सूर्य ग्रहण 2021: आज साल का पहला सूर्य ग्रहण, गर्भवती महिला ग्रहण के दौरान इन बातों का रखें ध्यान!

करिश्मा राय

 

हिंदू पंचांग के अनुसार, साल का पहला सूर्य ग्रहण 10 जून यानी आज लगने वाला है. आज ज्येष्ठ मास की कृष्ण पक्ष की अमावस्या तिथि है. इसके अलावा आज शनि जयंती और वट सावित्र‍ि व्रत भी है. 10 जून को लगने वाला ये सूर्य ग्रहण उत्तरी अमेरिका, यूरोप, एशिया में आंशिक रूप में दिखाई देगा. जबकि ग्रीनलैंड, उत्तरी कनाडा और रूस में पूर्ण सूर्य ग्रहण देखने को मिलेगा. वहीं भारत में सिर्फ लद्दाख और अरुणाचल प्रदेश में दिखाई देगा.

 

सूर्यग्रहण समय (10 जून 2021)– दोपहर 1:42 मिनट पर लगेगा और शाम 6 बजकर 41 मिनट पर खत्म होगा.

 

क्या हैं सूतक के नियम?

सूर्य ग्रहण का सूतक ग्रहण से 12 घंटे पहले शुरू हो जाता है. शास्त्रों के अनुसार सूतक के नियम वहीं माने जाते हैं, जहां ये ग्रहण दिखाई देता है. भारत में यह सूर्य ग्रहण आंशिक रूप से होगा  इसलिए सूतक काल मान्य नहीं होगा. हालांकि बावजूद इसके सुरक्षा को मद्देनजर सूर्य ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाओं को कुछ बातों का ध्यान जरुर रखना चाहिए, जिससे गर्भवती महिला और गर्भ में पल रहा शिशू दोनों स्वस्थ रहें.

 

गर्भवती महिलाएं सूर्यग्रहण के दौरान इन बातों का रखें ध्यान:

  • सूर्यग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाओं को घर में ही रहना चाहिए क्योंकि सूर्यग्रहण का गर्भ पर बुरा असर पड़ सकता है.
  • इस दौरान गर्भवती महिलाओं को कोई भी नोकदार चीजें जैसे चाकू, कैंची, सूई का उपयोग नहीं करना चाहिए. कहते हैं कि ऐसा करने पर गर्भ को नुकसान पहुंच सकता है.
  • ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाओं को कुछ भी नहीं खाना चाहिए. क्योंकि ग्रहण के वक्त पड़ने वाली किरणें खाने को खराब कर देती हैं.
  • ग्रहण के वक्त गर्भवती महिलाओं को मुंह में तुलसी रखकर हनुमान चालीसा और दुर्गा स्तुति का पाठ करना चाहिए. ऐसा करने से नकारात्मक शक्तियों का प्रभाव नहीं होता हैं.
  • ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाओं को अपने इष्टदेव के मंत्रों का जाप करना चाहिए. इससे गर्भ का शिशु सुरक्षित रहता है.
  • ग्रहण समाप्त होने के बाद गर्भवती महिलाओं को स्नान जरूर करना चाहिए. मान्यता है कि ऐसा नहीं करने से शिशु को त्वचा संबधी रोग लग सकते हैं.
Share