बिहार में पिता रामविलास पासवान की सियासी विरासत संभालेंगे चिराग पासवान, जानिए चिराग के लिए कितनी दौलत छोड़ गए हैं पिता

Spread the love

रवि श्रीवास्तव 

बिहार में दलितों के सबसे बड़े नेता रामविलास पासवान चुनाव से ठीक पहले दुनिया छोड़ गए, बीमारी की वजह से उनका निधन हो गया, करीब 5 दशकों से राजनीति में सक्रिय रामविलास पासवान राज्यसभा सांसद के साथ-साथ केंद्रीय मंत्री थे, उनके बेटे चिराग पासवान बिहार के जमुई से सांसद है, पिता की गैरमौजूदगी में अब चिराग ही पार्टी को संभाल रहे हैं और एनडीए से अलग होकर लड़ने के लिए मैदान में हैं, लेकिन आखिर ये लड़ाई कितनी आसान होगी और आखिर बेेटे के लिए पिता क्या छोड़कर गए हैं इस पर एक नजर

एक रिपोर्ट के मुताबिक रामविलास पासवान के पास  1 करोड़ 41 लाख से ज्यादा की संपत्ति थी.जिसके वारिस अब चिराग होंगे। इसमें से 1.6 करोड़ रुपये की चल संपत्ति और 21.30 लाख रुपये के जेवर हैं. उन्होंने यह भी बताया था कि करीब 82 लाख रुपए उनके बैंक खाते में जमा हैं. इसके अलावा पासवान के पास 22 लाख रुपए की खेती की जमीन और 13 लाख रुपए कीमत की साधारण जमीन है

पिता से ज्यादा अमीर थे चिराग !

दौलत के मामले में चिराग पासवान पिता से भी आगे थे, बॉलीवुड में अपनी किस्मत आजमा चुकें चिराग फिल्हाल छह कंपनियों के मालिक हैं. उनके पास 1.84 करोड़ रुपये से ज्यादा की संपत्ति है. जमुई के सांसद चिराग पासवान के पास पटना में 90 लाख का एक बंगला है.

पिता की विरासत का ऐेसे मिलेगा फायदा

रामविलास पासवान के चश्म-ओ-चिराग के लिए बिना पिता के बिना लड़ाई जितनी मुश्किल होगी उससे अलग साहूभूति का फायदा मिलना उतना ही तय है, चिराग अपने दम पर अगर पार्टी को जीत दिलाते हैं तो उनका कद बिहार की राजनीति में मुख्यमंत्री पद तक बढ़ सकता है, रामविलास पासवान की पैठ दलितों के साथ-साथ अगड़ो  में भी थी ऐसे में पिता के नाम पर वोट मांगने से चिराग की सिसासी नैया पार भी लग सकती है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *