राजस्थान में पुजारी को जिंदा जलाने वाले मामले पर मचा सियासी घमासान, बीजेपी ने गहलोत सरकार और कांग्रेस को घेरा

Spread the love

रवि श्रीवास्तव 

राजस्थान के करौली में हुई पुजारी की हत्या मामले ने अब सियासी तूल पकड़ लिया है, बीजेपी अब इस मुद्दे को लेकर गहलोत सरकार पर जमकर हमलावर है। बीजेपी अब पूरे मामले को लेकर राज्यव्यापी प्रदर्शन करने की तैयारी में हैं, वहीं बीजेपी का एक प्रतिनिधिमंडल पीड़ित परिवार से भी मुलाकात करेगा ।

क्या है पूरा मामला ?

राजस्थान के करौली के बूकना गांव के एक पुराने राधाकृष्ण मंदिर में पुजारी बाबूलाल वैष्णव पूजा करते थे। मंदिर के जमीन पर गांव के ही कुछ लोग कब्जा करना चाहते थे, जिसका विरोध पुजारी बाबूलाल कर रहे थे। जानकारी के मुताबिक पुजारी के लाख विरोध के बाद भी जब दबंग नहीं माने तो पुजारी बाबूलाल ने पंचों को अपनी व्यथा बताई…गांव के 100 घरों की बैठक हुई थी, जिसमे पंचों ने पुजारी का समर्थन किया था।ये बात दबंगों को नागवार गुजरी और दंबगों ने पुजारी को जिंदा जला दिया।

 धार्मिक संगठनों में आक्रोश 

इस पूरे मामले ने अब सियासी तूल भी पकड़ लिया है, सीएम गहलोत निष्पक्ष और कड़ी कार्रवाई की बात कर रहे हैं..लेकिन कई संगठन अब इसकों लेकर सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल रहे हैं, कई संगठनों ने इसकों लेकर प्रशासन को ज्ञापन  भी सौंपा, तो वहीं राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री ने इसकों लेकर गहलोत सरकार पर हमला किया है

प्रकाश जावड़ेकर ने राहुल गांधी पर साधा निशाना

पूरे मामले को लेकर जहां राज्य की बीजेपी इकाई एक्टिव हो गई है, सीएम पर हमलावर है तो वहीं अब इस मामले में केंद्रीय नेतृत्व ने भी राहुल गांधी को आड़े हाथ लेना शुरू कर दिया है, पालघर साधु हत्या मामले के बाद एक बार फिर केंद्रीय मंत्री जावड़ेकर ने कांग्रेस शासित प्रदेश का हवाला देकर राहुल गांधी पर हमला किया है उन्होंने कहा कि राजस्थान में कानून-व्यवस्था पूरी तरह ध्वस्त हो चुकी है। ऐसे में कांग्रेस नेता राहुल गांधी को राजनीतिक दौरों पर जाने के बजाय इन मुद्दों पर संज्ञान लेना चाहिए। उन्हें या तो राजस्थान सरकार से इस्तीफा देने के लिए कहना चाहिए या इसकी बेहतरी के लिए प्रयास करने चाहिए।

वसुंधरा राजे ने किया ट्वीट

राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने ट्वीट करते हुए लिखा कि करौली जिले के सपोटरा में मंदिर के पुजारी को जिंदा जलाकर मौत के घाट उतार देने के मामले की जितनी निंदा की जाए, जितना दुःख जताया जाए, कम है। उन्होंने लिखा कि राजस्थान में अपराध का ग्राफ जिस गति से बढ़ रहा है, उससे एक बात तो स्पष्ट है कि यहां महिलाएं, बच्चे, बूढ़े, दलित, व्यापारी कोई भी सुरक्षित नहीं है। राज्य की कांग्रेस सरकार को अब अपनी गहरी नींद को त्यागते हुए दोषियों को सख्त सजा दिलाकर परिवार को तुरंत न्याय दिलाना चाहिए

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *