देश में कोरोना ने तोड़ दिए सारे रिकॉर्ड, 1 दिन में 90 हजार मरीज तो 13 दिन में 10 लाख संक्रमित आए सामने

Spread the love

रवि श्रीवास्तव

देश में कोरोना ने सबसे डरावनी रफ्तार पकड़ ली है, ये रफ्तार यूंहीं बरकरार रही और कोरोना की चैन नहीं टूटी तो जल्द भारत अमेरिका को पछाड़ कर दुनिया में कोरोना के मामले में नंबर-1 पर आ जाएगा। आकड़ों में देश ब्राजील को पीछे छोड़ विश्व में दूसरा सबसे ज्यादा संक्रमित देश बन गया है

24 घंटे में 90 हजार मरीज

शनिवार को कोरोना ने भारत में अब तक सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए, एक ही दिन में यहां करीब 90 हजार संक्रमित मरीज सामने आए, हैरानी ये है कि इनमें 20 हजार से ज्यादा मरीज अकेले महाराष्ट्र से दर्ज हुए, इसी के साथ देश में अब तक कुल 41 लाख से ज्यादा कोरोना मरीज सामने आ गए हैं. वहीं उत्तर प्रदेश में भी रिकॉर्ड संख्या में नए मामले मिले हैं। राज्य में एक दिन में पहली बार 6692 नए संक्रमित पाए गए हैं।

13 दिन में 10 लाख लोग संक्रमित 

कोरोना के बढ़ते मामले किस स्पीड से बढ़ रहे हैं..इसका अंदाजा ऐसे लगाइए कि मौजूदा वक्त में महज 13 दिनों में 10 लाख संक्रमित सामने आए हैं..महज 13 दिन के भीतर मरीजों का आंकड़ा 30 लाख से 40 लाख पर पहुंचा था।बीते कई रोज से देश में हर दिन मामले 80 हजार के पार जा रहे हैं..जो अपने आप में चौंकाने वाला है, सरकार इसकों लेकर बढ़ती टेस्टिंग की संख्या को जिम्मेदार बता रही है 

कहां पहुंची रिकवरी रेट ?

भले ही मामले बढ़ रहे हों..लेकिन अच्छी बात यह भी है कि रोज रिकॉर्ड संख्या में मरीज ठीक भी हो रहे हैं।संक्रमितों का आंकड़ा 41 लाख 831 हो गया है। इस दौरान 71,189 मरीजों को अस्पतालों से छुट्टी भी मिली है और अब तक स्वस्थ होने वाले मरीजों की संख्या भी 31 लाख 78 हजार 110 हो गई है। सक्रिय मरीज आठ लाख 52 हजार 125 रह गए हैं। अब तक 70,596 लोगों की जान भी जा चुकी है

वैक्सीन इस साल मिलना मुश्किल-who

महामारी के इस सकंट काल में टेंशन इसलिए भी ज्यादा है क्योंकि विश्व स्वास्थ्य संगठन ने ये साफ कर दिया है कि इस साल के अंत तक हर देश में वैक्सीन पहुंचना संभव नहीं है, इसके लिए अभी इंतजार करना पड़ेगा। Who के मुताबिक वैक्सीन के ट्रायल फेज को पूरा होने में और मार्केट में आने में 2021 तक का समय लगेगा,यानि अगले साल तक ही हर मुल्क में वैक्सनी पुहंचेगी और कोरोना महामारी से निजात मिलेगी, फिल्हाल हर देश को सोशल वैक्सीन से ही खुद को बचाना होगा

 

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *