एक साल पहले आज ही के दिन पुलवामा में एक आतंकी हमले के चलते CRPF के 40 जवानों ने शहादत दी थी। इस आत्मघाती हमले ने पूरे देश में एक अलग तरह का गुस्सा ला दिया था। सभी देशवासी मानो बदले के अलावा कुछ नहीं देखना चाह रहे थे। ठीक एक साल बाद पूरा देश इन सभी शहीदों को याद कर रहा है। हालांकि दूसरी ओर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर बड़ा हमला बोलते हुए पुलवामा आतंकी हमले को लेकर कई सवाल पूछे है।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने शुक्रवार को ट्वीट करते हुए शहीदों को श्रद्धांजलि और साथ ही साथ मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए हमले को लेकर की गई जांच के बारे में पूछा है।

राहुल गांधी ने कहा कि आज के दिन अगर हम इन शहीदों को याद कर रहे तो हमें ये पूछना चाहिए कि इस हमले के चलते किसे फायदा हुआ ? पुलवामा आतंकी हमले को लेकर जांच का क्या परिणाम निकला ? सुरक्षा में हुई बड़ी चूक के चलते हुए हमले के लिए मोदी सरकार में किसकी जवाबदेही पर चर्चा हुई ?

 

बता दें कि जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में ठीक एक साल पहले 14 फरवरी 2019 को बड़ा आतंकी हमला हुआ था, जिसमें जम्मू-कश्मीर में एक सेना से भरी बस जा रही थी, तबी वहां आरडीएक्स (RDX) से भरी गाड़ी आई और जवानों की बस से टकरा गई। इसके बाद CRPF के जवानों से भरी गाड़ी उड़ गई, जिसके चलते 40 जवान शहीद हो गए थे।

इस आतंकी हमले को लेकर भारतीय सेना ने कड़ी कार्रवाई करते हुए इसका बदला लिया था और पाकिस्तान के आतंकी अड्डों पर बम बरसाएं थे। सूत्रों ने इस बात की पुष्टि की थी कि भारतीय सेना द्वारा की गई कार्रवाई के चलते करीब 250 से 300 आतंकवादियों को मौत के घाट उतार दिया गया। खुद इस बात की पुष्टि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने की थी जो उस वक्त बुरी तरह बौखला गए थे।

हालांकि यह बड़ा हमला ऐसे समय में हुआ था जब भारत में 3 महीने बाद लोकसभा के चुनाव होने थे। इसी को ध्यान में रखते हुए विपक्ष ने मोदी सरकार पर देश की सुरक्षा को लेकर कई तरह के सवाल उठाए थे। साथ ही सरकार के ऊपर लोकसभा चुनाव जीतने को लेकर की गई रैलियों में पुलवामा आतंकी हमले को लेकर बोलने का भी आरोप लगाया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here