Exclusive : अनंतनाग में सेना संग मुठभेड़ में मारा गया एक आतंकी, कल ही आतंकी के सरेंडर का वीडियो हुआ था वायरल, देखिए जब फूट-फूटकर रोने लगा था आतंकी

Spread the love

रवि श्रीवास्तव

जम्मू कश्मीर में एक बार फिर आतंकियों और सुरक्षाबलों की मुठभेड़ हो गई, जिसमें एक आतंकी मारा गया, ये मुठभेड़ दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग जिले में हुई, जानकारी के मुताबिक मुठभेड़ उस वक्त शुरु हो गई.. जब सुरक्षाबलों ने आतंकवादियों की सूचना पाकर विशेष तलाशी अभियान शुरू करते हुए इलाके की घेराबंदी कर दी…जैसे ही सुरक्षा बल उस स्थान पर पहुंचे, जहां आतंकवादी छिपे हुए थे, आतंकवादियों ने अंधाधुंध गोलीबारी करनी शुरू कर दी, जिससे मुठभेड़ शुरू हो गई.

सेना ने एक बयान में कहा, ‘जम्मू-कश्मीर पुलिस की सूचना के आधार पर आज सुबह एक संयुक्त अभियान शुरू किया गया. इलाके की घेराबंदी की गई और आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ शुरू हो गई.’ बयान में कहा गया, ‘एक आतंकवादी मारा गया है.जिसके पास से हथियार भी बरमाद हुआ है

एक आतंकी के सरेंडर वाला वीडियो भी वायरल
सोशल मीडिया पर एक आतंकी के सरेंडर का वीडियो भी ट्रेंंड कर रहा है, वीडियो में मजर आ रहा है कि आतंकी ने सुरक्षा के सामने ना केवल हथियार डाले बल्कि सरेंडर कर दिया, सरेंडर करने के बाद आतंकी पिता के गले लगकर अफसोस जताता हुआ भी नजर आ रहा है, वीडियो की घटना इसी शुक्रवार को बडगाम के चंडूरा में देखने को मिली.आतंकी के मन से सरेंडर का डर निकालने के लिए सुरक्षाबल ने उसे दूर से कहा कि कोई उसे नहीं मारेगा, बस वह हथियार डाल दे. सुरक्षा बलों की यह कोशिश रंग लाई और आतंकी ने सरेंडर कर दिया.

वीडियो में क्या है ?

वीडियो में सुरक्षाकर्मी आतंकी से कहता है.. इधर आ इधर आ…इधर-इधर…कोई नहीं चलाएगा…कोई फायर नहीं करेगा…आजा इधर आ जा छोटू…ऑल पार्टी क्वाइट, जहांगीर पीछे देखो… पेंट पहनो अपना पेंट पहनो…और आगे आओ, इधर ही आगे आओ…बस आते रहो…जर्सी छोड़ दो, जर्सी छोड़ दो. ऊपर करो हाथ कोई और नहीं है? वेपन है? वहीं है…कोई बात नहीं है…कुछ नहीं होगा बेटा…एकदम आराम से..आ जाओ…शाबाश-शाबाश…अरे उसका वेपन उठाओ.

जब फूट-फूट कर रोने लगा घाटी का आतंकी
सरेंडर करने के बाद सुरक्षाबलों ने मानवता की मिसाल पेश की, सबसे पहले सुरक्षाबलों ने आतंकी को पानी पिलाया , सुरक्षाबलों को कहते सुना जा सकता है कि आराम से बेटा…तुम चिंता मत करो…पानी दो ऐ पानी लाओ…सारे दूर रहो…सारे दूर हो जाओ प्लीज…वेपन है? इसके बाद आतंकी इशारा करता है और सुरक्षाकर्मी उस ओर जाकर उसके हथियार उठा लेते हैं. आतंकी के सरेंडर करने के बाद उसके पिता उसे गले लगाते हैं. पिता को गले लगाते ही आतंकी फूट-फूटकर रोने लगता है. वीडियो कई माइने में संदेश है, कि घाटी में आतंकियों के सीने सुरक्षाबल छल्ली तो करते हैं, लेकिन असल माइने में मारने का दर्द उन्हें भी होता है, अगर आतंकी सरेंडर का रास्ता अपनाए, तो उसके संग भी सेना जहांगीर जैसा ही व्यवहार करेगी, बशर्ते आप आतंक का रास्ता छोड़ना चाहते हो

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *