हीरानगर में मिली सुरंग ने खोली पाकिस्तान की आतंक फैलाने की पोल

Tunnel found

 

-अक्षत सरोत्री

 

पाकिस्तान एक तरफ तो इंटरनेशनल स्तर पर यह जताता है कि वो घुसपेठ के बिलकुल खिलाफ है। लेकिन उसकी हरकतें जो सीमा पर आये दिन वो करता है उससे यह साबित हो जाता है कि वो कभी नहीं सुधर सकता। सीमा सुरक्षा बल ने कठुआ के हीरानगर में सीमा के पास एक (Tunnel found) सुरंग का पता लगाया है। अंतरराष्ट्रीय सीमा पर सुरंग मिलने से पाकिस्तान की आतंकियों को भारतीय सीमा में भेजने की एक और करतूत सामने आई है।

 

Tunnel found

 

 

 

अभियान के दौरान बीएसएफ को मिली यह सुरंग

 

Tunnel found

 

 

एक अभियान के दौरान सुबह बोबिया गांव में बीएसएफ के जवानों (Tunnel found) द्वारा आतंकवादियों की घुसपैठ की सुविधा के लिए सीमा पार से बनाई गई सुरंग का पता चला। बीएसएफ के वरिष्ठ और पुलिस अधिकारी घटनास्थल पर पहुंच गए हैं। इस सुरंग की लंबाई करीब 150 मीटर है। साथ ही सुरंग से सीमेंट की बोरियां बरामद हुई हैं। जोकि पाकिस्तान के कराची की बनी हुई हैं।

 

 

Tunnel found

 

 

 

इससे पहले अगस्त 2020 में सांबा के पास मिली थी सुरंग

 

 

Tunnel found

 

 

इससे पहले अगस्त 2020 में सांबा के सीमावर्ती गांव बैन ग्लाड की (Tunnel found) सीमा पर एक सुरंग मिली थी। सीमा से पचास मीटर दूर मिली इस सुरंग में पाकिस्तान निर्मित बोरियां बरामद हुई थीं। जिनमें बालू (रेत) भरी हुई थी। बता दें कि इससे पहले भी सीमा से सटे कई इलाकों में सुरंग मिल चुकी हैं। बीएसएफ को सांबा क्षेत्र में सुरंग के बारे में इनपुट मिल रहे थे। इसके मद्देनजर विशेष टीमों को इसका पता लगाने के लिए निर्देश दिए गए थे।

 

 

एलओसी पर सख्ती के बाद यह नया हथकंडा अपना रही है पाकिस्तानी सेना

 

 

Tunnel found

 

 

एलओसी पर सख्ती के बाद (Tunnel found) पाकिस्तान ने आतंकियों को धकेलने के लिए अंतरराष्ट्रीय सीमा का इस्तेमाल करना शुरू कर दिया है। पुलवामा हमले में शामिल आतंकी भी अंतरराष्ट्रीय सीमा से ही घुसपैठ कर दाखिल हुए थे। इसकी पुष्टि एनआईए की ओर से दाखिल चार्जशीट में हो चुकी है। नगरोटा हमले के बाद जिसमें आतंकियों के अंतरराष्ट्रीय सीमा से घुसपैठ की खबरें आई थी, बीएसएफ की ओर से बार्डर इलाकों में ऑपरेशन सुदर्शन चलाया गया था। इसके तहत बार्डर से सटे इलाकों में रहने वाले लोगों तथा ढोक में रहने वालों की सूची बनाई गई थी।

 

 

इन सुरंगों के माध्यम से घुसपेठ होनी थी या हो चुकी थी

 

 

सुरंग मिलने से सीमा क्षेत्र में सनसनी का माहौल है। फिलहाल सोचने वाली बात यह है कि इस सुरंगों का पाकिस्तान प्रयोग कर चुका था या फिर करने बाला था क्योंकि अगर प्रयोग हो चुका है तो फिर तो कोई बात नहीं अगर हाल ही में इनका प्रयोग किया गया है। सोचने वाली बात और सुरक्षा एंजसियों के लिए भी अलर्ट का विषय है।

 

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *