वैक्सीनेशन को लेकर 11 को सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बात करेंगे PM मोदी

vaccination

 

 

-अक्षत सरोत्री

 

 

कोरोना के वैक्सीनेशन की तैयारियों (vaccination) को लेकर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी काफी भाग ले रहे हैं। उनकी तरफ से यह कोशिश है कि जल्द से जल्द कोरोना वैक्सीन का टीकाकरण हो जाए ताकि देश को जल्द से जल्द कोरोना मुक्त किया जा सके। इसकी तैयारियों को लेकर खबर आ रही है कि मोदी जल्द ही सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बात करेंगे।

 

 

ईरान ने अमेरिका और ब्रिटेन की कोरोना वैक्सीन वैक्सीन पर लगाई रोक

 

 

ड्राई रन चल रहा है कई राज्यों में

 

 

वैक्सीनेशन (vaccination) के लिए ड्राई रन चल रहे हैं। इन सबके बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 11 जनवरी यानी सोमवार को सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कोरोना टीकाकरण की तैयारियों को लेकर चर्चा करेंगे। मुख्यमंत्रियों के साथ प्रधानमंत्री की यह बैठक सोमवार शाम 4 बजे से शुरू हो सकती है। शुक्रवार से वैक्सीनेशन के लिए जरूरी लॉजिस्टिक्स की तैयारी भी शुरू हो चुकी है। सभी राज्यों में ड्राई रन के रूप में कोरोना टीकाकरण का पूर्वाभ्यास भी हो चुका है।

 

 

 

33 राज्यों में चल रहा है वैक्सीनेशन

 

 

यूपी और हरियाणा को छोड़कर देश के बाकी सभी 33 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में कोरोना वैक्सीनेशन का दूसरा देशव्यापी ड्राई रन चला। ये ड्राई रन कुल 736 जिलों में तीन सत्रों में चल रहा है। यूपी और हरियाणा पहले ही ड्राई रन कर चुके हैं। कोरोना वैक्सीनेशन के ड्राई रन के दौरान अलग-अलग राज्यों से जो शिकायतें आईं हैं, उन्हें ठीक किया जा रहा है। ड्राई रन से पहले ही कुछ राज्यों ने सॉफ्टवेयर, कनेक्टिविटी और ब्रॉडबैंड से जुड़ी समस्याओं पर चिंता जता चुके हैं।

 

 

 

 

पहला ड्राई रन 29 दिसंबर को शुरू हुआ था

 

 

देश में कोरोना वैक्सीनेशन (vaccination) के लिए पहला ड्राई रन 28-29 दिसंबर को 8 जिलों में हुआ था। पहला देशव्यापी ड्राई रन 2 जनवरी को 74 जिलों में हुआ था। ड्राई रन के जरिए वैक्सीनेशन के लिए सरकार की तरफ से बनाए गए ऐप ‘कोविड वैक्सीन इंटेलिजेंस नेटवर्क (Co-WIN)’ का भी टेस्ट किया जा रहा है। कोविन के जरिए ही उन लोगों का रजिस्ट्रेशन होगा जिन्हें टीका लगनी है और रियल टाइम में ऐसे लोगों की ट्रैकिंग हो सकेगी। पहले चरण का टीकाकरण पूरी तरह मुफ्त होगा। आगे के चरणों को लेकर सरकार ने अभी कोई फैसला नहीं किया है।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *