बिहार में एक बार फिर से एनडीए बना सकता है सरकार

Exit Poll
Share

 

-अक्षत सरोत्री

 

Exit Poll: बिहार चुनाव का आज मतदान का अंतिम दिन था जिसके अनुसार JK 24X7 NEWS के अनुसार एनडीए गठबंधन सरकार बना सकता है।

 

Exit Poll

 

गौरतलब है की बिहार में 243 सीटों पर चुनाव हुआ है और 10 नवंबर को चुनाव के नतीजे आएंगे। 122 का जादुई आकंड़ा छूने के लिए राजनितिक दलों को कड़ी मेहनत करनी पड़ेगी लेकिन JK 24X7 NEWS के आंकड़ों के अनुसार जिस आधार पर एग्जिट पोल किया गया है उसमें एनडीए को 120 से 130 सीटें मिलने आसार बन रहे हैं। सर्वे के अनुसार महागठबंधन को 84 से 95 सीटें मिलने का अनुमान बन रहा है।

 

Exit Poll

राजनितिक दलों के अनुसार देखा जाये तो भाजपा को 61 से 70 सीटें,

 

Exit Poll

 

जेडीयू को 41 से 50 सीटें, आरजेडी को 63 से 72 सीटें,

 

Exit Poll

 

कांग्रेस को 10 से 19 सीटें मिलने के आसार हैं।

 

Exit Poll

 

वही आरजेडी को 63 से 72 सीटें मिलने का अनुमान है।

 

Exit Poll

 

लेफ्ट को 0 से 5 सीटें,

 

Exit Poll

 

और एलजेपी को 2 से 12 सीटें मिल सकती हैं।

 

Exit Poll

 

वही अन्य दलों को  03 से 12 सीटें मिल सकती है।

 

Exit Poll

 

जैसा कि अभी तक के आकड़ें सामने आये है उनके अनुसार फिलहाल यह कहना मुश्किल है कि 122 का जादुई आंकड़ा कौन कैसे छू सकता है।

 

कौन-कौन है मुख्य चेहरे सामने

 

इस बार के चुनाव में मुख्‍यमंत्री व जनता दल यूनाइटेड सुप्रीमो नीतीश कुमार राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन के तो राष्‍ट्रीय जनता दल के नेता तेजस्‍वी यादव विपक्षी महागठबंधन के मुख्‍यमंत्री चेहरा हैं। जन अधिकार पार्टी के अध्‍यक्ष पप्‍पू यादव तथा राष्‍ट्रीय लोक समता पार्टी के सुप्रीमो उपेंद्र कुशवाहा अपने-अपने गठबंधनों के मुख्‍यमंत्री चेहरा बनाए गए हैं। इन सबों के बीच एक और मुख्‍यमंत्री चेहरा हैं ‘प्‍लुरल्‍स’ की पुष्‍पम प्रिया चौधरी। घोषित तौर पर तो नहीं, लेकिन लोक जनशक्ति पार्टी के अध्‍यक्ष चिराग पासवान भी मुख्‍यमंत्री की दौड़ में शामिल बताए जा रहे हैं।

 

2015 में किस पार्टी को कितनी मिली थी सीटें

 

 

2015 बिहार चुनाव में आरजेडी को 80
जेडीयू – 71
बीजेपी – 53
कांग्रेस – 27
एलजेपी – 2
हम – 1
रलोसपा – 2
लेफ्ट – 3
अन्य – 4

 

2015 में वोट प्रतिशत

 

 

बीजेपी को 2015 विधानसभा चुनाव में 24.8 प्रतिशत
आरजेडी – 18.5 प्रतिशत
जेडीयू – 16.7 प्रतिशत
कांग्रेस – 6.7 प्रतिशत
एलजेपी – 4.8 प्रतिशत
हम – 2.2 प्रतिशत
रलोसपा – 2.6 प्रतिशत
लेफ्ट – 1.5 प्रतिशत
अन्य – 9.4 प्रतिशत

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *