महिला यात्री की सुरक्षा को लेकर रेलवे की खास पहल….. ‘मेरी सहेली’ अभियान के तहत मनचलों पर चलेगा चाबुक

Share

रवि श्रीवास्तव 

 

देश में महिलाओं के प्रति के बढ़ते क्राइम के बीच कैसे महिला ट्रेन में सुरक्षित सफर कर पाए इसकों ध्यान में रखते हुए रेलवे ने एक बड़ा कदम उठाया है,दरअसल महिला सुरक्षा को लेकर रेलवे बोर्ड ने एक खास पहल की है..जिसके तहत शुरूआती तौर पर रेलवे ने ‘मेरी सहेली’ अभियान चलाने का फैसला किया है

 

महिला सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए शुरू हुए इस अभियान में रेलवे पुलिस बल की महिला विंग को तैयार किया गया है। आरपीएफ की यह टीम महिला यात्रियों को जागरुक करेगी और अकेले सफर कर रही महिला यात्रियों से जानकारी लेगी।आइए आपकों बताते है कि आखिर ये योजना है क्या और ये महिला सुरक्षा के यात्रा के दौरान सार्थक साबित होगी

 

 

‘मेरी सहेली’ अभियान को जानिए

 

यात्रा को सुरक्षित बनाने के लिए योजना की शुरूआत हुई है

 

यात्रा के दौरान असहज होने पर महिला यात्री ‘मेरी सहेली’ टीम से अपनी बात कह सकती है

 

मेरी सहेली की टीम महिला यात्रा की पूरी मदद करेगी

 

मेरी सहेली अभियान के तहत आरपीएफ की स्पेशल टीम बनी है

 

मेरी सहेली टीम में केवल महिला कर्मचारियों को रखा गया है

 

टीम हर कोच में यह टीम महिला यात्रियों का हाल-चाल लेंगी

 

टीम की ये प्रक्रिया हर स्टेशन पर होगी

 

महिला टीम को 182 पर फोन करके सूचना दे सकती हैं

 

इस अभियान से काफी हद तक आपराधिक घटनाओं पर लगाम लग सकती है

 

फिल्हाल इसे मुंबई सेंट्रल–जयपुर सुपरफास्ट एक्सप्रेस ट्रेन

 

बांद्रा टर्मिनस–अमृतसर स्पेशल ट्रेन में शुरू किया गया है

 

सफल होने पर इसे आगे और विस्तार दिया जा सकता है

 

फिल्हाल क्राइम रेट को देखते हुए पश्चिम रेलवे द्वारा यह पहल मुख्य रूप से दो ट्रेनों में शुरू की गई है, जिनमें ट्रेन नंबर 12955 मुंबई सेंट्रल–जयपुर सुपरफास्ट एक्सप्रेस और ट्रेन नंबर 02925 बांद्रा टर्मिनस–अमृतसर स्पेशल ट्रेन शामिल है। दरअसल ये इसलिए भी जरूरी है क्योंकि त्योहारी सीजन के दिनों में रेलवे स्टेशन और ट्रेनों में आम दिनों से ज्यादा भीड़ देखने को मिलेगी। इस दौरान कोरोना से बचाव के लिए भीड़ के बीच कोरोना प्रोटोकॉल को सख्ती से लागू करना एक बड़ी चुनौती है। रेलवे का कहना है इसी को देखते हुए रेलवे ने खास इंतजाम किये हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *