उत्तराखंड के चमोली जिले में बचाव अभियान जारी, ITBP के जवान गांवों में पहुंचा रहे हैं राशन और जरूरी सामान

CHAMOLI

 

– कशिश राजपूत

 

 

उत्तराखंड के चमोली जिले में बचाव अभियान का आज सातवां दिन है | ग्लेशियर टूटने के कारण आई इस भीषण प्राकृतिक आपदा के चलते अब तक लगभग 38 लोगों की मौत हो चुके हैं और 150 से ज्यादा लोग अभी भी लापता हैं |

 

चमोली जिले के आपदा प्रभावित सुकी, लाता और भलगौन गांवों में भारत तिब्बत सीमा पुलिस (ITBP) के जवान लगातार राशन और जरूरी सामानों को पहुंचाने का काम कर रहे हैं | इलाके में पुल टूटने के कारण ये गांव पूरी तरह से अलग-थलग हो गए हैं |

 

 

 

उत्तराखंड पुलिस के DGP अशोक कुमार ने बताया कि कल यानी शुक्रवार को SDRF की टीम ने रैनी गांव के पास 4200 मीटर की ऊंचाई पर बनी एक झील का मुआयना किया था | झील से पानी लगातार डिस्चार्ज हो रहा है, यह खतरे के क्षेत्र में नहीं है | उन्होंने बताया कि टीम को रैनी के पास हैलीपेड तैयार करने के लिए जगह भी मिली है |

 

 

 

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *