सजा देने को लेकर बोले तालिबानी मंत्री, ‘हाथ काटना और फांसी की सजा देना बहुत जरूरी’

 

अफगानिस्तान में तालिबान के कब्जे के बाद से ही तालिबानी सरकार हर दिन नया फरमान निकाल रही है. तालिबान ने अपने पिछले शासनकाल के दौरान क्रूर तरीके से शासन चलाया था. उस दौरान छोटी से छोटी गलतियों पर मौत की सजा सुना दी जाती थी. महिलाओं को किसी भी तरह के अधिकार नहीं दिए गए थे. वहीं, दुनियाभर को इस बात की चिंता है कि कहीं एक बार फिर 90 के दशक वाला दौर फिर न लौट आए.

 

‘सुरक्षा के लिए हाथ काटना बहुत जरूरी’: नूरुद्दीन तुराबी

नूरुद्दीन तुराबी ने कहा, ‘स्टेडियम में सजा के लिए सभी ने हमारी आलोचना की. लेकिन हमने उनके कानूनों और उनकी सजा के बारे में कभी कुछ नहीं कहा. हमें कोई नहीं बताएगा कि हमारे कानून क्या होने चाहिए. हम इस्लाम का पालन करेंगे और हम कुरान के आधार पर अपने कानून बनाएंगे.’ उन्होंने कहा, ‘सुरक्षा के लिए हाथ काटना बहुत जरूरी. ऐसी सजा देना अपराध रोकने के लिए बेहद जरूरी है.’ तुराबी ने कहा, ‘कैबिनेट अभी इस बात का अध्य्यन कर रहा है कि क्या दोषियों को सार्वजनिक रूप से सजा देना है या नहीं. इस मुद्दे पर एक नीति को तैयार किया जा रहा है.’

Share