Hanuman Ji: शनिदेव को करना चाहते है प्रसन्न तो हर शनिवार करें बजरंग बली की पूजा

Hanuman Ji
हनुमान जी

Hanuman Ji: सनातन धर्म (Sanatan Dharma) में कलयुग के देवताओं के रूप मे श्रीगणेश व श्रीराम भक्त हनुमान को माना जाता है. वहीं आदि पंच देवों में कलयुग के दृश्य देव सूर्यदेव माने जाते हैं. इन्हीं सूर्य देव के एक पुत्र जिन्हें न्याय का देवता भी कहा जाता है, शनिदेव(Shanidev) हैं। वहीं दूसरी ओर श्रीहनुमान गुरु स्वयं सूर्यदेव बताए गए हैं.मान्यता है कि शनिवार को हनुमान जी (Hanuman ji) की पूजा करने से शनिदेव अत्यंत प्रसन्न होते हैं और इससे भक्तों के शनि संबन्धी तमाम कष्ट दूर हो जाते हैं. शनीदेव और हनुमान जी की एक पौराणिक कथा बताई जाती है, जिसमें शनिदेव ने हनुमान जी को ये वचन दिया था कि जो भी हनुमान बाबा की पूजा करेगा, उसे वे कभी परेशान नहीं करेंगे. यहां जानिए उस कथा के बारे में.

यह भी पढ़ें:Marriage Tips: अगर मैरिज लाइफ में चाहते हैं सुख-शांति, तो शादी से पहले करें राशि मिलान

क्या है पौराणिक कथा

हनुमान जी और शनिदेव की ये कथा त्रेतायुग में रामायण काल से जुड़ी हुई है. कथा के अनुसार जब हनुमान बाबा राम जी का आदेश पाकर सीता माता को खोजते हुए लंका पहुंचे, तो देखा कि वहां शनिदेव को रावण ने बंदी बना रखा है और उल्टा लटका दिया है. शनिदेव का ये हाल देखने के बाद पवनपुत्र ने उन्हें रावण की कैद से मुक्त कराया. हनुमान जी की इस मदद से प्रसन्न होकर शनिदेव ने हनुमान जी से एक वर मांगने को कहा. तब हनुमान जी ने कहा कि आज से जो भी भक्त मेरी शनिवार के दिन पूजा करेगा, आप कभी भी उसे परेशान नहीं करेंगे. शनिदेव ने इस वचन पर हामी भर दी. तब से शनिवार के दिन हनुमान बाबा की पूजा होने लगी. कहा जाता है कि शनिवार के दिन हनुमान जी की पूजा करने वाले पर शनिदेव की भी कृपा बनी रहती है.

ऐसे करें पूजा

शनिवार के दिन स्नानादि के बाद मंदिर जाकर हनुमान जी को तांबे के लोटे में जल और सिंदूर मिश्रित कर श्री हनुमान जी को अर्पित करें. इसके बाद उन्हें गुड़, चने और केले का भोग लगाएं. उनके समक्ष सरसों के तेल का दीपक जलाएं और हनुमान जी के मंत्र ‘श्री हनुमते नम:’ मंत्र का जाप करें. हनुमान चालीसा पढ़ें. ऐसा करने से हनुमान बाबा और शनिदेव दोनों की कृपा मिलती है. अगर संभव हो तो आप शनिवार के दिन हनुमान जी पर चोला जरूर चढ़ाएं. चोला चढ़ाने से आपके तमाम संकट दूर हो जाते हैं.

यह भी पढ़ें:जीवन में धन का अभाव दूर कर देता है मां लक्ष्मी का ये स्तोत्र, जानिए इसके फायदे !

 मिलेंगे ये लाभ

अगर कुंडली में शनिदेव भारी हैं या आपसे नाराज हैे, शनि साढ़ेसाती, ढैय्या या महादशा की वजह से आप परेशान चल रहे हैं तो शनिवार के दिन आपको हनुमान बाबा की पूजा करनी चाहिए. हनुमान बा​बा की पूजा से आपको इन सभी कष्टों से मुक्ति मिल सकती है. इसके अलावा हनुमान जी की पूजा से आपको अन्य संकटों से भी राहत मिलती है.

यह भी पढ़ें:Holi 2022 : आर्थिक तंगी से हैं परेशान तो होलिका दहन के दिन करें ये उपाय