Trump: महाभियोग पर डेमोक्रेट्स के नेताओं ने भी दिया रिपब्लिकन पार्टी का साथ

Trump

 

 

-अक्षत सरोत्री

 

 

अमेरिका में इस समय उठक-पठक वाली राजनीति चल रही है। अमेरिका के हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव्स ने निवर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Trump) पर महाभियोग के लिए सत्र की कार्यवाही शुरू कर दी है। पिछले हफ्ते कैपिटल बिल्डिंग में हुए हमले को लेकर ट्रंप की भूमिका पर निचले सदन में उन पर महाभियोग के लिए वोटिंग हो रही है।

 

 

 

हिंसा का दोषी ठहराया था

 

 

डेमोक्रेट्स की तरफ से संसद पर हमले का जिम्मेदार ट्रंप (Trump) को ठहराया गया है। डेमोक्रेट्स का कहना है कि ट्रंप ने अपने समर्थकों के समक्ष कुछ उकसाने वाले बयान दिए, जिस कारण ही उन्मादी भीड़ अमेरिकी संसद में घुसी. इस घटना में पांच लोगों की मौत हो गई थी। एनबीसी न्यूज के मुताबिक 215 डेमोक्रेट्स सांसद और 5 रिपब्लिकन सांसदों ने ट्रंप के खिलाफ महाभियोग का समर्थन किया है।

 

 

महाभियोग के लिए 218 मतों की जरूरत होगी

 

 

महाभियोग के लिए 218 मतों की जरूरत (Trump) होती है। हाउस के प्रमुख नेता होयर का कहना है कि वह महाभियोग के लिए आर्टिकल को अमेरिकी सीनेट को तुरंत भेजेंगे। महाभियोग प्रस्ताव पर वोटिंग के साथ ही ट्रंप अमेरिका के इतिहास में पहले ऐसे राष्ट्रपति बन जाएंगे। गौरतलब है कि स्पीकर नैंसी पेलोसी ने शुक्रवार को एक बयान जारी कर कहा था कि ट्रंप को तुरंत पद से इस्तीफा देना होगा, अगर ऐसा नहीं होता है तो निवर्तमान राष्ट्रपति माइक पेंस और कैबिनेट 25वें अमेंडमेंट के जरिए उन्हें राष्ट्रपति कार्यालय से बाहर का रास्ता दिखा देगी।

 

 

25वें अमेंडमेंट को लागू करने से इनकार करते हैं Trump तो होगा महाभियोग

 

 

यदि पेंस 25वें अमेंडमेंट को लागू करने से इनकार कर देते हैं, तो सदन ट्रंप के खिलाफ दूसरी बार महाभियोग की कार्रवाई शुरू करेगा। दूसरी तरफ, अमेरिकी संसद भवन पर हमले के बाद न्यूयॉर्क शहर डोनाल्ड ट्रंप के साथ कारोबारी समझौते समाप्त करेगा। यह घोषणा बुधवार को शहर के मेयर बिल डे ब्लासियो ने की। उन्होंने कहा कि न्यूयॉर्क शहर ट्रंप ऑर्गेनाइजेशन के साथ सभी कारोबारी समझौते समाप्त कर रहा है। ट्रंप ऑर्गेनाइजेशन के पास शहर की कई परियोजनाओं से जुड़े करार थे।

 

 

ननकाना साहब हमले के दोषियों को 3 साल की सजा, लाहौर की अदालत ने सुनाया फैसला

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *