उत्तर प्रदेश में बारिश का कहर : मकान ढहने से एक ही परिवार के चार लोगों की मौत, अलग-अलग हादसों में अब तक 7 की गई जान

 

देश भर के अलग-अलग राज्यों में हो रही बारिश लोगों के लिए अब मुश्किलें खड़ी कर रही है.  यूपी के सीतापुर (Sitapur) में तीन अलग-अलग हादसे में 7 लोगों की मौत हो गई. तेज बारिश होने से एक मकान के गिरने से उसके अंदर सो रहे मासूम बच्चों समेत आधा दर्जन लोग मलबे में दब गए. स्थानीय लोगों ने मलबे को हटाकर सभी को बाहर निकाला, इस पूरे हादसे में एक महिला और दो बच्चों समेत कुल 4 लोगों की मौत हो गई.  जबकि 2 गंभीर रूप से घायल हो गए

 

मलवे में दबे लोग 

 

तो वहीं मऊ में भी देर रात से हो रही तेज बारिश के चलते कच्चा मकान गिरने से परिवार के लोग मलवे में दब गए, यहां 2 लोगों की मौत के साथ दो जख्‍मी हो गए. मृतकों में एक 70 वर्षीय महिला और एक 9 वर्ष की बालिका शामिल है. मामला मोहम्दाबाद गोहना कोतवाली के ग्रामसभा ढाढाचवर का है.

 

 

गोंडा में लगातार हो रही बारिश से घाघरा का जलस्तर बढ़ने लगा है. पहली बार घाघरा खतरे के निशान से 10 सेंटीमीटर ऊपर हुई है. बढ़ते जलस्तर से हर वर्ष यहां कटाव होता रहा है. हर वर्ष भिखारीपुर सकरौर तटबंध की लाखों की आबादी बाढ़ की विभीषिका झेलने को मजबूर होती है , जिले के करनैलगंज और तरबगंज तहसील बाढ़ से प्रभावित होती है.

 

 

Share