PARLIMENTRY SESSION : किसान आंदोलन को लेकर बोले पी.एम मोदी ‘आंदोलन में बुजुर्गों का बैठना ठीक नहीं,

 

PARLIMENTRY SESSION -किसान आंदोलन को लेकर चल रहा राजनीतिक घमासान अब लगातार बढ़ता ही जा रहा है. आज किसान आदोंलन को 7 दिन पूरे हो चुके है. आदोंलन को लेकर लगातार संसद के दोनों सदनों में हंगामा बरपा हुआ है. बीते शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लोकसभा में जवाब देना था, लेकिन लगातार तीन दिन तक हंगामे की वजह से सदन की कार्यवाही नहीं चल सकी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज राज्यसभा में बोल रहे हैं.

 

प्रधानमंत्री ने अपने भाषण में किसान आदोंलन का जिक्र करते हुए कहा किकृषि मंत्री किसान नेताओं से लगातर बात कर रहे हैं. कोई तनाव नहीं है. बातें समझने-समझाने का प्रयास चल रहा है. आंदोलन कर रहे लोगों से कहता हूं कि बुजुर्ग लोगों को वहां से भेजा जाए. आंदोलन को खत्म करके बातचीत से समाधान निकाला जाए.

 

 

कोरोना काल के बीच उत्तर प्रदेश में 10 फरवरी से खुलेंगे स्कूल, जानिए गाइडलाइन

 

प्रधानमंत्री ने MSP यानि न्यूनतम समर्थन मूल्य का जिक्र करते हुए कहा MSP था MSP है और MSP रहेगा. सदन की पवित्रता समझें. 80 करोड़ को सस्ता राशन मिलता है. वह भी जारी रहेगा. अगर सुधारों में देर की जाएगी तो किसान अंधकार की तरफ चले जाएंगे. इससे बचना चाहिए.

 

साथ ही प्रधानमंत्री ने जिक्र किया श्रमजीवी, बुद्धिजीवी से हम परिचित हैं. लेकिन अब नई बिरादरी आंदोलन जीवी देखा है. वकील, स्टूडेंट, किसी का भी आंदोलन हो उसमें शामिल हो जाते हैं.

 

FARMER’S PROTEST : किसान आदोंलन को तेज करने पर बन सकती है सलाह, आज सोनीपत में बैठक

मोदी की विपक्ष से अपील – 

किसान आदोंलन को लेकर पीएम मोदी ने विपक्ष से अपील की और कहा हर कानून में अच्छे सुझावों के बाद कुछ समय के बाद बदलाव होते हैं.
इसलिए अच्छा करने के लिए अच्छे सुझावों के साथ, अच्छे सुधारों की तैयारी के साथ हमें आगे बढ़ना होगा. मैं आप सभी को निमंत्रण देता हूं कि हम देश को आगे बढ़ाने के लिए, कृषि क्षेत्र के विकास के लिए, आंदोलनकारियों को समझाते हुए, हमें देश को आगे ले जाना होगा. आइए मिलकर चलें.

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *