मतदाता डाटा चोरी मामले में चिलुमे के सह-संस्थापक के घर से दो कंप्यूटर जब्त

बेंगलुरु

बेंगलुरु 24 नवंबर (वार्ता): कर्नाटक के बेंगलूरू में पुलिस ने मतदाता डाटा चोरी मामले में चिलुमे के सह-संस्थापक कृष्णप्पा रविकुमार के घर से दो कंप्यूटर जब्त किए। पुलिस ने आज यहां बताया कि जब्त किये गये कंप्यूटरों की विशेषज्ञों से जांच करायी जा रही है। रविकुमार मतदाता डाटा चोरी मामले में मुख्य आरोपी हैं। वह चिलुमे एजुकेशनल कल्चरल एंड रूरल डेवलपमेंट ट्रस्ट चलाता हैं उसपर मतदाताओं की व्यक्तिगत जानकारी एकत्र करने का आरोप है।

पुलिस ने इस मामले में बीबीएमपी के लिए काम करने वाले 45 चुनावी पंजीकरण अधिकारियों और उनके सहायकों से भी पूछताछ की। उन्होंने चिलुमे के कर्मचारियों को जारी किए गए आईडी कार्ड पर कथित रूप से हस्ताक्षर किए थे। पुलिस ने उनके बयान दर्ज कर लिये है और कहा जरूरत पड़ने पर पुलिस के सामने पेश फिर से पेश होने के लिए कहा हैं। बीबीएमपी के मुख्य आयुक्त ने बुधवार को चिलुमे ट्रस्ट के कर्मचारियों को घर-घर सर्वे करने के लिए आईडी कार्ड जारी करने के लिए तीन राजस्व अधिकारियों को निलंबित कर दिया था।