नेशनल कॉन्फ्रेंस के दफ्तर व अब्दुल्ला का घर अवैध, होगी जांच

 

-अक्षत सरोत्री

 

जब से धारा-370 हटी और गुपकार गठबंधन बना है गठबंधन के लोगों पर लगातार कार्रवाई हो रही है चाहे वो ईडी की हो या किसी और विभाग की। आज एक नई बात पर खुलासा हुआ है जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारुक अब्दुल्ला के घर को लेकर नई बात सामने आई है। कहा जा रहा है की उनका घर अवैध रूप से बना है और इसके अलावा जम्मू वाला बंगला फ़ॉरेस्ट की ज़मीन पर है। बाजार में अभी इस जमीन की कीमत 10 करोड़ रुपये है।

 

रोशनी घोटाला सामने आने के बाद पता चल रही हैं बड़ी बातें

 

 

 

 

नेशनल कॉन्फ्रेंस का जम्मू और श्रीनगर वाला ऑफिस भी सरकारी जमीन पर गैरकानूनी तरीके से बना है। राजस्व विभाग की जांच में ये बड़ा खुलासा हुआ है। रोशनी एक्ट के नाम पर कश्मीर के बड़े बड़े लोगों ने औने पौने दाम पर करोड़ों के सरकारी ज़मीन ली है। जम्मू कश्मीर हाई कोर्ट के आदेश पर ऐसे लोगों के नाम अब सार्वजनिक किए जा रहे हैं। जम्मू कश्मीर के सीएम रहे फारूक अब्दुल्ला का जम्मू में आलीशान बंगला है।

 

 

राजस्व विभाग की जांच में हुआ है खुलासा

 

 

राजस्व विभाग की जांच में खुलासा हुआ है कि फारूक अब्दुल्ला का श्रीनगर वाला घर फॉरेस्ट लैंड पर बना है जबकि नेशनल कॉन्फ्रेंस का श्रीनगर वाला ऑफिस रोशनी एक्ट का उल्लंघन कर बनाया गया है। बताया जा रहा है कि फारूक ने 1998 में अलग-अलग लोगों से तीन कैनाल जमीन खरीदी और बाद में वन विभाग की सात कैनाल जमीन पर कब्जा कर लिया। बाजार में अभी इस जमीन की कीमत 10 करोड़ रुपये है। नेशनल कॉन्फेंस के नेता और पूर्व सीएम फारूक अब्दुल्ला का घर ही नहीं उनकी पार्टी का ऑफिस भी गैरकानूनी तरीके से बना है वो भी सरकारी ज़मीन पर कब्जा कर।

 

 

श्रीनगर का दफ़्तर रोशनी एक्ट में फर्ज़ीवाडा कर बनाया गया

 

जम्मू और श्रीनगर में बना नेशनल कॉन्फ्रेंस का दफ़्तर रोशनी एक्ट में फर्ज़ीवाडा कर बनाया गया है. 2001 में राज्य में नेशनल कॉन्फ्रेंस की सरकार थी. तब एक कानून पास किया गया था. जिसमें सरकारी जमीन पर कब्जा करने वालों को एक निश्चित रकम जमा करने पर मालिकाना हक देने का नियम बना. बाद में मुफ़्ती मोहम्मद सईद और गुलाम नबी आज़ाद की सरकारों ने भी ये कानून बनाए रखा. कानून बनाते समय ये बात कही गई थी कि इससे सरकार को 25000 करोड़ रुपये का राजस्व हासिल होगा. इस पैसे से राज्य में पनबिजली परियोजनायें शुरू की जाएंगी।

 

 

मुझे परेशान करने की हो रही कोशिश- फारूक अब्दुल्ला

 

 

जम्मू-कश्मीर के रोशनी घोटाले पर राजनीतिक बयानबाजी तेज हो गई है। अब इस मामले में पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला ने सफाई दी है। फारूक अब्दुल्ला ने कहा है कि मुझ पर लगे सभी आरोप बेबुनियाद हैं। रोशनी घोटाले में फायदा उठाने वालों में नाम आने पर फारूक अब्दुल्ला ने कहा है कि इलाके में सिर्फ मेरा ही घर नहीं है बल्कि सैकड़ों घर हैं। फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि ये मुझे परेशान करने की कोशिश है, उन्हें करने दीजिए।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *