उन्नाव मामले में ली जा रही है स्निफर डॉग की मदद, मामला बनता जा रहा है पेचीदा

Unnao case

 

-अक्षत सरोत्री

 

उन्नाव में (Unnao case) दो लड़कियों की मौत का मामला जैसे-जैसे समय गुजर रहा है कई तथ्य बदलते जा रहे हैं। कभी तो जैसे लग रहा है कि मामला ह्त्या का है तो कभी लग रहा हादसा लेकिन इन सबके बीच मामला वहां उलझता नजर आ रहा है जब मृतक परिवारों के बयान आपस में मेल नहीं खा रहे हैं। पुलिस भी गहनता से मामले की जांच कर रही है। लोगों का आक्रोश लगतार बढ़ता जा रहा है।

 

गुरलाल हत्या मामले में लॉरेंस विश्नोई गैंग ने ली जिम्मेदारी, फेसबुक पर डाली पोस्ट

 

आज की जांच में निकल कर आए यह तथ्य

 

दो लड़कियों की संदिग्ध (Unnao case) मौत की जांच कर रही पुलिस को एक अहम सुराग हाथ लगा है। पुलिस को पता चला है कि घटना वाले दिन यानी बुधवार दोपहर घर से निकलते वक्त लड़कियों ने गांव की एक दुकान से चिप्स के पैकेट लिए थे और खाए भी थे। पुलिस ने दुकान से बाकी बचे नमकीन के सारे पैकेट जब्त कर लिए हैं।

 

 

अलग-अलग बिंदुओं पर जांच कर रही है पुलिस

 

 

इस मामले में पुलिस कई बिंदुओं पर (Unnao case) जांच कर रही है। हत्या, आत्महत्या और हादसे के बीच उलझी इस गुत्थी में पुलिस यह भी समझने की कोशिश कर रही है कि आखिरकार घटना के दिन हुआ क्या था? इसके लिए फॉरेंसिक जांच से लेकर स्निफर डॉग तक लगाए गए हैं। मौका-ए-वारदात पर स्निफर डॉग के जरिए जांच करने में इस मामले का एक नया पहलू भी निकल कर सामने आया है।

 

खोजी कुत्तों की ली जा रही है सहायता

 

 

खोजी कुत्तों के जरिए (Unnao case) पुलिस घटनास्थल के पास जांच कर रही थी तभी उसे पता चला कि कुत्ता घटनास्थल पर सूंघने के बाद बार-बार एक दुकान की तरफ दौड़ रहा है। जब पुलिस ने इस पर निगरानी की तो खोजी कुत्ता पास के ही एक घर में घुस गया। जानकारी करने पर पता चला कि यह घर साबिर नाम के एक दुकानदार का है जिसकी दुकान पर रोजमर्रा की छोटी-मोटी चीजों समेत खाने पीने का सामान मिलता है। जब खोजी कुत्ता वहां बार-बार जाने लगा तो पुलिस अधिकारियों ने साबिर से पूछताछ की। पता चला कि घटना वाले दिन यानी बुधवार दोपहर घर से निकलते वक्त लड़कियों ने उसकी दुकान से नमकीन के पैकेट लिए थे और जाते वक्त खाए भी थे।

 

 

नमकीन के बंद पैकेटों में कैसे मिलाया जा सकता है जहर?

 

 

अब इस मामले पर हम रोशनी डाले तो सोचने बाली बात यह है कि नमकीन (Unnao case) के बंद पैकेटों में जहर कैसे मिलाया जा सकता है अगर पहले से ही मिलाया गया था तो आखिर निशाने पर कोन था। हाँ अगर बाद में नमकीन में कुछ मिलाया गया यानी खेतों में तो फिर स्निफर डॉग दूकान के चक्कर क्यों काट रहे हैं। इस मामले में ऐसे कई सवाल हैं जो पुलिस को ढूढनें होंगे और मामला काफी पेचीदा भी है।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *