मुंबई में उद्धव ठाकरे और सीएम शिंदे के शिवसेना के कार्यकर्ताओं के बीच हाथापाई

Shinde vs Thackeray
CM Eknath Shinde and Uddhav Thackeray

उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) के नेतृत्व वाली शिवसेना और एकनाथ शिंदे (Shinde vs Thackeray) गुट के कार्यकर्ता गुरुवार को मुंबई की सड़कों पर एक बार फिर भिड़ गए। शिंदे गुट ने आरोप लगाया कि रात करीब नौ बजे ठाकरे नीत शिवसेना के कार्यकर्ताओं ने नारेबाजी की और एक कार्यक्रम को बाधित किया जिसके बाद उनके बीच हाथापाई हुई।

इलाके में तैनात महाराष्ट्र पुलिस (Maharashtra Police) ने बीच-बचाव करते हुए दोनों गुटों के कार्यकर्ताओं को खदेड़ दिया। बाद में उद्धव ठाकरे गुट के तीन कार्यकर्ताओं के खिलाफ धारावी थाने में शिकायत दर्ज करायी गयी है और मामले की जांच की जा रही है।

यह भी पढ़ें: पंजाब पुलिस ने ISI समर्थित आतंकी मॉड्यूल का भंडाफोड़ किया; 2 ऑपरेटिव पकड़े गए

इससे पहले दोनों गुटों के कार्यकर्ता ठाणे में एक पार्टी कार्यालय के बाहर भिड़ गए थे। ठाकरे के समूह के समर्थकों ने कथित तौर पर पार्टी कार्यालय से एक पोस्टर हटा दिया, जिसे बाद में शिंदे खेमे के कार्यकर्ताओं द्वारा कुछ अन्य पोस्टरों से बदल दिया गया। इससे दोनों समूहों के बीच झड़प हो गई और आक्रोशित कार्यकर्ताओं को शांत करने के लिए पुलिस को हस्तक्षेप करना पड़ा। पुलिस ने शिवसेना (Shiv Sena) पार्टी कार्यालय को भी बंद कर दिया।

इस बीच, शिवसेना के एकनाथ शिंदे (Eknath Shinde) गुट को एक बड़ा झटका लगा, बॉम्बे हाईकोर्ट ने उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली शिवसेना को मुंबई के प्रतिष्ठित शिवाजी पार्क में दशहरा रैली आयोजित करने की अनुमति दे दी (Shinde vs Thackeray)।

यह भी पढ़ें: मोहन भागवत ‘राष्ट्रपिता’ हैं, आरएसएस प्रमुख के मस्जिद जाने के बाद शीर्ष मुस्लिम मौलवी का बयान