त्योहारों के चलते खतरनाक हो सकता है कोरोना संक्रमण, दो गज की दूरी, मास्क है जरूरी : डॉ. हर्षवर्धन

Spread the love

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने आज अपने पांचवें संडे संवाद कार्यक्रम को संबोधित किया। संडे संवाद कार्यक्रम के तहत स्वास्थ्य मंत्री लोगों के सवालों के जवाब देते हैं और स्वास्थ्य से जुड़े कई मुद्दों पर अपनी राय रखते हैं। इस कार्यक्रम के दौरान स्वास्थ्य मंत्री ने चेताते हुए कहा कि त्योहारों के मौसम में अगर लोगों ने लापरवाही की और कोरोना से बचाव के उपाय नहीं अपनाए तो यह माहमारी देश में और भी ज्यादा खतरनाक रूप ले सकती है।उन्होंने कहा कि इस समय कोरोना के खिलाफ लड़ाई ही पूरी दुनिया के लिए सर्वोपरि धर्म है। इसलिए मैं कहूंगा कि त्योहारों के दौरान ‘दो गज की दूरी, मास्क है जरूरी’ का पालन जरूर करें। बाहर जाने के बजाय घर पर रहकर परिवार के साथ त्योहार मनाएं।

 

दरअसल, देश में कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं और अगले हफ्ते से त्योहारों का सीजन शुरू हो जाएगा। ऐसे में आशंका जताई जा रही है कि सर्दी में कोरोना के मामले और ज्यादा बढ़ सकते हैं। उन्होंने कहा कि SARS Cov 2 एक रेस्पिरेट्री वायरस है और ऐसे वायरस को ठंड के मौसम में बढ़ने के लिए जाना जाता है।

 

डॉ. हर्षवर्धन ने लोगों को आगाह किया कि आप इसे मेरी चेतावनी समझ लें या फिर सलाह, लेकिन अगर त्योहारों के दौरान हमने लापरवाही बरती तो कोरोना फिर से विकराल हो जाएगा। आने वाले समय में दशहरा, धनतेरस और दिवाली जैसे बड़े त्योहार आने वाले हैं, जिसमें लोग बाजार करने के लिए घरों से बाहर निकलते हैं।

 

नवरात्रि, दुर्गा पूजा, दशहरा, दीवाली, छठ जैसे त्योहारों को देखते हुए देश में कोरोना के मामले बढ़ सकते हैं। इसलिए मैं कहूंगा कि त्योहारों के दौरान ‘दो गज की दूरी, मास्क है जरूरी’ का पालन जरूर करें। बाहर जाने के बजाय घर पर रहकर परिवार के साथ त्योहार मनाएं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *