UP Election Survey 2022 : क्या यूपी चुनाव में दिखेगा किसान आंदोलन का असर ?

UP Election Survey 2022
UP Election Survey 2022

UP Election Survey 2022 : Jk24x7News ने उत्तर प्रदेश में 2022 में होने वाले चुनावों को लेकर एक बड़ा सर्वे किया है। इस सर्वे में उत्तर प्रदेश की हर सटीक जानकारी लोगों तक पहुंचाने की कोशिश की गई है। उत्तर प्रदेश पूरे देश के लिए एक बहुत बड़ा चुनाव होता है, क्योंकि यह माना जाता है कि उत्तर प्रदेश ही देश की आगे की दशा और दिशा तय करता है। उत्तर प्रदेश एक ऐसा राज्य जहाँ सबसे ज्यादा विधानसभा सीटों के लिए भिड़ंत होती है। इसलिए यह माना जाता है कि उत्तर प्रदेश का चुनाव सबसे बड़ा चुनाव है। बता दें कि उत्तर प्रदेश में 403 सीटों पर चुनाव लड़ा जाना है।

यह सर्वे 15 दिसंबर से 25 दिसंबर तक किया गया। यानी 10 दिनों तक यह बड़ा सर्वे Jk24x7News ने चलाया। जो आंकड़े हम आपके सामने पेश करेंगे। बड़ी बात है कि इस सर्वे में महिलाओं ने भी खुलकर हिस्सा लिया। महिलाओं ने इस सर्वे 30 प्रतिशत हिस्सा लिया है।

यह भी पढ़ें : UP Election Survey 2022 : सर्वे के मुताबिक़ जानिए क्या होना चाहिए उत्तर प्रदेश का चुनावी एजेंडा ?

UP Election Survey 2022 : सवाल – क्या यूपी चुनाव में दिखेगा किसान आंदोलन का असर ?

UP Election Survey 2022
UP Election Survey 2022

केंद्र सरकार साल 2020 में 3 कृषि कानून लेकर आई थी। जिन कानूनों के आने के बाद विपक्ष के साथ साथ देशभर के किसानों ने नकार दिया था। इस कानून को काला कानून तक बताया गया था। इसके बाद किसानों ने इस कानून के खिलाफ आंदोलन छेड़ दिया था। यह आंदोलन काफी बड़े स्तर पर हुआ था। राजधानी दिल्ली को किसानों ने चारों ओर से घेर लिया था और लगातार इन कानूनों को वापस लेने की मांग की गई।

इस सब के बाद सरकार ने साल 2021 के शीतकालीन सत्र के दौरान कृषि कानूनों को वापस ले लिया। खुद पीएम नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन में कृषि कानून को वापस लेने की बात कही। शायद ये पहली बार था जब मोदी सरकार में कोई कानून वापस ले लिया गया। ऐसे में ये एक बड़ा सवाल है कि क्या किसान आंदोलन का असर यूपी में होने वाले चुनावों पर पड़ेगा ? आइए जानते हैं क्या कहता है Jk24x7News का चुनावी सर्वे :

UP Election Survey 2022
UP Election Survey 2022

Jk24x7News, UP Election Survey : इस सर्वे के मुताबिक़ 76 प्रतिशत लोगों का मानना है कि हां, यूपी चुनाव में किसान आंदोलन का असर दिखने वाला है। यानी किसान आंदोलन को मद्देनज़र रख कर लोग अपनी सरकार चुनने वाले हैं। ऐसे में इस सर्वे के अनुसार बीजेपी सरकार को इसका नुकसान उठाना पड़ सकता है।

इसी के साथ ही 48 प्रतिशत लोगों का मानना है कि नहीं, इस चुनाव में किसान आंदोलन का असर नहीं दिखेगा। साथ ही 5 प्रतिशत लोगों को इस बारे में जानकारी नहीं है।

यह भी पढ़ें : UP Election Survey 2022 : उत्तर प्रदेश चुनाव से पहले राज्य में किस पार्टी को मिली कितनी सीटें

Chetan Baghel