चिंतन शिविर में बोली सोनिया गांधी- ‘कांग्रेस ने हमें सब कुछ दिया, अब कर्ज चुकाने का समय’

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तीखा प्रहार किया और आरोप लगाया कि उनके ‘न्यूनतम सरकार, अधिकतम शासन’ (मिनिमम गवर्नमेंट, मैक्सिमम गवर्नेंस) का मतलब लगातार ध्रुवीकरण करना और डर का माहौल बनाना है. उन्होंने कांग्रेस के ‘नवसंकल्प चिंतन शिविर’ की शुरुआत के मौके पर पार्टी में बड़े सुधार की बात की और नेताओं का आह्वान किया कि वे ‘विशाल सामूहिक प्रयासों के जरिये पार्टी में नई जान फूंकें क्योंकि अब पार्टी का कर्ज उतारने का समय आ गया है.’

उन्होंने कहा, “हमारे महान संगठन की ओर से समय समय पर लचीलेपन की उम्मीद की जाती रही है. एक बार फिर हमसे उम्मीद की जा रही है कि हम अपना समर्थन और साहस की भावना का परिचय दें.” सोनिया गांधी ने कहा, “हमारे संगठन के समक्ष परिस्थितियां अभूतपूर्व हैं. असाधारण परिस्थितियों का मुकाबला असाधारण तरीके से किया जाता है… हमें सुधार की सख्त जरूरत है. रणनीति में बदलाव की जरूरत है.

ये भी पढ़े : दुबई के राष्ट्रपति शेख खलीफा बिन जायद का 73 साल की उम्र में निधन, देश में 40 दिन का राष्ट्रीय शोक

ये भी पढ़े : Jammu Kashmir : राहुल भट की हत्या के बाद 350 से अधिक कश्मीरी पंडितों का इस्तीफा