पीएम की आईपीएस अधिकारियों को सलाह: सिंघम ना बने, सेवादारों की टोली से रहे दूर

Spread the love

-निशांत राय, संवाददाता

हैदराबाद में सरदार वल्लभभाई पटेल राष्ट्रीय पुलिस अकादमी के आइपीएस प्रोबेशनरों के दीक्षांत परेड समारोह के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से युवा आइपीएस अधिकारियों से बातचीत की । प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन के दौरान हिंदी फिल्म का ‘सिंघम’ का जिक्र करते हुए कहा कि कुछ पुलिस के लोग जब पहले ड्यूटी पर जाते हैं। तो उनको लगता है कि पहले मैं अपना रौब दिखाने का काम कर लूं ।लेकिन ऐसा करने से बचना चाहिए।

वहीं पीएम ने आईपीएस को सलाह देते हुए कहा कि उन्हें सेवादारों की टोली से बचकर रहना चाहिए। पीएम ने कहा कि जब भी बड़े पुलिस- प्रशासनिक किसी नए जिले में पोस्ट होते हैं तो कुछ सेवादारों की टोली अपने आप उनकी सेवा में पहुंच जाती है। वे लोग अफसरों से चिपकने की कोशिश करते हैं।

पीएम ने आईपीएस को उनकी छवि को बेहतर बनाने के लिए कहा कि अकादमी से पास आउट होते आपके लिए चुनौतियां शुरू हो जाएंगी। लोगों का आपको देखने का नजरिया बदल जाएगा। आप किस प्रकार अपने आपको कैसे प्रस्तुत करते हैं? इसको बहुत बारीकी से देखना होगा।इसलिए अपने बोलचाल, रहन सहन, घूमने फिरने और कार्यशैली पर बहुत ध्यान देना होगा। लोगों के दिलोदिमाग में जो आपकी पहली छवि बन जाएगी, वही हमेशा आपके साथ घूमती रहेगी। इसलिए अपनी छवि बनाने के मामले में खासतौर से सजग रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *