पंजाब : सिद्धू और कैप्टन के बीच तकरार अब भी जारी, मंत्री बोले किसी को नहीं तोड़ने दूंगा पार्टी

 

पंजाब कांग्रेस में जारी कलह अभी खत्म होने का नाम नहीं ले रही है. पंजाब कांग्रेस के नए अध्यक्ष बनने के बाद नवजोत सिंह सिद्धू और कैप्टन अमरिंदर सिंह के बीच अब भी तकरार जारी है. लेकिन अब मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह सिद्धू द्वारा उनके ऊपर किए गए ट्वीट के लिए सार्वजनिक तौर पर माफी की मांग कर रहे हैं. अपनी बातों पर अड़े रहने से कैप्टन अमरिंदर पर लगातार नए कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष का बिना शर्त स्वागत करने का दबाव बन रहा है.

 

‘ किसी को पार्टी नहीं तोड़ने दूंगा’ 

 

कांग्रेस में जारी कलह के बीच कैबिनेट मंत्री सुखजिंदर रंधावा ने कहा कि वे पार्टी की एकता के लिए हैं और किसी को भी पार्टी को विभाजित करने की अनुमति नहीं देंगे, चाहे वह कैप्टन अमरिंदर सिंह ही क्यों न हों. उन्होंने कहा कि वह पार्टी के लिए किसी भी नेता को छोड़ सकते हैं, चाहे वह अमरिंदर सिंह ही क्यों न हों.

 

सिद्धधू और सीएम की मुलाकात को लेकर जोर 

 

इसके साथ ही रंधावा ने मंत्री ब्रह्म मोहिंद्रा को उनके उस बयान पर नसीहत दी जिसमें उन्होंने कहा था कि वह (ब्रह्म मोहिंद्रा) सिद्धू से तब तक नहीं मिलेंगे जब तक वह सीएम के साथ अपने मुद्दे नहीं सुलझा लेते. रंधावा ने कहा कि मोहिंद्रा को इस तरह का बयान देने की जगह सिद्धू को सीएम से मुलाकात के लिए साथ ले जाना चाहिए. उन्होंने यह भी दावा किया कि नवजोत सिंह सिद्धू की ओर से शिष्टाचार भेंट के लिए मोहिंद्रा को भी फोन किया गया था, लेकिन उन्होंने अपनी तबीयत ठीक न होने की बात कहकर मुलाकात से इनकार कर दिया.

Share