर ऋतिक और टाइगर ने फिल्म की रिलीज से पहले सोशल मीडिया पर लोगों से फ़िल्म देखने के बाद स्पॉयलर ना देने की बात कही थी।

आपको बता दें कि फ़िल्म में ऋतिक और टाइगर के साथ वाणी कपूर ने फीमेल लीड रोल निभाया है। वाणी ने इस एक्शन-थ्रिलर फ़िल्म को ग्लैमरस बनाया। वॉर ने टिकटों की एडवांस बुकिंग सेल का भी रिकॉर्ड बनाया है। रिपोर्ट के मुताबिक फ़िल्म ने 30 करोड़ से अधिक रकम एडवांस बुकिंग के ज़रिए कमा ली है।

फिल्म को लेकर अभी भी टिकटे आसानी से नहीं मिल रही है। एडवांस बुकिंग करने वाले सभी लोग फिल्म का अच्छे से आनंद उठा रहे है और वहीं थियेटर जाकर फिल्म की टिकट खरीदने वालो को बड़ी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच तीन मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला मुकाबला विशाखापत्तनम के एसीए-वीडीसीए स्टेडियम में खेला जा रहा है, हालांकि जिसका डर सबको था ठीक वहीं हुआ और बारिश के चलते मैच को रोकना पड़ा। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए टीम इंडिया ने 59.1 ओवरों में बिना कोई विकेट गंवाए 202 रन बना लिए हैं. रोहित शर्मा (115 रन) और मयंक अग्रवाल (84 रन) क्रीज पर हैं।

रोहित शर्मा ने ओपनिंग करते हुए टेस्ट में अपना पहला शतक जड़ दिया है। रोहित ने 154 गेंदों में 10 चौके और 4 छक्कों की मदद से शानदार शतक बनाया। रोहित के टेस्ट करियर का यह चौथा शतक है। शतक के लिए उन्होंने 154 गेंदों का सामना किया। रोहित के टेस्ट करियर पर गौर किया जाए तो उन्होंने 2013 में वेस्टइंडीज के खिलाफ शतक लगाकर शानदार आगाज किया था, लेकिन उसके बाद उन्हें अपना स्थान बनाए रखने के लिए संघर्ष करना पड़ा। कभी नंबर 5 या 6 पर आजमाया गया लेकिन टीम में फिट नहीं बैठे जिसके चलते उन्हें टीम से बहार होने का सामना भी करना पड़ा था।

टेस्ट में लगातार बेकार प्रदर्शन के चलते के.एल. राहुल को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज में नहीं चुना गया था, जिसके बाद टेस्ट टीम में रोहित को बतौर ओपनर चुना गया और इसी निर्णय को ठीक साबित करते हुए रोहित ने द.अफ्रीका के खिलाफ पहले ही टेस्ट में 115 रन बना दिए है और अभी भी क्रीज पर मौजूद है।

बारिश रूकने के बाद मैच शुरू होगा और वहीं सभी क्रिकेट फैंस यहीं चाहते है कि रोहित अपनी पारी को और आगे बढ़ाए।

तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद में मंगलवार को ISRO के राष्ट्रीय रिमोट सेंसिंग सेंटर NRSC से जुड़े एक वैज्ञानिक की हत्‍या से हड़कंप मच गया। हैदराबाद के अमीरपेट में रहने वाले NRSC में काम कर रहे इसरो के वैज्ञानिक एस सुरेश की हत्या कर दी गई। सुरेश को उनके फ्लैट में मृत पाया गया है।  इस पूरी घटना की सूचना मिलने पर घटनास्थल पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस ने इसे हत्या का मामला बताया है, छानबीन से जो तथ्य मिले है उनसे पता चला है कि हत्यारे ने किसी लोहे की रॉड से उनके सिर पर हमला किया जिसके बाद उनकी मौत हो गई।

आपको बता दें कि एस सुरेश अपने फ्लैट में अकेले रहते थे। इसरो में कार्य करने वाले वैज्ञानिक सुरेश मंगलवार को अपने दफ्तर नहीं पहुँचे तो उनके साथियों ने उनसे संपर्क करने का प्रयास किया, लेकिन कोई जवाब नहीं मिला। इसके बाद चेन्नई में बैंक में कार्य रही उनकी पत्नी को इस पूरे मामले की सूचना दी गयी, जिसके बाद शाम को फ्लैट पहुंचने के बाद उन्हें इस पूरी घटना के बारे में पता चला।

मौके पर पहुंची पुलिस को जो भी तथ्य मिले है उससे पुलिस जांच में जुट गई है। पुलिस द्वारा आसपास इलाके के लोगों से पूछताछ कर रही है, वहीं इलाके में लगे सभी CCTV कैमरों की फूटेज की जांच पड़ताल कर रही। पुलिस हत्यारे तक पहुंचने की कोशिश में जुट गयी है। सुरेश कीब 20 साल से हैदराबाद में रह रहे हैं।

मध्य प्रदेश के रामनगर कस्बे में बसा एक गांव जो आज भी महात्मा गांधी के सिखाए पाठ पर चल रहा है। आजादी की प्रथा को बनाए रखने वाले इस गांव के लगभग हर घर में आज भी चरखे का प्रयोग किया जाता है। चरखे का इस्तेमाल करना इनकी जरूरतों को पूरा करना और स्वतंत्र भारत की प्रथा को आगे बढ़ाना है। वहीं यहां के लोगों का कहना है कि उनके बुजुर्गों ने महात्मा गांधी से सभी पाठ सीखे और उन्हें विरासत में दे गए। कई तरह की समस्याओं से जूंझ रहा ये गांव आज भी इस परम्परा को बनाए हुए है।

यहां की आबादी लगभग साढ़े 3 हजार है, जहां हर घर से चरखे के चलने की आवाज आज भी सुनाई देती है। इस गांव की यह परम्परा महात्मा गांधी के सिखाए पाठ की वजह से है। लाखों परेशानियों से जूझने के बाद भी यहां के लोगों ने सालों से चली आ रही प्रथा को बनाए रखा है।

आपको बता दें कि जिस आजाद भारत का सपना महात्मा गांधी ने देखा था उसकी देखभाल के लिए आज भी यह गांव एकजुट होकर उसका पालन पोषण कर रहा है। चरखे से कपड़े और कम्बल तैयार करके बहार जाकर बैचते है। चरखा चलाकर सूत कातने का काम घर की महिलाओं का होता है, जो घर के बाकि काम निपटाकर खाली बचे समय में चरखे से सूत तैयार करती हैं। इसके बाद का काम घर में पुरूषों का होता है, जो इस सूत से कम्बल और बाकि चीजें बुनने का काम करते हैं।

सरकार से सहायता मिलने की जगह यह गांव अपने बजुर्गों की परम्परा के चलते रोजगार के लिए इसी का प्रयोग करता है। हालांकि अब यह विरासत बहुत ही कमजोर होने लगी है, जिसका मुख्य कारण यह है कि कई दिनों तक चरखा कातने और बुनने के बाद भी इन लोगों को पूरी मजदूरी तक नहीं मिल पाती है। गांव में हर परिवार में रह रहे बच्चों का भी सालों से चली आ रही प्रथा को लेकर सवाल करने का मन करता है।

सरकार की योजनाओं से अछूता यह गांव आज भी अपनी जरूरतों को लेकर सहायता की गुहार कर रहा है। यहां बसे लोगों के पास चरखा चलाने के अलावा कोई रोजगार नहीं है। ग्रामीणों का मानना है कि अगर सरकारी सहायता से यही काम मशीनरी उपकरणों से करें तो ना सिर्फ पूरी मजदूरी मिलेगी बल्कि इनकी गरीबी भी दूर होगी।

लगातार कई तरह की समस्याओं का सामना करने वाले इस गांव के लोग आज भी चरखे की परम्परा और गाँधी जी की प्रथा को लेकर बहुत खुश है और गर्व के साथ इस परम्परा को जीवित किए हुए हैं। इसलिए नहीं कि इनकी जरूरत है, बल्कि इसलिए क्योंकि इनके बुजुर्गों ने जो पाठ महात्मा गांधी से सीखा था उसे पूरा करने का जिम्मेदारी इनके कंधों पर है, जिसे यहां के लोग हमेशा निभाते रहेंगे।

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने सोमवार को अमेरिका के विरोध के खतरे के बाद भी रूस से मिसाइल डिफेंस सिस्टम (Missile Defense System) खरीदने के भारत के अधिकार का बचाव किया है। साथ ही साथ भारत ने इस बात को साफ करते हुए यह भी कह दिया है कि हम सैनिक उपकरणों को कहीं से भी किसी भी देश से खरीदने के लिए आजाद है। अपनी अमेरिका यात्रा पर सोमवार को विदेश मंत्री जयशंकर ने कहा कि भारत रूस से एस-400 मिसाइल डिफेंस सिस्टम खरीदने की डील कर रहा है और इसके लिए कोई देश उसे नहीं रोक सकता, क्योंकि भारत इसके लिए स्वतंत्र है।

विदेश मंत्री ने इस पर कहा कि हमने हमेशा कहा है कि हम जो भी सैनिक उपकरण या कुछ भी खरीदते हैं, वह हमारा सम्प्रभु एंव खुद का अधिकार है। एस जयशंकर यह भी कहा कि हम नहीं चाहते कि कोई अन्य देश हमें ये बताए कि रूस से हमें क्या खरीदना है और क्या नहीं, और न ही हम चाहते हैं कि कोई देश हमें यह बताए कि अमेरिका से क्या खरीदना है और क्या नहीं।

आपको बता दें कि भारत ने रूस से करीब 5.2 अरब डॉलर की पांच S-400 मिसाइल डिफेंस सिस्टम खरीदने के लिए पिछले साल डील की थी। अमेरिका द्वारा इसका विरोध करने का मुख्य कारण रूस द्वारा यूक्रेन और सीरिया में सैन्य सहायता और अमेरिकी चुनावों में हस्तक्षेप करना है। इन्हीं सब आरोपों के कारण अमेरिका ने 2017 में लागू किए कानून के तहत उन देशों पर रोक लगाने का प्रावधान किया है जो रूस से बड़े हथियार खरीदते हैं।

हालांकि भारत ने यह साफ कर दिया है कि कोई देश हमें हमारे अधिकारों के बारे में कुछ नहीं बता सकता, हमें कोई भी अन्य देश कुछ खरीदने या बेचने से रोक नहीं सकता।

विश्वकप 2019 के बाद से ही ऋषभ पंत को लेकर लगातार चर्चा हो रही थी। जिसका परिणाम यह हुआ था कि भारतीय कप्तान विराट कोहली से लेकर मुख्य कोच रवि शास्त्री तक उनके प्रदर्शन पर बड़ी बारीकी से अपनी नजर बनाए हुए थे। सीमित ओवरों में लगातार लापरवाह तरिके से अपना विकेट गवाने वाले विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत के ऊपर अब टेस्ट क्रिकेट में भी गाज गिर गई है जिसके चलते उन्हें दक्षिण अफ्रिका के खिलाफ होने वाली टेस्ट सीरीज के पहले मैच में टीम में नहीं चुना गया है। कप्तान कोहली ने इस पर बड़ा ब्यान दिया है।

विराट कोहली ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले टेस्ट मैच से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज में ऋध्दिमान साहा विकेटकीपर के रूप में टीम की पहली पसंद होंगे और अगर पंत को सीरीज में टीम में मौका दिया जाएगा तो एक बल्लेबाज के तौर पर दिया जाएगा। BCCI के अधिकारिक ट्वीयर एकांउट द्वारा दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ होने वाले पहले टेस्ट मैच के लिए टीम की प्लेइंग X1 का एलान किया गया है जिसमें विकेटकीपर के तौर पर ऋध्दिमान साहा को टीम में रखा गया और ऋषभ पंत को पहले टेस्ट से बहार किया गया है।

कप्तान कोहली ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में अफ्रीका के खिलाफ पहले टेस्ट मैच के लिए रविचंद्रन अश्विन की भी टीम में वापसी की अधकारिक घोषणा की है। अश्विन पिछले लंबे समय से सीमित ओवरों की क्रिकट में टीम से बाहर चल रहे हैं और वहीं टेस्ट में उन्हें टीम में लगातार मौके नहीं मिल रहे है। इसके अलावा हाल ही में उन्हें वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट सीरीज में भी प्लेइंग X1 में जगह नहीं मिली थी।

आपको बता दें कि ऋध्दिमान साहा ने अपना आखिरी टेस्ट मैच 2018 में जनवरी में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेला था, जिसके बाद उन्हें चोट लग गई थी और टीम से बहार होना पड़ा था। इसके बाद  ऋषभ पंत को टीम में विकेटकीपर के रूप में टीम में चुना गया और लगातार मौके भी दिए गए । मौकों को दोनों हाथों से पकड़ने वाले ऋषभ पंत ने टेस्ट में अच्छा प्रदर्शन करते हुए ऑस्ट्रेलिया और इंग्लेंड में शतक भी लगाए। हालांकि पंत को बेकार प्रदर्शन के चलते टेस्ट में प्लेइंग में नहीं चुना गया है।

2020 में होने वाले इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के लिए खिलाड़ियों की नीलामी के कार्यक्रम की तारिख का ऐलान हो गया है। अगले साल होने वाले IPL की नीलामी इस साल के अंत में 19 दिसंबर को कोलकाता में होगी। अब तक लीग का नीलामी कार्यक्रम बेंगलुरू में हुआ करता था, लेकिन इस बार नीलामी के कार्यक्रम के लिए कोलकाता को चुना गया है।

IPL के 13वें संस्करण के लिए फ्रेंचाइजी टीमों द्वारा ज्यादा खिलाड़ियों को खरीदने का मन नहीं बनाया है, जिसके चलते इस बार की नीलामी जल्द ही खत्म हो जाएगी क्योंकि फ्रेंचाइजी द्वारा 2018 की तरह नई टीम बनाने का मन 2021 तक टाल दिया है। इससे पहले बड़ी नीलामी साल 2018 में हुई थी, जिसमें सभी फ्रेंचाइजी को नई टीम बनाने के लिए आदेश दिए गए थे और साथ ही साथ पहले पांच खिलाड़ी रीटेन करने की  इजाजत भी दी गई थी।

फुटबॉल की तरह ही IPL में लाए गए “ट्रेडिंग विंडो” एंव फ्रेंचाइजी द्वारा खिलाड़ियों की अदला-बदली को लेकर सभी 8 फ्रेंचाइजी को सूचित कर दिया गया है कि 14 नवंबर तक ट्रेडिंग विंडो बंद हो जाएगी। फ्रेंचाइजी को 2020 की अपनी टीम तैयार करने के लिए 85 करोड़ रुपये खर्च करने का अधिकार दिया गया हैं। सभी फ्रेंचाइजी को 2019 की नीलामी में बचे पैसे को भी इस नीलामी में खर्च करने की इजाजत दी गई है।

इस समय दिल्ली कैपिटल्स के पास पर्स में सबसे ज्यादा 8.2 करोड़ रुपए है, वहीं दूसरे स्थान पर राजस्थान रॉयल्स है जिनके पर्स में 7.15 करोड़ हैं, इसके कोलकाता के खाते में 6.05 करोड़ रुपये, सनराइजर्स हैदराबाद के खाते में 5.3 करोड़ रुपये, किंग्स इलेवन पंजाब के पास 3.7 करोड़, चैन्नई सुपर किंग्स के पास 3.2 करोड़, मुंबई इंडियनस के पास 3.05 करोड़ और रॉयल चैलेंजर बेंगलोर के पास 1.8 करोड़ रुपये हैं।

पिछले साल हुए IPL में मुंबई इंडियनस और चैन्नई सुपर किंग्स के बीच जबरदस्त फाइनल देखने को मिला था, जिसमें मैच आखिरी गेंद तक गया था और मुंबई ने यह मुकाबला एक रन से जीतकर चौथी बार IPL के खिताब को अपने नाम किया था।

विश्वकप 2019 में अच्छा प्रदर्शन करने वाले कुछ ऐसे खिलाड़ी थे जो IPL में किसी भी फ्रेंचाइजी का हिस्सा नहीं है, ऐसे में इन खिलाड़ियों को खरीदने के लिए सभी फ्रेंचाइजी सोच विचार कर सकती है।

जम्मू कश्मीर में एक बड़े आतंकी हमले के नाकाम होने की खबर सामने आई है। जम्मू में के.सी मोड़ बस स्टैंड के पास एक बस में रखे एक बैग में 15 किलो का विस्फोट मिला है। यह बस यहां कैसे आई और विस्फोटक इतनी मात्रा में यहां कैसे आया, इसको लेकर अभी पूरी जानकारी के लिए मौके पर पहुंची पुलिस की टीम इसकी जाँच कर रही है।

आपको बता दें कि मंगलवार सुबह जम्मू कश्मीर के पुंछ में बोखलाए पाकिस्तान ने एक बार फिर सीजफायर का उल्लंघन करते हुए भारतीय क्षेत्रों पर गोलीबारी की है। वहीं कल रात को भी कठुआ जिले के हीरानगर इलाके में अंतरराष्ट्रीय बार्डर पर पाकिस्तान ने खतरनाक गोलीबारी की थी जिसमें BSF का एक जवान भी घायल हो गया, जिसके बाद भारतीय जवानों द्वारा पुंछ और कठुआ में कार्रवाई करते हुए पाकिस्तान को करारा जवाब दे रही है।

3 दिन पहले 28 सितंबर को जम्मू कश्मीर में तीन आतंकी हमले हुए थे। गांदरबल में जवाबी कार्रवाई करते हुए सुरक्षाबलों ने 3 आतंकियों को मार गिराया था। श्रीनगर और डोडा में आतंकियों ने ग्रेनेड से बड़ा हमला किया। आतंकी हमले की आशंका को देखते हुए डोडा में सुरक्षा कड़ी कर दी गई और वहीं सुरक्षाबलों की टीमों द्वारा आतंकियों की तलाशी की जा रही है। जम्मू कश्मीर के रामबन जिले के बटोत किश्तवाड़ राष्ट्रीय राजमार्ग इलाके में 28 सितंबर की सुबह गश्ती दल पर हमले के बाद सुरक्षाकर्मियों ने तलाशी अभियान चलाते हुए हमलावर आंतकियों को घेर लिया था, जिसके बाद दोनों तरफ से गोलीबारी शुरू हो गई थी।

कश्मीर विवाद के लिए कांग्रेस पार्टी को पूरी तरह से जिम्मेदार ठहराते हुए गृह मंत्री अमित शाह ने रविवार को अनुच्छेद 370 हटने की आलोचना करने वालों को लताड़ लगाई है। अमित शाह ने सालों से चली आ रही जम्मू कश्मीर की समस्या को लेकर एक बार फिर से जवाहरलाल नेहरू पर निशाना साधा है। अमित शाह ने कहा कि कश्मीर के मुद्दे को संयुक्त राष्ट्र में लेकर जाना नेहरू की सबसे बड़ी भूल थी।

शाह ने कहा कि जवाहरलाल नेहरू द्वारा चार्टर 35 को UN मे लेकर जाना सबसे बड़ी गलती थी और गलत प्रचार के चलते अनुच्छेद 370 कई सालों तक चला। उन्होंने आगे कहा कि नेहरू को संयुक्त राष्ट्र में इसके साथ नहीं बल्कि घुसपैठ चार्टर के साथ जाना चाहिए था। अपने दावों को बताते हुए शाह ने आगे कहा कि चार्टर 35 ने इसे दो देशों के बीच एक संघर्ष बना दिया, जबकि चार्टर 51 ने हमें हमारी भूमि पर कब्जा करने वाले विदेशी राष्ट्र के मामले को लेकर काफी मदद की।

शाह ने आरोप लगाते हुए यह भी कहा कि कश्मीर के इतिहास की सच्चाई को भी छिपाया गया है, जिसके चलते हमें आज तक इसके सही-सही तथ्य नहीं मिल पाए है क्योंकि इसका इतिहास लिखने वाले वहीं लोग है जिन्होंने इसकी समस्या पैदा की थी। सरदार पटेल ने कितनी आसानी से 565 से ज्यादा रियासतों को भारत में शामिल किया था, लेकिन कश्मीर का भार नेहरू के हाथ में था, जिससे समस्याएं पैदा हुई।

अमित शाह ने कहा कि अब समय आ गया है कि इतिहास लिखा जाए और लोगों तक पहुंचाया जाए।

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व ओपनर बल्लेबाज और BJP सांसद गौतम गंभीर के खिलाफ धोखाधड़ी के मामले में  साकेत कोर्ट में चार्जशीट दाखिल की गई है, जिसके चलते गंभीर के लिए परेशानी बढ़ सकती है।

आपको बता दें कि गंभीर पर करीब 50 से ज्यादा फ्लैट खरीददारों ने आरोप लगाते हुए शिकायत दर्ज की है कि उन्होंने 2011 में उत्तरप्रदेश के गाजियाबाद के इंदिरापुरम के एक रियल स्टेट में फ्लैट खरीदने को लेकर कई रुपये भर कर बुकिंग जैसी प्रक्रिया को पूरा किया था, लेकिन अब करीब 8 साल से ज्यादा हो चुके हैं अभी तक उन्हें फ्लैट नहीं मिले हैं।

गौरतलब है कि सांसद गंभीर फ्लैट देने का दावा करने वाली Rudra Buildwell Realty Pvt.Ltd और  HR Infracity Pvt.Ltd की संयुक्त परियोजना के मुख्य निर्देशक और ब्रांड एंबेसडर भी थे। इतना ही नहीं इससे पहले उनके खिलाफ तीन साल पहले 2016 में हाउसिंग प्रोजेक्ट की बुकिंग करवाने के बहाने करोड़ो रुपये की हेराफेरी करने का आरोप लगा था, जिसके चलते उन पर केस भी दर्ज किया गया था।

खरीददारों द्वारा दर्ज कराए गए केस के मुताबिक फ्लैट देने वाली कंपनी की तरफ से 6 जून 2013 को उन्हें फ्लैट देने का वादा किया गया था, लेकिन इसके बाद 2014 तक खरीददारों को लगातार नज़रअंदाज़ किया जाता रहा और पूछने पर बहाने बनाए जाते रहे। इसके बाद करीब एक साल बाद 2015 में अप्रैल में अधिकारियों ने जरुरी लाइसेंस फीस के कारण प्रोजेक्ट को रद्द कर दिया गया था।

गंभीर के अलावा कंपनी से जुड़े मुख्य उपकारियों के नाम भी केस दर्ज किया गया है। इस मामले में गभीर पर यह भी आरोप लगा है कि उन्होंने इस प्रोजेक्ट में निवेश करने के लिए बायर्स को आकर्षित करने में कंपनी की पूरी सहायता की थी, जिसके चलते इनके खिलाफ IPC की दो धाराओं के तहत केस दर्ज किया गया है।

चैंपियंस ट्रॉफी 2017 के बाद से भारतीय क्रिकेट टीम को सीमित ओवरों की क्रिकेट में सफल बनाने में चाइनामैन कुलदीप यादव और लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल का सबसे ज्यादा योगदान रहा है। लगातार 2 साल से सीमित ओवरों की क्रिकेट टीम का हिस्सा रहे दोनों खिलाड़ियों ने कई मौकों पर भारत को एकतरफा जीत भी दिलाई। दोनों खिलाड़ियों ने शानदार प्रदर्शन को जारी रखते हुए विश्व कप 2019 में भी अच्छी गेंदबाजी की थी। वहीं विश्व कप के बाद से ही दोनों को सीमित ओवरों की क्रिकेट में टीम में नहीं चुना जा रहा है।

इसी पर ब्यान देते हुए भारतीय कप्तान विराट कोहली ने कहा था कि 2020 में ऑस्ट्रेलिया में टी20 विश्वकप खेला जाएगा और विश्व की दूसरी टीमों में गेंदबाज नीचे क्रम में आकर बल्लेबाजी कर लेते है तो हम क्यों ना इसी प्रक्रिया को अपनाएं और कुलदीप-चहल की जगह टीम में उन खिलाड़ियों को मौका दें जो निचले क्रम में समय आने पर थोड़ी बहुत बल्लेबाजी भी करना जानते हो। इसी के चलते टीम में पिछली दो टी20 सीरीज में कुलदीप-चहल की जगह वाशिंगटन सुंदर और राहुल चहर को चुना गया।

हालांकि इस पर कई पूर्व दिग्गज क्रिकेटरों ने असहमति दिखाते हुए विराट कोहली को कहा कि कुलदीप-चहल को टीम में वापस लाना चाहिए। पूर्व भारतीय खिलाड़ी युवराज सिंह ने कहा कि यह एक दम बेकार फैसला है क्योंकि किसी भी टीम को 9-10 क्रम के बल्लेबाज मैच नहीं जीताते, अगर आपके पास टीम में कुलदीप-चहल जैसे उच्च स्तरीय गेंदबाज ना हो तो आप कोई भी मैच नहीं जीत पाएंगे। युवी ने आगे कहा कि 2020 का टी20 विश्वकप भारत को जीतना है तो ऐसे प्रयोग करने बंद करने होंगे और टीम में कुलदीप-चहल को वापस लाना होगा।

हाल ही में पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली ने भी इस पर ब्यान देते हुए कहा कि अगर आपको 2020 का टी20 विश्वकप जीतना है तो इन दोनों को टीम में वापस लाना होगा। यह पूरा विराट कोहली पर निर्भर करता है और विराट को दोनों खिलाड़ियो को वापस लाना चाहिए और ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 विश्वकप की तैयारियों को शुरु कर देना चाहिए।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लगभग सात दिन के लंबे अमेरिका दौरे के बाद शनिवार को वापस भारत लौट आए है। अमेरिका दौरे से आते ही पीएम मोदी का जोरदार स्वागत किया गया। अमेरिका में उन्होंने कई कार्यक्रमों में हिस्सा लिया, जिसकी शुरुआत “हाउडी मोदी” कार्यक्रम से हुई। इस कार्यक्रम में अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भी शामिल हुए। जैसे-जैसे दौरा आगे बड़ा प्रधानमंत्री मोदी ने कई कार्यक्रमों को संबोधित किया जिनमें संयुक्त राष्ट्र महासभा भी शामिल था।

विदेशी मामलों से जुड़े मंत्री डॉ.एस.जयशंकर ने पीएम मोदी के अमेरिका दौरे के बारे में लिखते हुए कहा कि लगभग एक सप्ताह में अमेरिका दौरे में प्रधानमंत्री मोदी ने नए भारत, भारत की नीतियों और आतंकवाद को खत्म करने को लेकर जबरदस्त भाषण दिया। साथ ही साथ 41 विदेशी नेताओं से मुलाकात की और कई बैठकों में हिस्सा भी लिया।

प्रधानमंत्री मोदी के इस दौरे से विश्व को भारत पर और भी ज्यादा भरोसा हो गया है। वहीं दौरे से विश्व भर में रह रहे लोगों को यह भी पता चल गया है कि भारत ने जब-जब दुनिया के साथ हाथ मिलाने की कोशिश की है उसे दुनिया का पूरा साथ मिला है।

UNGA में अपने कार्यक्रम को समाप्त करने के बाद पीएम मोदी ने ट्रंप और अमेरिका के लोगों को इतने शानदार स्वागत के लिए धन्यवाद दिया। लगभग 50 हजार लोगों को संबोधित करने वाले हाउडी मोदी कार्यक्रम को लेकर पीएम मोदी ने कहा कि मैं यह कभी भी नहीं भूल पाउंगा और ट्रंप के आने से यह कार्यक्रम और भी खास बन गया था।

जल्द ही आपका ड्राइविंग लाइसेंस और RC बदल जाएगा। 1 अक्टूबर से देश में सभी गाड़ियों के ड्राइविंग लाइसेंस और RC का फार्मेट एक होगा। फार्मेट के साथ-साथ रंग, सुरक्षा कोड और फीचर्स एक जैसे हो जाएंगे। आपको बता दें कि पहले भारत के अलग-अलग राज्यों में राज्यों के हिसाब से DL,RC का फार्मेट हुआ करता था, लेकिन अब आने वाली नई नीति के तहत ये दोनों एक जैसे हो जाएंगे और साथ ही साथ पूरे देश में एक जैसा ही फार्मेट भी लागू किया जाएगा।

कैसी सुविधाएं मिलेंगी नए DL,RC में ?

नए एंव स्मार्ट DL,RC में एक डिटेक्ट होने वाली माइक्रोचिप और QR कोड भी लगा होगा, जिसके अंदर पिछले पुराने सभी आँकडें होंगे। साथ ही साथ इस कोड से केंद्रीय डाटा बेस से गाड़ी के मालिक और गाड़ी का पूरा रिकॉर्ड आसानी से पढ़ा जा सकेगा। इन्हीं सुविधाओं के बीच नए डीएल में एक इमरजेंसी नंबर भी लिखा जाएगा, जिससे परेशानी होने पर आसानी से संपर्क किया जा सकेगा। इसका प्रयोग किसी का डीएल मिलने पर संपर्क करने में भी किया जा सकेगा।

वाहन चालकों के लिए ये एक राहत भरी खबर है। नई नीति के बाद ड्राइविंग लाइसेंस,RC की सारी जानकारी एक जगह ही होगी।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) में भाषण देते हुए भारत के खिलाफ ही बोलते रहे। इमरान खान ने एक बार फिर से कश्मीर मुद्दे को ध्यान में रखते हुए भारत को निशाना बनाया और सभा को संबोधित करते हुए उन्हीं सब बातों को एक बार फिर से बोला, जो वे जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद से लगातार बोले जा रहे है। पाक पीएम ने सभा में अपनी बेकार की बातों को रखने के लिए इस मंच का बुरी तरह दुरुपयोग किया और साथ ही साथ बोलने के लिए दी गई समयसीमा को पीछे छोड़ते हुए उन्होनें UN का अपमान भी किया।

सभा में अपने देश की नीतियों, आने वाले समय में नीतियों में बदलाव, अपने देश में चल रही समस्याओं जैसे मुद्दों पर बात करने के अलावा वे बस भारत के खिलाफ बोलते रहे और निशाना साधते रहे। इमरान खान ने भाषण में कश्मीर को ही मुख्य केंद्र बना रखा था।

इतना ही नहीं इमरान खान ने बयानबाजी की सीमा को लांघते हुए भारत को कश्मीर मुद्दे पर वहां की स्थिति के बारे में चेतावनी देते हुए कहा कि जम्मू और कश्मीर में जब कर्फ्यू हटेगा, तब वहां लड़ाई-झगड़े और खूनखराबा होगा, तब क्या होगा किसी ने इसके बारे में सोचा है।

पाक पीएम ने आगे कहा कि कश्मीर में लोगों को घर के अंदर क्यों बंद किया गया है? कर्फ्यू हट जाने के बाद जो होगा उसको पीएम मोदी कैसे संभालेंगे? उन्हें लगता है कि कश्मीर के लोग इस चीज से खुश है और वे इस स्थिति को अपना लेंगे?  आने वाले समय में कश्मीर के लोग जब कर्फ्यू खत्म होने के बाद घरों से बहार निकलेंगे तो वहां लड़ाईयां और खूनखराबा होंगे।

इमरान खान ने पीएम मोदी को चेतावनी देते हुए यह भी कहा कि आने वाले समय में कश्मीर में बहुत ही बुरी स्थिति पैदा होने वाली है।

न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) में हिस्‍सा लेने के बाद शुक्रवार को पाकिस्‍तान वापस लौटते समय जैसे ही प्रधानमंत्री इमरान खान अपने हवाई जहाज से रवाना हुए, तभी उनके प्‍लेन में तकनीकी खराबी आ गई|  इसका बारे में पता चलते ही प्‍लेन को तुरंत वापस न्‍यूयॉर्क ले जाया गया, जहां उसकी इमरजेंसी लैंडिंग कराई गई। इस प्‍लेन में इमरान के साथ उनका प्रतिनिधिमंडल भी मौजूद था। पाकिस्‍तानी न्‍यूज चैनल जिओ टीवी ने इस खबर के बारे में जानकारी को प्रकाशित करते हुए बताया कि यह एक बहुत ही बड़ी लापरवाही हुई है, जिसके चलते एक बड़ी दुर्घटना हो सकती थी।

प्रकाशित की गई खबर के अनुसार इमरान खान के प्‍लेन में तकनीकी खराबी उस दौरान आई, जब उनका हवाई जहाज टोरंटो के आस पास था। खबर के अनुसार प्लेन में आई तकनीकी खराबी ज्‍यादा बड़ी नहीं थी, जिसे ठीक किया गया। इसके चलते इमरान खान को पूरी रात न्यूयॉर्क में ही गुजारनी पड़ी। आपको बता दें कि इमरान खान को यह प्‍लेन सऊदी अरब की तरफ से अमेरिका दौरे के लिए गिफ्ट किया गया था।

इमरजेंसी लैंडिंग के बाद पाक पीएम न्यूयॉर्क में हवाई अड्डे से होटल में सुरक्षित रूप से पहुंचे, जबकि उनके हवाई जहाज को जल्द से जल्द ठीक करने की कोशिश की गई।

हर साल की तरह इस साल भी प्याज ने आम जनता के आँसु निकानले में कोई भी कसर नहीं छोड़ी है। प्याज के दामों में बढ़ोतरी के चलते आम जनता को एक बार फिर से बहुत सी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। इसी को ध्यान में रखते हुए दिल्ली सरकार आम जनता को राहत देने के लिए शनिवार से 23.90 प्रति किलो के दर से प्याज की बिक्री शुरु करने जा रही है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इस को लेकर शुक्रवार को जानकारी देते हुए कहा है कि हर परिवार को 5 किलो प्याज खरीदने की अनुमति होगी।

देश की राजधानी दिल्ली में प्याज के दाम अभी भी आसमान को छू रहे है। दिल्ली में प्याज के भाव में पिछले तीन दिनों में 1 रुपए की गिरावट आई है।

हालांकि प्याज की कीमतों में अब कमी आना शुरु हो गई है। आपको बता दें दिल्ली समेत महाराष्ट्र और कोलकाता में भी प्याज के दामों भारी बढ़ोतरी हो रखी है। देशभर में प्याज के कारोबार के लिए सबसे चर्चित थोक मंडी महाराष्ट्र के लासलगांव में कीमतें घटने लगी है और ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि इसका असर धीरे-धीरे हर जगह पडेगा जिससे प्याज की कीमतों में भारी गिरावट आएगी।

जोधपुर के बालसेर के पास एक बड़े सड़क हादसे में करीब 16 लोगों की मौत हो गई। जानकारी के अनुसार इस घटना में 12 से ज्यादा लोग बुरी तरह घायल गए। बालसेर थाना क्षेत्र के ढाढणिया के पास NSI 125 पर बस और बोलेरो में बहुत ही बुरी तरह टक्कर हो गई। टक्कर इतनी भीषण थी कि 13 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई।

दुर्घटना में मृतकों और बुरी तरह घायल हुए लोगों की सूचना मिलने पर पुलिस ने घटनास्थल पर पंहुचकर कर पूरे मामले की छानबीन कर घायलों को बालेसर के अस्पताल में पहुंचाया। घटनास्थल पर मौजूद लोगों का कहना है कि टक्कर इतनी भीषण है कि मरने वालों की संख्या अभी और बढ़ सकती है।

आपको बता दें कि सड़क हादसों को लेकर लगातार ऐसी घटनाएं बढ़ती जा रही है। गुरुवार को ही राजस्थान के जोबनेर में ट्रक और जीप की टक्कर से करीब 7 लोगों की मौत हो गई थी, जिसमें 4 पुरुष और 3 महिला शामिल थी।

जोधपुर में हुए हादसे में स्थानिय पुलिस घटना में मरने वाले और घायलों की एक सूची बना रही है और साथ ही साथ इनके परिवार वालों से संपर्क करने की कोशिश भी कर रही है।

Page 1 of 2