UN में पाक की साजिश नाकाम, सिक्योरिटी काउंसिल ने 2 भारतीयों को आतंकी घोषित करने की पाकिस्तान की मांग ठुकराई

Spread the love

पाकिस्तान की भारत के खिलाफ एक और नापाक साजिश नाकाम हो गई है. पाकिस्तान संयुक्त राष्ट्र की 1267 कमेटी के तहत दो भारतीयों के नाम संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) की अंतर्राष्ट्रीय आतंकियों की लिस्ट में शामिल करवाने में फेल हो गया.

संयुक्त राष्ट्र में यूनाइटेड किंगडम, अमेरिका, फ्रांस, जर्मनी और बेल्जियम ने पाकिस्तान के दावे खारिज कर दिया और कहा कि पाकिस्तान के पास इन भारतीयों को आंतकी घोषित करने के लिए कोई सबूत नहीं हैं.

पाकिस्तान दो भारतीय नागरिकों गोबिंदा पटनायक और अंगारा अप्पाजी के नाम को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की आतंकवादियों की लिस्ट में शामिल करवाना चाहता था. संयुक्त राष्ट्र के सदस्यों ने पाकिस्तान को इन दोनों भारतीयों के खिलाफ सबूत पेश करने का वक्त भी दिया था लेकिन वो ऐसा करने में असफल रहा. पाकिस्तान द्वारा सबूत इकट्ठा करने तक इस मामले को होल्ड पर रखा गया था, लेकिन पाकिस्तान कोई सबूत पेश नहीं कर सका.

संयुक्त राष्ट्र में भारत के राजदूत ने ट्वीट करके कहा, ‘आतंकवाद को धार्मिक रंग देकर 1267 विशेष प्रक्रिया का राजनीतिकरण करने की पाकिस्तान की घिनौनी कोशिश को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने नाकाम कर दिया है. हम उन सभी परिषद सदस्यों को धन्यवाद देते हैं जिन्होंने पाकिस्तान की इस कोशिश को रोका.’

खास बात यह है कि पाकिस्तान ने इस साल लगातार दूसरी बार भारतीय नागरिकों को आतंकवादी घोषित कराने की कोशिश की और दोनों ही बार उसकी चाल नाकाम हो गई. जनवरी में उसने दो भारतीय नागरिकों अजॉय मिस्त्री और वेणु माधव डोंगरा की गतिविधियों को संदिग्ध बताते हुए इन्हें आतंकी घोषित करने का प्रस्ताव पेश किया था. लेकिन, तब भी यह चाल उल्टी साबित हुई.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *