पाकिस्तान के डिफेंस एक्सपर्ट ने माना, भारत ने बालकोट में 300 को था मारा

Balakotairstrike

 

 

 

-अक्षत सरोत्री

 

 

पुलवामा हमले के बाद भारतीय वायुसेना की और से की गई बालाकोट पर एयर स्ट्राइक (Balakotairstrike) पर पाकिस्तान आजतक कबुल नहीं करता है कि कोई भी मारा गया हो। उस समय तो पाकिस्तान ने कोरा झूठ बोला था कि भारतीय जहाज आए और जंगल में विस्फोट करके चले गए। जब इंटरनेशनल मिडिया ने उस जगह कहने की बात कही तो पाकिस्तान मामले पर टाल-मटोल कर दी। लेकिन अब पाकिस्तान के एक राजनायक का बयान आया है कि भारत ने सफल सर्जिकल स्ट्राइक की थी। भारतीय वायुसेना ने 26 फरवरी 2019 को बालाकोट एयरस्ट्राइक में पाकिस्तान के 300 आतंकवादियों को मार गिराया था।

 

 

 

इस राजनायक ने दिए सफल एयर स्ट्राइक के सबूत

 

 

इस घटना के लगभग 2 साल बाद पाकिस्तान के (Balakotairstrike ) पूर्व राजनयिक और पोलिटिकल एनालिस्ट जफर हिलाली ने पाकिस्तान की पोल खोलकर रख दी है। उन्होंने एक न्यूज चैनल के साथ लाइव बातचीत में कबूल किया हि भारत के एयर स्ट्राइक में उनके 300 लोग मारे गए। हिलाली ने इमरान खान के भारत के सर्जिकल स्ट्राइक वाले बयान पर डिबेट करते हुए एक न्यूज चैनल पर कहा कि भारत ने अंतरराष्ट्रीय सीमा को पार कर युद्ध अपराध किया। इसमें हमारे 300 लोग मारे गए।

 

 

 

लाइव डिबेट में बोले, हमने जवाब क्यों नहीं दिया

 

 

हमने क्यों नहीं भारत पर हमला किया? इसलिए नहीं किया न, क्योंकि हमने यह स्वीकार किया कि सर्जिकल स्ट्राइक (Balakotairstrike ) …लिमिटेड ऐक्शन…ओ हो, देखो-देखो कोई नहीं मारा। भाई, ये क्या बात है। हमारा जो नपा-तुला रिस्पांस था, उसको हमने क्यों नहीं किया? उन्होंने कहा कि हमने सर्जिकल स्ट्राइक को स्वीकार करके, हमने उनको (भारत को) टेलिग्राफ किया है कि तुम जो भी करो, हम उतना ही करेंगे, ज्यादा नहीं करेंगे। नहीं-नहीं फिकर मत करो। हम तनाव को नहीं बढ़ाएंगे। उन्होंने इमरान खान से सवाल करते हुए कहा कि इसका क्या मतलब है।

 

BLACKOUT: पाकिस्तान में बिजली गुल, अंधेरे में डूबे कई बड़े शहर

 

 

 

पाकिस्तान में डिफेंस का जाना पहचाना चेहरा हैं जफर हिलाली

 

 

वे अक्सर मीडिया डिबेट्स में पाकिस्तानी सेना का पक्ष लेते हुए दिखाई देते हैं। ऐसा कहा जाता है कि हिलाली की पाकिस्तानी सेना में गहरी पैठ है। जिसके दम पर उनके पास सेना से जुड़ी हुई ऐसी सूचनाएं भी होती हैं, जो आम लोगों के बस की बात नहीं होतीं। वे यमन, नाइजीरिया और इटली में पाकिस्तान के राजदूत भी रह चुके हैं। भारत के बालाकोट एयर स्ट्राइक के समय तब पाकिस्तानी सेना और इमरान खान सरकार ने किसी भी मौत से इनकार किया था।

 

किसान आंदोलन को लेकर प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन को भेजा 100 हस्ताक्षर वाला पत्र

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *