सूर्य ग्रहण 2021: बुरे प्रभाव से बचने के लिए, सूर्य ग्रहण की समाप्ति के बाद करें ये उपाय!

करिश्मा राय

 

10 जून यानी आज साल का पहला सूर्य ग्रहण है. भारतीय समय के अनुसार सूर्य ग्रहण दोपहर 1:42 मिनट पर लगेगा और शाम 6 : 41 मिनट पर खत्म होगा. शास्त्रों के अनुसार सूतक के नियम वहीं माने जाते हैं, जहां ये ग्रहण दिखाई देता है. भारत में यह सूर्य ग्रहण आंशिक रूप से होगा  इसलिए सूतक काल मान्य नहीं होगा. आज का सूर्य ग्रहण उत्तरी अमेरिका, यूरोप, एशिया में आंशिक रूप में दिखाई देगा. जबकि ग्रीनलैंड, उत्तरी कनाडा और रूस में पूर्ण सूर्य ग्रहण देखने को मिलेगा. वहीं भारत में सिर्फ लद्दाख और अरुणाचल प्रदेश में दिखाई देगा.

 

ग्रहण का धार्मिक महत्व

धार्मिक दृष्टि से किसी भी ग्रहण का काफी महत्व माना गया है. ऐसे में ग्रहण काल में कुछ कार्यों को करने की मनाही होती है. खासकर गर्भवती महिलाओं को इस दौरान अपने गर्भ में पल रहे बच्चे का ख्याल रखना होता है. इसलिए ग्रहण की समाप्ति के बाद भी कुछ चीजों का पालन जरुर करना चाहिए जिससे कि ग्रहण के बुरे प्रभाव से बचा जा सके.

 

ग्रहण समाप्ति के बाद करें ये उपाय:

  • ग्रहण की समाप्ति के बाद स्नान जरूर करना चाहिए और ग्रहण काल में पहने गए वस्त्रों का दान कर देना चाहिए.
  • ग्रहण की समाप्ति के बाद घर की सफाई जरूर करें. साथ ही घर के मंदिर को साफ कर भगवान की मूर्तियों पर गंगाजल छिड़क उसे पवित्र कर लें.
  • ग्रहण के बाद अपने पितरों को याद करते हुए दान करें इससे ग्रहण का बुरा असर नहीं पड़ता है.
  • घर में अगर तुलसी का पौधा है तो ग्रहण के बाद उस पर गंगाजल छिड़कर उसे पवित्र कर लें.
  • ग्रहण के बाद गाय को रोटी खिलाने से ग्रहण का बुरा प्रभाव नहीं पड़ता.
  • मान्यता अनुसार ग्रहण का सबसे ज्यादा प्रभाव गर्भवती स्त्रियों पर पड़ता है इसलिए इन्हें ग्रहण की समाप्ति के बाद तुरंत स्नान कर लेना चाहिए.
  • मान्यता है कि सामान्य दिन से ग्रहण में किया गया पुण्य कर्म 1 लाख गुना फलदायी होता है.
  • ग्रहण के बाद भगवान शिव की अराधना करना भी काफी अच्छा माना जाता है और हो सके तो निर्धन व्यक्ति को सफेद वस्तु का दान करें.
Share